रोमांच से भरपूर है लेह लद्दाख की मारखा घाटी ट्रेकिंग
सर्च
 
सर्च
 

देवगढ़ पर्यटन-  पर्यटन के साथ राजसी तरीके से ज़िन्दगी जीयें

देवगढ़ उत्तर प्रदेश का खेती प्रधान गाँव है जो मध्य प्रदेश के ग्वालियर की सीमा पर स्थित है। यह शहर अपने भव्य स्मारक जो गुप्त काल के समय की हैं, जैसे बेतवा नदी के किनारे स्थित किला और जैन और हिन्दू उत्पत्ति के कई स्मारक के लिए मशहूर है।

देवगढ़ तस्वीरें, जैन मंदिर - पत्थर को तराश का बनाई गयी मूर्तियाँ
Image source: commons.wikimedia.org
सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें

देवगढ़ के आस पास के पर्यटन स्थल

देवगढ़ पर्यटन पर्यटकों को प्राचीन स्मारक और मंदिर जैसे दशावतार मंदिर और उत्तरी भारत में बसा पंच्यातन मंदिर के दर्शन का वादा करता है। जबकि अधिकांश मंदिर खंडहर में बदल चुके है यहाँ देवी गंगा और यमुना की खुदी हुए मूर्तियो के अलावा काफी सारी विशेषताएं हैं। जानने वाली बात ये है कि पहली बार चंदेल राजा क्रितिवर्मा के राज्यकाल में वर्ष 1057 में इसका निर्माण कराया गया था।

तब इसे कृतिगिरिदुर्गा के नाम से जाना जाता था। बहुत से अन्य जैन और बौद्ध मंदिर भी इस किले के पास हैं जिसमे कुछ तो 8वीं और 9वीं शताब्दी के हैं। शहर के ३ घाट का पुरातात्विक महत्त्व है। देवगढ़ का संग्राहालय भी देखने लायक है। देवगढ़ पर्यटन उन लोगों को काफी पसंद आएगा जिनको पुराने अभिलेख और खोज में रूचि है।

देवगढ़ कैसे पहुंचें

देवगढ़ आसानी से रेल रोड या फिर हवाई यात्रा द्वारा पहुंचा जा सकता है। नज़दीकी रेलवे स्टेशन ललितपुर में है और निकटतम हवाई अड्डा ग्वालियर का हवाई अड्डा है।

देवगढ़ जाने का सबसे उचित समय

देवगढ़ जाने का सबसे सही समय है साल का अंत।

Please Wait while comments are loading...