रोमांच से भरपूर है लेह लद्दाख की मारखा घाटी ट्रेकिंग
सर्च
 
सर्च
 

चंबा - किसी स्वर्ग से कम नहीं

चंबा एक खुबसूरत पर्यटन स्थल है जो की उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले में स्थित है जिसकी उचाई समुद्री तट से लगभग 1524 मीटर की है। यह जगह अपने प्राकृतिक परिवेश और प्रदूषण रहित खूबसूरती क लिए पर्यटकों के बीच लोकप्रिय है। देवदार और चीड़ के पेड़ों से घिरा हुआ, चंबा का अन्नवेषित इलाका प्रकृति प्रेमियों के लिए एक सपनों की दुनिया के सामान है।

क्या है चंबा के आस पास

यह हिल स्टेशन अपने सेब और खुबानी के बाग और साथ ही साथ बुरांश के फूलों के लिए माना जाता है। टिहरी बांध, सुरकंडा देवी मंदिर और ऋषिकेश की ओर बढ़ रहे पर्यटकों के लिए चंबा एक आदर्श ठहराव स्थल के रूप में कार्य करता है। गब्बर सिंह नेगी मेमोरियल और श्री बागेश्वर महादेव मंदिर कुछ ऐसी लोकप्रिय जगह हैं जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं।

चम्बा घूमने गए यात्रियों के लिए गब्बर सिंह नेगी के स्मारक काफी लोकप्रिय है। इसका निर्माण 1925 में ठाकुर गब्बर सिंह के सम्मान में बनाया किया गया था जिन्होंने सन 1913 में गढ़वाल राइफल्स में बंदूकधारी सैनिक के रूप में अपनी सेवाएँ दी थीं और साथ ही साथ प्रथम विश्व युद्ध के दौरान जर्मनी में अपनी बटालियन के साथ लड़े और युद्ध में विजय हासिल की। अपनी बहादुरी के लिए, उन्हे सर्वोच्च वीरता पुरस्कार, मरणोपरांत विजय क्रॉस के साथ सम्मानित किया गया। हर साल 21 अप्रैल को गढ़वाल रेजिमेंट इस महान योद्धा को अपनी श्रद्धांजलि देती है।

श्री बागेश्वर महादेव मंदिर, चंबा में एक और प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षण है। यह एक लोकप्रिय धार्मिक स्थल है, जहाँ पर्यटक हर साल आते जाते हैं। यह मंदिर हिंदू भगवान, विनाश शिव के लिए समर्पित है और जो हिंदुओं के बीच एक महान धार्मिक महत्व रखती है। माना जाता है कि मंदिर में मौजूद शिवलिंग रहस्यमय तरीके से जमीन के नीचे से निकल के बहर आया था। शिवरात्रि जो की हिन्दुओं का त्योहार है वो यहाँ काफी हर्शोउल्लास के साथ मनाया जाता है।

कैसे जाएं चंबा

यात्रि चंबा जाने के लिए वायु, रेल और सड़क मार्ग से पहुँच सकते हैं। देहरादून में जॉली ग्रांट सबसे निकटतम हवाई अड्डा है। यह चंबा से 80 किमी की दूरी पर स्थित है और यहाँ से आप को दिल्ली के इंदिरा गाँधी इंटरनेशनल एअरपोर्ट के लिए नियमित उड़ानें मिल जाएँगी। यात्री जॉली ग्रांट से चंबा के लिए टैक्सी किराये पे ले सकते है।

ऋषिकेश रेलवे स्टेशन निकटतम रेलवे स्टेशन है, जो चंबा से लगभग 60 किमी की दूरी पर स्थित है। हिल स्टेशन पहुचने के लिए यात्री यहाँ से टैक्सी किराये पे ले सकते हैं। यहाँ से आप को निकट के शहरों के लिए बसें और टैक्सियां मिल जाएँगी। श्रीनगर, देहरादून, टिहरी, देवप्रयाग, उत्तरकाशी, मसूरी, और ऋषिकेश से आप को चंबा के लिए काफी बसें मिल जाएँगी।

चंबा का मौसम

सामान्य व सुहाना मौसम होने की वजह यहाँ साल भर सैलानियों को देखा जा सकता है। गर्मी के मौसम के दौरान अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जाता है, जबकि न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है। जुलाई के महीने में इस क्षेत्र में मानसून के मौसम की शुरुआत हो जाती है। मानसून के दौरान चंबा में सामान्य से कम बारिश होती है। बारिश के मौसम के तुरंत बाद सर्दियों का मौसम लग जाता है जो कि नवंबर के महीने से शुरू होता है। इस दौरान न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जाता है।

चंबा जाने का सबसे अच्छा समय

हालांकि यात्रि साल के किसी भी समय चंबा घुमने के लिए जा सकते है, फिर भी ये ही सलाह दी जाती है की जब सर्दियाँ अपने खुमार पर होती है उस समय यहाँ यात्रा नहीं करें। मार्च और जून के बीच की अवधि, दर्शनीय स्थलों की यात्रा और अन्य बाहरी गतिविधियों के लिए आदर्श माना जाती है।

सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें
Please Wait while comments are loading...