यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

भारत की दस सबसे आलीशान ऐतिहासिक गुफाएं

Written by: Khushnuma
Updated: Saturday, April 4, 2015, 12:24 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

यूँ तो हम आप सभी जानते हैं कि भारत बहुत सी भाषाएँ, धर्म और प्रकृति की सुंदरता का देश है। इसकी विशेषताओं के बारे में जितना भी कहा जाए वो कम ही होगा। यहां की प्राकृतिक सुंदरता और प्राचीन गुफाएं आज भी लोगों को आश्चर्यचकित कर देती हैं। देश की गुफाएं यहां के इतिहास की कहानी कहती हैं। आज हम आपको भारत की कुछ ऐसी ही ऐतिहासिक गुफाओं के बारे में बता रहे हैं।
अगर आप इस वेकेशन कुछ ख़ास चाहते हैं तो ज़रूर जाएँ ऐसी अद्भुत गुफाओं में जहाँ आप साहसी कार्य के साथ साथ भारत के इतिहास से भी रू-बरू हो सकेंगे। तो क्यों न इस वेकेशन सैर के लिए निकला जाये इन आलीशान आकर्षक गुफाओं की खोज में।
मुफ्त कूपन्स सेल: एक्सपीडिया की ओर से फ्लाइट बुकिंग में 50% की छूट

1- उदयगिरी की गुफाएं

उदयगिरी की गुफाएं भुवनेश्वर के पास ओडिशा राज्य की प्राचीन कहानियां व उनके नमूनों का सीधा सीधा उदाहरण है। जहाँ इस वेकेशन आप उदयगिरी की गुफाओं का लुफ्त उठा सकते हैं। इस गुफा को तक़रीबन 33 पहाड़ियों को कांटकर बनाया गया है। यहाँ स्थित पास के मंदिरों के देखकर यह प्रतीत होता है कि इन गुफाओं से धार्मिक मान्यताएं भी जुडी हुई हैं।
Image Courtesy:Achilli Family | Journeys

2- बादामी गुफा

कर्नाटक में स्थित बादामी गुफा और इस गुफा में मौजूद बादामी मंदिर विश्व प्रसिद्ध है। इन गुफाओं को भी पहाड़ियों को कांटकर बनाया गया है। यहाँ की प्राचीन गाथाएं बेहद रोमांचक हैं इसलिए आप यहाँ आकर उन गाथाओं को खुद से जोड़ सकते हैं। तो इस वेकेशन सैर करें बादामी गुफा की अगर आप बादामी गुफा के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो पढ़ें:बादामी पर्यटन या वातापी - चालुक्य राजवंश की राजधानी।
Image Courtesy:Sanyambahga

बादामी गुफा,कर्नाटक बादामी गुफा में कहाँ ठहरें

3- बॉर्रा केव

अराक पहाड़ी पर बॉर्रा केव आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम जिले में स्थित है। इस गुफा की अपनी अलग मान्यता है। यहाँ धार्मिक स्थलों पर पर्यटकों की भीड़ उमड़ी रहती है। आप भी यहाँ आकर बॉर्रा केव के साथ साथ धार्मिक स्थलों के दर्शन कर सकते हैं। यह गुफा बेहद खूबसूरत है यहाँ आकर आप इसकी नक्काशियों को देख सकते हैं।
Image Courtesy:Magnus Manske

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्ट्नम जिले में 'बॉर्रा केव' में पहुंचकर कहाँ ठहरें

4- बाघ गुफाएं

बाघ गुफाओं के बारे में कुछ इतिहासकारों का मत है कि यह चौथी सदी की हैं तथा कुछ का मत है कि यह पांचवीं सदी की हैं। बाघ गुफाएं मध्यप्रदेश में स्थित हैं जो कि मध्यप्रदेश के धार जिले से तक़रीबन 97 किलोमीटर दूर होगी। विश्व प्रसिद्ध यह गुफा नौ रॉक पहाड़ों में से एक है। इन गुफाओं में बेहद खूबसूरत पेंटिंग्स बनी हुई हैं जिसे पर्यटक देख मंतमुग्ध हो जाते हैं। इन पेंटिंग्स भरी गुफाओं को रंग महल कहा जाता है।
Image Courtesy:Nikhil2789

5- बाराबर गुफाएं

बाराबर गुफाओं को देश की सभी गुफाओं में प्राचीन गुफा माना जाता है। जो कि बिहार के गया जिले में मौजूद है। इन गुफाओं में कला के बेहतरीन नमूने मिलते हैं जो दर्शनीय हैं। बाराबर गुफाओं को मौर्यकाल की पुरातन गुफा में शामिल किया गया है। इस गुफा के अंदर आवाज़ गूंजती है इसका कारण है इसे ग्रेनाइट से कांटकर बनाया गया है। इस वेकेशन आप इन गुफाओं की सैर कर सकते हैं।
Image Courtesy:Photo Dharma

6- एडाक्कल गुफा

ऐसा माना जाता है कि नवपाषाण युग के दौरान एडक्कल गुफा बनाई गई है जो की सुलतान बत्तेरी से तक़रीबन 12 किलोमीटर दूर होगी। एडक्कल गुफा के बारे में बताने से पहले आपको बतादें कि एडक्कल का मतलब होता है 'पत्थरों के बीच'। यहाँ की सुंदरता देख पर्यटक मंत्रमुग्ध हो उठते हैं। आप भी इन गुफाओं की प्राकृतिक सुंदरता को देखने आ सकते हैं।
Image Courtesy:Rahul Ramdas

