भुज: जहां है गुजरात के इतिहास की झलक
सर्च
 
सर्च
 

शालीमार गार्डन, श्रीनगर

अनुशंसित

शालीमार गार्डन, श्रीनगर से 15 किमी. दूर स्थित है जो इस शहर के सभी मुगल गार्डन में से सबसे लोकप्रिय है। शालीमार शब्‍द का अर्थ होता है - प्रेम का वास। इस गार्डन को शालीमार बाग, फैज बख्‍श, गार्डन ऑफ चार मीनार और फराह बख्‍श के नाम से भी जाना जाता है।

श्रीनगर तस्वीरें, शालीमार गार्डन
सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें

इस गार्डन को मुगल बादशाह जहांगीर ने अपनी बेगम नूर जहां के लिए 1619 ई. में बनवाया था।  गार्डन को विभिन्‍न प्रायोजनों के लिए तीन सीढ़ीदार वर्गो में विभाजित किया गया है। बाहरी बगीचा दीवान - ए - आम, बीच वाला गार्डन का हिस्‍सा दीवान - ए - खास या सम्राट का गार्डन और सबसे ऊपर वाले गार्डन के हिस्‍से को शाही महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया था।

इस गार्डन की डिजायन, चाहार बाग ऑफ पेरसिया पर आधारित है। इस गार्डन को यहां की चीनी खनास या आर्चड नीचेस के लिए जाना जाता है जो गार्डन के पिछले हिस्‍से में वॉटर फॉल्‍स में बनी हुई है, यहां रात के दौरान तेल के दीपक से रोशनी की जाती है। इस प्रकाश का झरने पर स्‍पेशल इफेक्‍ट पड़ता है जिससे झरना जादुई सा प्रतीत होता है।

इन नीचेस में फूलों के गमले लगे हुए हैं जिनका रिफलेक्‍शन पानी में पड़ता है जो पानी कई रंगों और रूप में चमक उठता है। शालीमार बाग लगभग 31 एकड़ जमीन पर फैला हुआ है जो चारों तरफ से चिनार के पेड़ों से घिरा हुआ है।

Write a Comment

Please read our comments policy before posting