हिमाचल प्रदेश में एल्लोरा की गुफ़ाएँ!
सर्च
 
सर्च
 

महान मुग़ल शासक शाहजहां द्वारा भारत में निर्मित महत्वपूर्ण रचनाएँ!

मुग़ल शासक शाहजहाँ ने अपने मुग़ल काल में भारत में कई ऐतिहासिक और महत्वपूर्ण रचनाओं का निर्माण किया!

Written by:
Updated: Tuesday, November 22, 2016, 10:28 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

जब भी देश की शान ताजमहल का वाक्या कहीं पर शुरू होता है, जो दुनिया के अजूबों में से एक है, शाहजहां के बिना कभी पूरा नहीं होता। मुग़ल सम्राट शाहजहां, इस आलीशान और महान रचना के जन्मदाता एक महान सम्राट के रूप में प्रसिद्द थे। वे अपनी न्यायप्रियता और वैभवविलास के कारण अपने काल में बड़े लोकप्रिय रहे। लेकिन वे केवल इसके लिए ही नहीं जाने जाते थे, वे एक बहुत बड़े आशिक़ के तौर पर भी पहचाने जाते हैं, जिन्होंने अपनी प्रेमिका और पत्नी, मुमताज़ महल की याद में दुनिया की सबसे भव्य और खूबसूरत रचना का निर्माण करवाया, जो देश-विदेश में प्रेम के प्रतीक के रूप में सर्वाधिक लोकप्रिय है।

[मुगल साम्राज्य की राजधानी रहे आगरा को निहारिये कुछ ख़ास और एक्सक्लूसिव तस्वीरों में!]

सम्राट जहांगीर की मृत्यु के बाद उन्होंने काफी कम उम्र में मुग़ल सिंहासन को संभाल लिया। वे ऐसे सम्राट थे जिनके शासनकाल को मुग़ल शासन का स्वर्ण युग और भारतीय सभ्यता का सबसे समृद्ध काल कहा जाता है। इनकी वास्तुकला में रूचि सिर्फ ताजमहल तक ही सिमित नहीं रही। ताजमहल के अलावा उन्होंने देश को कई ऐसी विरासतों की धरोहर तोहफ़े के रूप में भेंट की जो आजतक समय की कसौटी पर खरे उतर देश की शान को बढ़ा रहे हैं। भारतीय पर्यटन में इनकी रचनाएँ पर्यटकों के बीच प्रमुख आकर्षण के केंद्र हैं।

[ताज के ये 52 फ्रेम देखकर खुद-ब-खुद मुहं से निकल पड़ता है "वाह ताज"!]

भव्य इमारतों, मस्जिदों और बाग़ों की महान स्थापत्य कला आज भी पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर खींच ले जाती हैं। इनकी महान रचनाएँ लोगों को उस समय की अद्भुत कलाकारी के बारे में सोचने और समझने पर मजबूर कर देती हैं, जो लोगों को खूब लुभाती हैं। यूनेस्को की विश्व धरोहर की सूचि में भी शामिल इनकी रचनाएँ इतिहास की कई गतिविधियों और कथाओं के जीते जागते उदहारण हैं।

[स्मारकीय भारत: आगरा के किले से जुड़ी 10 दिलचस्प बातें!]

तो चलिए आज हम शाहजहां की इन्हीं जीवित रचनाओं की सैर पर चलते हैं जिनका इतिहास आज भी यहाँ की एक-एक ईंट और कलाकारी साफ़ बयां करती हैं।

ताजमहल

ताजमहल के बारे में कौन नहीं जानता? इतिहास के सबसे पहले पन्नों पर ही ताजमहल की सुन्दर रचना का उल्लेख किया जाता है। यह शाहजहां द्वारा बनाई गई सबसे महत्वपूर्ण और प्रसिद्द रचना है जो विदेशी पर्यटकों का ध्यान सबसे ज़्यादा अपनी ओर खिंचती है।

