यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

प्रकृति, पुरातत्व, जनजातियों के मिश्रण छत्तीसगढ़ की कुछ एक्सक्लूसिव तस्वीरें

Written by:
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

आज हम अपने इस लेख में आपको जिस राज्य से अवगत कराने जा रहे हैं उसे प्रकृति, पुरातत्व और जनजातियों का एक परिपूर्ण मिश्रण कहा जाता है। जी हां, हम बात कर रहे हैं भारत के दसवें सबसे बड़े और सोलहवां सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य छत्तीसगढ़ की। भारत के विद्युत और स्टील उत्पन्न करने वाले राज्यों में से एक छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना 1 नवंबर 2000 को मध्यप्रदेश से विभाजन के बाद हुई। रायपुर इसकी राजधानी है तथा इसकी सीमाएं मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, उड़ीसा, झारखंड और उत्तरप्रदेश से लगी हुई हैं।

छत्तीसगढ़ को मुख्य रूप से दक्षिण कोसाला के नाम से जाना जाता था जिसका उल्लेख रामायण और महाभारत में मिलता है। बताया जाता है कि राज्य का नाम छत्तीसगढ़ 36 स्तम्भों वाले छत्तीसगढ़ीं देवी मंदिर के आधार पर रखा गया है। अब बात यदि छत्तीसगढ़ की जलवायु और भौगोलिक स्थिति की हो तो आपको बताते चलें कि छत्तीसगढ़ के उत्तरी और दक्षिणी भाग पहाड़ी हैं। लगभग आधा राज्य पर्णपाती वनों से घिरा हुआ है।

Read : नाक में मोटी नथ, बालों में चिड़ियों के पंख, बदन पर ट्राइबल टैटू, क्या ऐसा भी है इंडिया

गंगा के तटीय मैदान और महानदी नदी का मुहाना छत्तीसगढ़ के विभिन्न भागों से बहते हैं और यहाँ की मिट्टी को उपजाऊ बनाते हैं। आइये कुछ चुनिंदा तस्वीरों के जरिये आपको बताते हैं कि ऐसा क्या है जो एक ट्रैवलर को अपनी छत्तीसगढ़ यात्रा पर अवश्य देखना चाहिए।

English summary
Chattisgarh is one state which is quite less spoken of but has a bounty of scenic places. Here are the tourist places to see in Chattisgarh.
Please Wait while comments are loading...