हिमाचल प्रदेश में एल्लोरा की गुफ़ाएँ!
सर्च
 
सर्च
 

नागालैंड पर्यटन -  प्रकृति का अद्भुत चमत्कार

खूबसूरत वादियों के बीच, भारत के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में बसा एक छोटा सा राज्य है नागालैंड। यह भूमि है विनम्र लोगों की, किसानों की, प्राकृतिक सौन्दर्य की, रोचक इतिहास और अदभूत संस्कृति की। यहाँ का वन्य जीवन तथा समृद्ध वनस्पति और मनमोहक प्रकृति आपको मोहित करने के लिए पर्याप्त है। यह सब और भी बहुत सारे रहस्य छुपे हैं इस छोटे से प्रदेश में जो नागालैंड कहलाता है। अगर आपको सुन्दरता से प्यार है तो यह रहस्यमय भूमि आपको चकित करने में पूरी तरह से सक्षम है। इसकी प्राकृतिक सुन्दरता के कारण नागालैंड को  'पूरब का स्विटजरलैंड' भी कहा गया है। सांस्कृतिक विरासत से परिपूर्ण, नागालैंड पर्यटकों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं। अगर साफ़ शब्दों में कहा जाये तो नागालैंड की यात्रा आपको वास्तव में माँ प्रकृति की गोद में ले जाएगा।

नागालैंड
सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें

माँ प्रकृति और जीवंत नागालैंड

अगर आप नागालैंड की यात्रा करने की सोच रहे हैं तो यह जान लीजिये की यह नागाओं की भूमि प्राकृतिक दृश्यों से परिपूर्ण है। यहाँ की हरियाली, खूबसूरत वादियाँ, मनमोहक सूर्योदय और सूर्यास्त आपकी यात्रा को यादगार बना देता है और आप खूबसूरत यादें लेकर अपने घर वापस जा सकते हैं। अगर आप प्रकृति में रूचि रखते हैं तो नागालैंड से अच्छी जगह और क्या होगी!

नागालैंड का भूगोल एवं जलवायु

नागालैंड अधिकांश पहाड़ी इलाका है। यह पश्चिम में असम, दक्षिण में मणिपुर और उत्तर में अरुणाचल प्रदेश से घिरा हुआ है। इस खूबसूरत राज्य में कुल सात प्रशासनिक ज़िलें हैं जिनमे 16 प्रमुख जनजातियाँ निवास करती हैं। और इस हरे भरे राज्य के जलवायु के बारे में क्या कहा जाए! यह मनमोहक भूमि यह दावा करती है कि यहाँ की जलवायु इतनी अच्छी है कि साल के किसी भी समय या मौसम में आप  नागालैंड की यात्रा कर सकते हैं।

भोजन, लोग और संस्कृति

नागालैंड में अधिकतर मछली और मांस खाया जाता है। यह विभिन्न जनजातियों द्वारा अलग अलग तरीके से बनाया और खाया जाता है। नागाओं के लोकप्रिय व्यंजनों में उबली सब्ज़ियाँ, मांस से बने व्यंजन और चावल शामिल हैं। इनके भोजन ज़्यादातर स्मोक्ड या खमीरीकृत रहते हैं। नागालैंड के लोग इस राज्य के गहने हैं। इन्हें इनके पारंपरिक पोशाकों तथा कलात्मक आभूषणों से सुसज्जित देखने से ही आँखों को दिव्य सुख प्राप्त होता है। और सबसे अच्छी बात यह है कि स्थानीय लोगों का आतिथ्य सत्कार नागालैंड की यात्रा में चार चाँद लगा देता है। इनकी संस्कृति एक अंतहीन चर्चा का विषय है। नृत्य और लयबद्ध गीत इनकी दैनिक गतिविधि का हिस्सा है। यह कहा जा सकता है कि नागाओं के लिए जीवन एक उत्सव से कम नहीं। 

नागालैंड में पर्यटक स्थल

नागालैंड के कुछ आकर्षक और लोकप्रिय स्थानों में से हैं कोहिमा, दीमापुर, मोन, वोखा, फ़ेक, पेरेन, इत्यादि। तो ये सब कुछ जानने के बाद आपको किसका इंतज़ार है? तैयार हो जाइये अपनी अगली छुट्टियों में नागालैंड की यात्रा के लिए!