Image Courtesy: Airunp

ताजमहल

उत्तरप्रदेश राज्य के आगरा शहर में स्थापित इस वैश्विक धरोहर को शाहजहाँ ने अपनी बेग़म मुमताज़महल की याद में बनवाया था। यह विश्व धरोहर मक़बरा मुग़ल वास्तुकला का उत्कृष्ट नमूना है। सन् 1983 में इसे यूनेस्को के विश्व विरासत स्थल की सूचि में शामिल किया गया था।

Image Courtesy: Yann

ताजमहल

सफ़ेद संगमरमर से बनाई गई यह अद्भुत रचना भारत की इस्लामी कला का रत्न भी है। आगरा में यमुना नदी के किनारे बनाई गई इस सुप्रसिद्ध रचना की खूबसूरती सूर्यास्त और सूर्योदय के समय नदी के किनारे से देखते ही बनती है, ऐसा नज़ारा जो आपको अंदर तक खूबसूरती के एक विहंगम दृश्य के दर्शन कराता है।

Image Courtesy: Gerard McGovern

ताजमहल

पर्यटन के मामले में यह हर साल 20 से 40 लाख पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है जिनमें से 25% विदेशी पर्यटक होते हैं।

Image Courtesy: Paul Asman and Jill Lenoble

ताजमहल

दुनिया के सात अजूबों में शामिल इस महान रचना के दीदार का का सबसे सही समय है सितम्बर से नवम्बर तक के महीने और फ़रवरी से मार्च तक के महीने। बाकी महीनों में मौसम अपनी चरम सीमा पर होता है।

Image Courtesy: McKay Savage

आगरा किला

आगरा का एक और मुख्य आकर्षण, आगरा किला ताजमहल से बस कुछ ही दूरी पर लगभग 2.5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह भारत के इतिहास का बहुत ही महत्वपूर्ण किला है जहाँ से कई मुग़ल शासकों जैसे बाबर, हुमायुं, अकबर, जहांगीर, शाहजहां व औरंगज़ेब ने पूरे भारत पर शासन किया।

Image Courtesy: Tanvirsinghsra

आगरा किला

यहीं पर राज्य की सर्वाधिक संपत्ति को सुरक्षित रखा गया था। ईंटों से बनी यह ऐतिहासिक रचना यूनेस्को की विश्व विरासत की सूचि में शामिल है। अपने जीवन के अंतिम दिनों में शाहजहाँ को उनके ही पुत्र द्वारा इसी क़िले में बंदी बना लिया गया था, जहाँ उन्हें मुसम्मन बुर्ज में रखा गया।

Image Courtesy: Arefin.86

आगरा किला

मुसम्मन बुर्ज के झरोखों से ताजमहल का सबसे खूबसूरत नज़ारा दिखता है और यहीं पर कैद रहकर शाजहाँ ने ताजमहल को देखते हुए अपनी ज़िन्दगी की आखिरी सांस ली।

Image Courtesy: Aakarsh Sasi

आगरा किला

वास्तुकला की इस अद्भुत रचना में हिन्दू व स्थापत्यकला के मिश्रण देखने को मिलते हैं। जो भी पर्यटक ताजमहल के दीदार को आते हैं, वे इस भव्य रचना का दीदार करना बिलकुल भी नहीं भूलते।

Image Courtesy: Akshatha Inamdar

लाल किला

जब भी मुग़ल शासन की बात हो, दिल्ली की बात ना हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता। और जब भी दिल्ली के मुग़ल शासन की बात हो और लाल किले की बात ना हो, यह तो बिलकुल भी नहीं हो सकता। जी हाँ दिल्ली के इतिहास में मुख्य भूमिका निभाने वाली ऐतिहासिक रचना, लाल किला भी यूनेस्को की विश्व विरासत धरोहर की सूचि में शामिल है।

Image Courtesy: A.Savin

लाल किला

लालकिले की योजना, व्यवस्था एवं सौन्दर्य मुगल सृजनात्मकता का शिरोबिन्दु है, जो कि शाहजहाँ के काल में अपने चरम उत्कर्ष पर पहुँची। लाल किला शाहजहाँ की नई राजधानी, शाहजहाँनाबाद का महल था।

