यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

आपकी यात्रा पर क्या असर डालेगा जीएसटी...जाने यहां

जीएसटी लागू होने के बाद जहां कुछ चीजे सस्ती हुई हैं...तो वहीं कुछ चीजे महंगी हुई है..जो आपके ट्रेवल प्लान पर थोड़ा बहुत असर डाल सकती हैं

Written by: Goldi
Published: Monday, July 3, 2017, 19:00 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

एक जुलाई 2017 से भारत में जीएसटी लागू कर दिया गया है। जिसका असर आपकी रोजमर्रा की चीजों के साथ साथ आपके ट्रैवल प्लान्स पर भी काफी पड़ सकता है। जीएसटी लागू होने के बाद जहां कुछ चीजे सस्ती हुई हैं...तो वहीं कुछ चीजे महंगी हुई है..जो आपके ट्रेवल प्लान पर थोड़ा बहुत असर डाल सकती हैं..क्या हुआ है महंगा और सस्ता ये जानने से पहले जानते हैं कि आखिर जीएसटी है क्या?

भारत में यात्रा के लिए कैसे करें कैसे करें अपनी ट्रिप प्लान

आइये जानते हैं क्या है जीएसटी ?गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) एक अप्रत्यक्ष कर यानी इंडायरेक्ट टैक्स है। जीएसटी के तहत वस्तुओं और सेवाओं पर एक समान टैक्स लगाया जाता है। जहां जीएसटी लागू नहीं है, वहां वस्तुओं और सेवाओं पर अलग-अलग टैक्स लगाए जाते हैं। सरकार अगर इस बिल को 2016 से लागू कर देती तो हर सामान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट, एक्साइज और सर्विस टैक्स जैसे करों की जगह सिर्फ एक ही टैक्स लगेगा।

इकॉनमी क्लास में यात्रा करना होगा आसान

जी हां, पहले के मुकाबले अब इकॉनमी क्लास में हवाई यात्रा करना सस्ता होगा। पहले इकॉनमी क्लास में यात्रा करने के दौरान पहले 6%प्रतिशत टैक्स लगाया जाता था...जबकि जीएसटी के बाद अब सिर्फ 5% टैक्स ही देना होगा।PC:Venkat Mangudi

बिजनेस क्लास होगा महंगा

जहां हवाई जहाज में इकॉनमी में यात्रा करना सस्ता होगा तो वहीं बिजनेस क्लास के यात्रियों को अब 9% की जगह 12% जीएसटी देना होगा।

PC: Venkat Mangudi

ट्रेन में स्लीपर सस्ता तो ऐसी महंगा

ट्रेन में स्लीपर के यात्रियों के लिए जीएसटी के तहत कोई भी बदलाव नहीं किया गया है, लेकिन लेकिन एसी क्लास के रेल पैसेंजरों की जेब पर जीएसटी भारी पड़ने जा रहा है।जीएसटी लागू होने के बाद रेल किराए पर 5% टैक्स लगेगा।PC: Nikhilb239

अब कैब आपकी साथी

जी हां जीएसीटी लगने के बाद अब कैब का किराया भी सस्ता होगा, क्योंकि ओला और ऊबर जैसी कैब उपलब्ध कराने वाली कंपनियों पर सर्विस टैक्स पहले के 6 प्रतिशत की तुलना में 5 प्रतिशत हो जाएगा तो अब बेफिक्र होकर अपनी यात्रा को बनाइए यादगार।

खाना होगा महंगा

अब जब ट्रेवल कर रहे हैं..तो बाहर खाना खाना आम सी बात है..लेकिन अब जीएसटी लागू होने के बाद अब आपको अपनी जेब थोड़ी और ढीली करनी होगी क्योंकि मौजूदा 6 प्रतिशत (भोजन पर टैक्स छूट मिलने के बाद) सर्विस टैक्स और वैट की जगह जीएसटी लागू हो जाएगा।

होटल में ठहरना होगा थोड़ा सा महंगा

अब आप सोच रहें होंगे कि, क्या जीएसटी के बाद होटल में रुकना भी महंगा हो गया है तो आपको बता दें, जीएसटी काउंसिल ने तय किया है कि 1,000 रुपये प्रतिदिन तक के किराए वाले होटलों से टैक्स न लिया जाए। लेकिन इसके बाद जीएसटी की दरें लागू हो जाएंगी और 5,000 के ऊपर के होटल स्टे पर जीएसटी बढ़कर 28% तक पहुंच जाएगा। ह्म्म्म समझे जनाब अगर आप 1 हजार रुपये प्रतिदिन की कीमत से ज्यादा वाले रूम में ठहरते हैं तो आपकी जेब को जीएसटी का भार उठाना पड़ेगा।

क्रेडिट कार्ड

अगर आप क्रेडिट कार्ड रखते हैं..तो जीएसटी लागू होने के बाद शायद आप इससे किनारा कर ले..क्यों कि1 जुलाई के बाद से क्रेडिट कार्ड पर जीएसटी 18% होगा जोकि पहले 15% ही था।

English summary

how-gst-can-affect-your-travel-plans-hindi

Recently, the GST Council announced the rates of Goods and Services Tax applicable on the supply of various goods and services.it is high time we look at how it will affect travelers. From hotel bookings to flight fares, the new GST structure will cover everything, and it is both good and bad news for those bitten by wanderlust.
Please Wait while comments are loading...