रोमांच से भरपूर है लेह लद्दाख की मारखा घाटी ट्रेकिंग
सर्च
 
सर्च
 

हिमालय के खूबसूरत नज़ारे देखने के लिए ज़रूर आएं कौसानी में!

कौसानी, उत्तराखंड में प्रकृति की गोद में समाये सबसे अच्छे ऑफ़बीट हिल स्टेशनों में से एक है।

Written by:
Updated: Wednesday, January 11, 2017, 15:12 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

छोटा सा पर दिल को छू जाने वाला गाँव कौसानी, उत्तराखंड के सबसे अच्छे ऑफ़बीट हिल स्टेशनों में से एक है। अगर आप हिमालय पर्वत की खूबसूरती में खो जाना चाहते हैं और आपके पास कुछ समय है जिनमें आप सुकून भरे कुछ क्षण बिताना चाहते हैं तो, यही वह जगह है आपके लिए।

हमारे राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी भी इस गांव की खूबसूरती से अछुते नहीं रहे थे और उन्हें यह जगह इतनी पसंद आई की उन्होंने इस जगह का नाम ही रख दिया, 'भारत का स्विट्ज़रलैंड'। कौसानी एक प्राचीन हिमालयी गाँव है, जहाँ से हिमालय पर्वत के शानदार नज़ारे देखने को मिलते हैं, जैसे नंदा देवी, त्रिशूल और पंचचुली।

[हिमालय से जुड़ी 12 दिलचस्प बातें!]

सुखद जीवन का परिदृश्य और हिल स्टेशन की धुंधलाती आभा हमें अपनी ओर आने के लिए आकर्षित करती हैं। अगर आपको ना ज़्यादा भीड़भाड़ पसंद है और ना ज़्यादा बाज़ारों की चहल-पहल और प्रकृति से बहुत ज़्यादा प्रेम है तो यही वह जगह है जहाँ आप प्रकृति की गोद में समां सुकून भरे पलों के मज़े ले पाएंगे।

[भारत में बसा 'छोटा स्विट्ज़रलैंड'- चोपता!]

आपको यहाँ हिमालयी ग्रामीण इलाके के जीवन को समझने का पूरा मौका मिलेगा और इसका आप पूरे तरीके से मज़े भी ले पाएंगे। बस इतना ही नहीं, कौसानी में कई पर्यटक आकर्षण भी हैं, जो हमें अपने में बांधे रखते हैं।

कौसानी पहुँचें कैसे?

तो चलिए आज हम कौसानी की तस्वीरों के साथ उसकी एक छोटी सी यात्रा कर आते हैं और जानते हैं कि क्यों यह उत्तराखंड के सबसे अच्छे हिल स्टेशनों में से एक है।

कौसानी में होटल बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

कौसानी है कहाँ?

कौसानी उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में स्थित है। इसका नज़दीकी शहर बागेश्वर है, जो यहाँ से लगभग 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

Image Courtesy: Sujayadhar

ऐतिहासिक कथा

स्वतंत्रता से पहले, कौसानी अल्मोड़ा जिले का हिस्सा हुआ करता था। सन् 1998 में बागेश्वर, अल्मोड़ा जिले से अलग हुआ।

Image Courtesy: Siddharthabasuwiki

भौगोलिक स्थिति

कौसानी, हिमालय के कुमाऊं भाग में आता है, जहाँ नदियां और देवदार के पेड़ों के भरमार हैं। जैसा कि कई नदियां इस जगह से होकर गुज़रती हैं, इसलिए यहाँ कि भूमि काफ़ी उपजाऊ है।

Image Courtesy: verseguru

कौसानी की प्रमुख नदियां

गोमती नदी, कोसी नदी और रामगंगा नदी कौसानी के आसपास के क्षेत्रों में ही बहती हैं।

Image Courtesy: verseguru

ऑफ़बीट डेस्टिनेशन

कौसानी उत्तराखंड का सबसे अच्छा ऑफ़बीट हिल स्टेशन है।

Image Courtesy: verseguru

हिमालय पर्वत के नज़ारे

कौसानी, हिमालयी चोटियों के खूबसूरत नज़ारों के लिए प्रसिद्द है जैसे पंचचुली, नंदा देवी और त्रिशूल। ज़्यादातर लोग यहाँ इन नज़ारों को अपनी आँखों में कैद कर लेने के लिए ही आते हैं।

Image Courtesy: Sanjoy Ghosh

कौसानी में घूमने लायक जगह

चाय के बगान, अनाशक्ति आश्रम(जहाँ गाँधीजी रहे थे), सुमित्रानंदन पंत(राष्ट्रीय कवि व लेखक) संग्रहालय, रुद्रधारी झरने और कई गुफाएं, कौसानी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक हैं।

Image Courtesy: Utkarshsingh.1992

कौसानी के आसपास बसे पर्यटक आकर्षण

बैजनाथ मंदिरों का समूह, अल्मोड़ा, बागेश्वर, लौबंज गाँव, आदि कौसानी के आसपास बसे प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक हैं।

Image Courtesy: Yann

कौसानी पहुँचें कैसे?

कौसानी, उत्तराखंड में अल्मोड़ा से लगभग 52 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और बागेश्वर से लगभग 40 किलोमीटर की दूरी पर।

Image Courtesy: Anshumandatta

कौसानी जाने का सबसे सही समय

कौसानी आप साल में कभी भी जा सकते हैं पर मॉनसून के समय थोड़ी मुश्किल होती है, क्यूंकि तब रास्ते थोड़े ठीक नहीं होते।

Image Courtesy: Utkarshsingh.1992

कौसानी जाने का सबसे सही समय

अक्टूबर से फ़रवरी और अप्रैल से जून के महीने कौसानी की यात्रा के सबसे सही समय हैं।

Image Courtesy: Abhijit Kar Gupta

English summary

हिमालय के खूबसूरत नज़ारे देखने के लिए ज़रूर आएं कौसानी में!

In Kausani one gets to see a life in the Himalayan countryside and also enjoy the best of it. Kausani also has many tourist attraction in and around which keep us engaged.
Please Wait while comments are loading...