यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

भारत में मानव दिमाग की अद्भुत उपज हैं ये 4 अनोखे हवाई अड्डे!

जाने हवाई जहाजों से जुड़े भारत के 4 ऐसे अनोखे हवाई अड्डों के बारे में

Updated: Friday, June 2, 2017, 10:18 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

मनुष्य, भगवान जी की ऐसी रचना, जो किसी भी अद्भुत रचना की खोज कर सकता है और उसे असतित्व में भी लाता है। कई ऐतिहासिक रचनाओं से लेकर आधुनिक रचनाएँ ऐसी हैं, जो अपने आप में अनोखे और कभी अविश्वसनीय हुआ करते थे। इन्हीं अद्भुत रचनाओं में से एक है, हवाई जहाज़। यातयात को सरल और सुविधाजनक बनाने के लिए कई वाहन की खोज की गयी जिनमें सबसे उन्नत खोज है, हवाई जहाज़। कुछ ही पलों में दूर-दूर का सफर पल में तय हो जाता है।

पहली हवाई यात्रा में...गलती से भी ना करे ये चीजें.वरना हो सकती है जेल

चलिए आज इन हवाई जहाजों से जुड़े भारत के 4 ऐसे अनोखे हवाई अड्डों, जो हवाई जहाज़ों के निर्माण के बाद सबसे ज़रूरी निर्माण थे हवाई जहाज़ों के रुकने और उड़ान भरने के लिए, की सैर पर चलते हैं जिनकी रचना कई लोगों के सोच से भी बिल्कुल परे थी।

अगत्ती हवाई अड्डा, लक्षद्वीप

हिन्द महासागर के बीचों बीच बसे द्वीप, अगत्ती में स्थापित यह हवाई अड्डा लगभग 4000 फ़ीट लंबा है। इस हवाई अड्डे में केवल एक ही यात्री टर्मिनल है। यहाँ सिर्फ दो एयरलाइन्स की सेवाएं उप्लब्ध हैं, पहला किंगफ़िशर और दूसरा इंडियन एयरलाइन्स। ये दोनों एयरलाइन्स सिर्फ अगत्ती और कोचीन के बीच उड़ानें संचालित करती हैं। पर किंगफ़िशर इसके साथ-साथ अगत्ती से बेंगलुरु के लिए भी उड़ाने संचालित करती है। अगत्ती सिर्फ 7 किलोमीटर ही लंबा द्वीप है जहाँ यह हवाई अड्डा स्थित है।

PC: Julio

कुशोक बकुला रिमपोचे हवाई अड्डा, लेह

लेह में स्थित यह हवाई अड्डा, दुनिया के सबसे ऊंचाई पर स्थापित हवाई अड्डों में से एक है। समुद्री तल से इसकी ऊंचाई लगभग 3256 मीटर(10682 फ़ीट) है। इस हवाई अड्डे का नाम भारतीय राजनेता व बौद्ध भिक्षु,19 वें कुशोक बकुला रिनपोचे के नाम पर पड़ा

PC: wikimedia.org

 

लेंगपुई हवाई अड्डा, मिज़ोरम

यह हवाई अड्डा वायु सेवा द्वारा कोलकाता और गुवाहाटी से और सप्ताह में तीन फ्लाइट द्वारा इम्फाल से जुड़ा हुआ है। मिज़ोरम की राजधानी आइज़ेल से यह 32 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। लेंगपुइ हवाई अड्डा भारत का प्रथम एवं सबसे बड़ा हवाई अड्डा है, जिसका निर्माण राज्य सरकार ने कराया था। इसके साथ ही यह पूर्वोत्तर भारत का दूसरा सबसे बड़ा हवाई अड्डा है। यह भारत के उन तीन हवाई अड्डों में से एक है जहाँ टेबल टॉप रनवे स्थित है, जो एक ऑप्टिकल इल्यूज़न पैदा करता है।

 PC: Jitenmehra

 

जब्बारहट्टी हवाई अड्डा, शिमला

यह हवाई अड्डा हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से लगभग 22 किलोमीटर दूर, जब्बारहट्टी में स्थित है। इस हवाई अड्डे को पहाड़ के शीर्ष को काट कर बनाया गया है और इसके सिंगल रनवे को समतल क्षेत्र में परिवर्तित किया गया है। इसके एक छोटे एप्रन में दो छोटे विमानों को एक साथ पार्क करने की जगह है। इसका छोटा टर्मिनल उड़ान भरने के दौरान 50 व्यक्तियों को संभाल सकता है, पर उड़ान के प्रस्थान करने के दौरान सिर्फ 40 व्यक्तियों को। PC:Arubh

 

English summary

4 Unbelievable Airports of India! भारत में मानव दिमाग की अद्भुत उपज हैं ये अनोखे हवाई अड्डे!

Situated on an island in the middle of Indian Ocean, this 4000 ft long Airport has only one passenger terminal and is served by only two airlines, namely Indian Airlines and Kingfisher Airlines. Both these airlines operate flights between Agatti Island and Cochin.
Please Wait while comments are loading...