Image Courtesy: Ashutosh Srivastava

लाल किला

कई ऐतिहासिक दस्तावेजों के अनुसार इसे लालकोट का एक पुरातन किला और नगर भी बताया जाता है, जिसे शाहजहाँ ने कब्जा़ करके यह किला बनवाया था। लालकोट हिन्दु राजा पृथ्वीराज चौहान की बारहवीं सदी के अन्तिम दौर में राजधानी थी।

Image Courtesy: A.Savin

लाल किला

आगरा किले में स्थित 'मयूर सिंहासन' जो शाहजहाँ द्वारा ही बनवाया गया था को दिल्ली के इसी लाल किले में स्थानांतरित कर दिया गया था जिसे फ़ारसी राजा नादिर शाह लूट कर ले गया, जिसके साथ देश का बेशकीमती हीरा कोहिनूर भी लूट लिया गया जो इसी सिंहासन पर जड़ा हुआ था।

Image Courtesy: Unknown

लाल किला

हर साल यह लाखों पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करता है। हर साल भारत के प्रधान मंत्री स्वतंत्रता दिवस यानि कि 15 अगस्त के दिन, यहीं पर तिरंगा झंडा फहरा कर देश की जनता को सम्बोधित करते हैं।

Image Courtesy: Partha S. Sahana

जामा मस्जिद

देश की सबसे बड़ी और भव्य मस्जिद, दिल्ली में ही लाल किले से कुछ ही दूरी पर स्थित है। यह भव्य रचना भी शाहजहाँ की महान रचनाओं में से एक है। लाल और संगमरमर के पत्थरों से बनी हुई यह अद्भुत रचना 6 सालों में बन कर तैयार हुई थी।

Image Courtesy: Dennis Jarvis

जामा मस्जिद

इसके दो प्रवेश द्वारों, दक्षिणी और उत्तरी प्रवेश द्वारों से पर्यटकों को प्रवेश करने की अनुमति है। इसका पूर्वी प्रवेश द्वार सिर्फ शुक्रवार को ही खुलता है जिसके लिए कहा जाता है कि सम्राट शाहजहां मस्जिद में प्रवेश करने के लिए इसी प्रवेशद्वार का इस्तेमाल करते थे।

Image Courtesy: Keisuke SHIMANE

जामा मस्जिद

मस्जिद के ऊपरी गुम्बदों को सफ़ेद और काले संगमरमर से सजाया गया है। इसके प्रार्थना घर की रचना विशाल और अद्भुत है।

Image Courtesy: Jean-Pierre Dalbéra

मोती मस्जिद

शाह जहाँ द्वारा निर्मित भव्य रचनाओं में से एक मोती मस्जिद आगरा में ही बनवाई गई। मोती मस्जिद का यह नाम इसकी रचना की वजह से पड़ा, क्यूंकि यह एक बड़े मोती की ही तरह चमकती हुई प्रतीत होती है। कहा जाता है कि शाहजहां ने इस मस्जिद का निर्माण अपने दरबार के सदस्यों के लिए करवाया था।

Image Courtesy: Butko

मोती मस्जिद

मस्जिद के प्रांगण में किनारे-किनारे मेहराब बने हुए हैं। इसके छत पर सफेद संगमरमर से बने तीन गुंबद हैं, जिनके दीवार लाल बलुआ पत्थर से बने हैं। इस पूरे इमारत का निर्माण सफेद संगमरमर से बेहद कलात्मक रूप से किया गया है।

Image Courtesy: Darshanadakane

मोती मस्जिद

मोती मस्जिद का निर्माण पूरी नज़ाकत के सथ सममितीय डिजाइन से किया गया है, जिससे इसकी भव्यता खुलकर सामने आती है। यमुना नदी के तट पर ही इस रचना का भी निर्माण करवाया गया था।

Image Courtesy: Ramón

English summary

Most Important Monuments Built by Shahjahan in India!

Shah Jahan left behind a grand legacy of structures constructed during his reign. He was one of the greatest patrons of Mughal architecture.
Please Wait while comments are loading...