यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

बोमडिला पर्यटन- एक खू़बसूरत आनंद

समुद्र तल से 8000 फीट की ऊँचाई पर स्थित एक छोटा सा शहर बोमडिला अरुणाचल प्रदेश के सबसे अधिक मनोरम स्थानों में से एक है। विशाल पूर्वी हिमालय पर्वतमाला के प्राकृतिक परिवेश के बीच बसा बोमडिला यहाँ आने वालों के लिए एक आनंदमयी शांत शहर है। अपनी प्राकृतिक सुंदरता के अलावा बोमडिला बौद्ध मठों के लिए भी जाना जाता है। बहुत सारे ट्रेकिंग ट्रेल्स होने के कारण यह शहर रोमांचकारियों को आकर्षित करता हैं।

बोमडिला तस्वीरें,  ईगलनेस्ट वन्यजीव अभयारण्य - लाल पांडा
Image source: en.wikipedia.org
सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें

बोमडिला- एक संक्षिप्त इतिहास

इतिहास के अनुसार मध्यकालीन युग के दौरान बोमडिला तिब्बती राज्य था। इसके अलावा ऐसा कहा जाता है कि स्थानीय शासक और भूटान के शासक भी इस समय इस शहर पर शासन करने में सम्मिलित थे। 1873 में ब्रिटिश शासन के दौरान यह क्षेत्र सीमा से बाहर घोषित कर दिया गया था। बोमडिला के आसपास के क्षेत्र पर 1962 में चीन ने हमला किया लेकिन बाद में सैनिक पीछे हट गए थे। अरुणाचल प्रदेश का यह भाग 1947 से भारत और चीन के बीच एक विवाद का विषय रहा है।

बोमडिला के पर्यटन स्थल

एक पर्यटन स्थल के रूप में बोमडिला बहुत महत्वपूर्ण हो गया है। अरुणाचल प्रदेश के पश्चिमी कामेंग जि़ले का मुख्यालय होने के कारण प्रकृति की भरपूर सुंदरता को देखने के लिए यह शहर सबसे अच्छा है। बोमडिला से पर्यटक बर्फ से ढकी चोटियों के साथ हिमालय के आकर्षक क्षेत्र को देख सकते हैं। इसके अलावा इस शहर में कुछ बौद्ध मठ अथवा गोम्पा हैं जहाँ यात्री घूमने के लिए जा सकते हैं। बोमडिला में यात्री स्थानीय तिब्बती व्यंजनों जैसे मोमोस तथा थूपा का मज़ा ले सकते हैं।

खूबसूरत शहर बोमडिला में घूमने के बाद पर्यटक यहाँ से स्मृति चिन्ह खरीद सकते हैं। बोमडिला अपनी पारंपरिक हस्तशिल्प के लिए प्रसिद्ध है जो शहर के मुख्य शिल्प केंद्र और अन्य दुकानों ये खरीदा जा सकता है। पर्यटकों के लिए ऊनी कालीनों और परंपरागत मास्क की एक बड़ी वैरायटी उपलब्ध है। शिल्प केंद्र, तीन बौद्ध मठ जिन्हें लोअर गोम्पा, मध्य गोम्पा और उच्च गोम्पा कहा जाता है, बोमडिला में घूमने के लिए अच्छे स्थान हैं।

बोमडिला आने पर इसके उत्तर में तवांग नामक एक छोटा सा अद्भुत शहर देखा जा सकता है क्योंकि यहाँ से पहाड़ी इलाकों का शानदार दृश्य देखा जा सकता है। तवांग समुद्र तल से 3400 मी. ऊपर स्थित है जिसमें करीब 400 साल पुरानी एक मध्य सत्रहवीं सदी का बौद्ध मठ है। इसके अलावा बोमडिला में सेसा आर्किड अभयारण्य, ईगलनेस्ट वन्यजीव अभयारण्य और कामेंग हाथी रिज़र्व भी है जहाँ आने पर आप प्रकृति की सुंदरता का आनंद ले सकते हैं।

बोमडिला का मौसम

बोमडिला कम गर्मी और लंबी सर्दियों के साथ एक अल्पाइन जलवायु वाला इलाका है।

कैसे पहुँचे बोमडिला

सड़क मार्ग से बोमडिला तेजपुर लगभग से 80कि.मी. और तवांग से 160कि.मी. दूर है। यदि आप कार से यात्रा करने के इच्छुक नहीं हैं तो आप बोमडिला तक पहुँचने के लिए बस सेवाएं ले सकते हैं।

Please Wait while comments are loading...