एडाक्कल गुफा कैसे जाएँ

अगर आप कुछ रोमांचक करने की चाह में एडाक्कल गुफा जाना चाहते हैं तो बस एक क्लिक करें और फ्लाइट, ट्रेन, बस और टैक्सी की अधिक जानकारी प्राप्त करें। मैसूर, बैंगलोर और कालीकट से रोड मार्ग द्वारा आसानी से सुल्तान बत्तेरि पहुंचा जा सकता है। केरल और कर्नाटक राज्यों के परिवहन बसों की सेवा इस शहर के लिए उपलब्ध है। इन दोनों राज्यों का राजमार्ग इसे ऊटी और कोयम्बतूर जैसे शहरों से जोड़ता है। साथ ही, यहाँ का राजमार्ग इसे मंगलौर, कन्नूर और कासरकोड़ जैसे शहरों से भी जोड़ता है।
Image Courtesy:Satheesan.vn

7- वराह गुफाएं

तमिलनाडु के खूबसूरत शहर महाबलीपुरम में वराह गुफाएं मौजूद हैं। इन अद्भुत गुफाओं में भगवान विष्णु का मंदिर है। जहाँ हर साल हज़ारों की तादाद मे पर्यटक आते हैं। वराह गुफाएं को चट्टानों को काटकर बनाया गया है यहाँ की नक्काशी व कलाकारी इतनी खूबसूरत है कि इसे यूनेस्को की विश्व-विरासत के हिस्से में शामिल किया गया है।
Image Courtesy:Farrajak

महाबलीपुरम, वराह गुफाएं कैसे पहुंचें


वायु मार्ग
महाबलिपुरम से 60 किमी. दूर स्थित चैन्नई निकटतम एयरपोर्ट है। भारत के सभी प्रमुख शहरों से चैन्नई के लिए फ्लाइट्स हैं।

रेल मार्ग
चेन्गलपट्टू महाबलिपुरम का निकटतम रेलवे स्टेशन है जो 29 किमी. की दूरी पर है। चैन्नई और दक्षिण भारत के अनेक शहरों से यहां के लिए रेलगाड़ियों की व्यवस्था है।

सड़क मार्ग
महाबलिपुरम तमिलनाडु के प्रमुख शहरों से सड़क मार्ग से जुड़ा है। राज्य परिवहन निगम की नियमित बसें अनेक शहरों से महाबलिपुरम के लिए जाती हैं।
Image Courtesy:Baldiri

8- माव्समाई गुफा

इन गुफाओं की सैर करना बड़ा ही आसान है यहाँ पर्यटक बिना किसी तैयारी के आसानी से सैर कर सकते हैं क्यूंकि यहाँ चढ़ने के लिए किसी ग्लाइडिंग की तैयारी की आवश्यकता नहीं पड़ती है। आप भी इन गुफाओं को आसानी से देख सकते हो व इनकी नक्काशी को खुद करीब से महसूस कर सकते हो। यह गुफा चेरापूंजी में स्थित है।
Image Courtesy:Subharnab Majumdar

9- अजंता की गुफाएं

यूँ औरंगाबाद में बहुत कुछ है ख़ास पर्यटकों के लिए परन्तु यहाँ कि अजंता गुफाएं विश्व प्रसिद्ध हैं। आप भी इस वेकेशन औरंगाबाद की सैर करने के साथ साथ यहाँ की गुफाओं का लुफ्त उठा सकते हैं। यहाँ दो गुफाएं हैं अजंता और एलोरा। इन दोनों में ज़्यादा दूरी नहीं है। इसलिए आसानी से आप इन दोनों गुफाओं की सैर कर सकते हैं। महाराष्ट्र में यह गुफा सबसे खूबसूरत व विशालतम में एक है। यहाँ की कलाकृतियां देख पर्यटक मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। अजंता की गुफाओं के बारे में और अधिक जानकारी पाने के लिए पढ़ें: अजंता - एक विश्व विरासत स्थल
Image Courtesy:Leon Yaakov

10- जोगीमारा गुफा

जोगीमारा गुफा छत्तीसगढ़ इलाके में स्थित है। यहाँ तक पहुँचने के लिए आपको घने जंगलों का सामना करते हुए अन्य गुफाओं को पार करना होगा। यहाँ का घाना जंगल, प्राकृतिक सुंदरता और वन्यजीवन देख कर ही पर्यटक यहीं ठहर जाते हैं। यह गुफा कांगड़ पहाड़ी के पास नेशनल पार्क है उसी के पास स्थित है। आपका यहाँ तक का सफर काफी रोमांचक होगा इसलिए आप यहाँ का लुफ्त उठा सकते हैं।
Image Courtesy:Surohit

English summary

Caves in India

The rich history of India is visible all throughout the country and travellers visiting its various parts are left in awe by what the get to see. The many monuments, palaces, forts and the temples of yore gives an insight into India's glorious past. There are also many caves in India that speak volumes about the country's history.
Please Wait while comments are loading...