यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

मुन्नार-केरल का स्वर्ग

दक्षिण भारत स्थित केरल के बेहद ही खूबसूरत राज्य है...केरल में घूमने को कई सारे खूबसूरत हिल स्टेशन है.इन्ही में से एक है मुन्नार जो पूरे भारतवर्ष से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

Written by: Goldi
Updated: Monday, August 14, 2017, 15:46 [IST]
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Pin it  Comments

दक्षिण भारत स्थित केरल के बेहद ही खूबसूरत राज्य है...केरल में घूमने को कई सारे खूबसूरत हिल स्टेशन है.इन्ही में से एक है मुन्नार जो पूरे भारतवर्ष से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। समुद्र तल से 1600 मीटर की ऊंचाई पर स्थित मुन्नार पूर्व ब्रिटिश प्रशासन का ग्रीष्मकालीन रिजॉर्ट हुआ करता था।

मुन्‍नार एक मलयालम शब्द है जिसका अर्थ होता है तीन नदियों का संगम यहां आपको तीन नदियां मधुरपुजहा, नल्‍लाथन्‍नी और कुंडाली एक ही स्थान पर मिलती हुई दिखाई देंगी।मुन्नार केरल के इडुक्‍की जिले में स्थित है। इस हिल स्टेशन की पहचान है यहां के विस्तृत भू-भाग में फैली चाय की खेती, औपनिवेशिक बंगले, छोटी नदियां, झरनें और ठंडे मौसम। ट्रैकिंग और माउंटेन बाइकिंग के लिए यह एक आदर्श स्थल है।

पांडिचेरी जा रहे हैं..तो ये काम करना बिल्कुल भी ना भूले

मुन्‍नार के पर्यटन स्‍थलों की सैर बहुत सुखद अनुभव प्रदान करने वाली होती है विशेषकर यहां के अच्‍छे और सुखदायक मौसम के कारण।  यहां पर चिडि़यों को देखना भी एक बेहद लोकप्रिय गतिविधि है क्‍यूंकि इस क्षेत्र में कई प्रकार की दुर्लभ प्रजातियों का घर भी है।इतना ही नहीं, यहां ट्रैकिंग का भी आनन्द उठाया जा सकता है, वोटिंग का भी और गोल्फिंग का भी मजा लिया जा सकता है। गोल्फिंग की व्यवस्था जहां हाई रेंज क्लब द्वारा की गई है, वहीं वोटिंग का आनन्द मदुपेट्टी डैम पर उठाया जा सकता है।

देवीकुलम


देवीकुलम "खुदा के अपने घर" केरल में स्थित पर्वतीय स्थल देवीकुलम अपने सुरम्य प्राकृतिक परिदृश्य के लिए प्रसिद्ध है। मख़मली हरी दूब के मैदानों से घिरी संकरी पहाड़ियों व नुकीली चट्टानों के बीच से गिरते कल-कल की ध्वनि करते झरने आपको सुंदर वातावरण का आनंद देते हैं। देवीकुलम, इडुक्की जिले में मुन्नार से लगभग 7 किमी दूरी पर स्थित है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह एक पसंदीदा स्थल है क्योंकि वे यहां विभिन्न वनस्पतियों और जीव को देखने का लुत्फ उठाने के साथ-साथ उनका अध्ययन भी कर सकते हैं। देवीकुलम ट्रैकर्स के लिए भी पसंदीदा जगह है और बागानों तथा लाल गोंद के पेड़ों के मध्य भ्रमण वास्तव में एक अद्भुत अनुभव प्रदान करता है। PC: Kerala Tourism

इको पॉइंट

इको पॉइंट मुन्नार से 15 किलोमीटर की दूरी पार्ट स्थित है। चिल्लाकर अपनी आवाज़ को पुनः सुनना यहां आने वाले पर्यटकों के बीच का प्रमुख आकर्षण है। ये जगह बेहद खूबसूरत है जो किसी का भी मन मोह सकती है।

 PC: wikimedia.org

मट्टुपेट्टी

मुन्नार से 13 किलोमीटर दूर सुर समुन्द्र तल से 1700 मीटर ऊपर मट्टुपेट्टी यहां स्थित एक और खूबसूरत स्थल है। जब आप मुन्नार की यात्रा पर हों तो आप मट्टुपेट्टी अवश्य आएं। मट्टुपेट्टी झील और मट्टुपेट्टी बांध यहां के अन्य लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण हैं। PC: Rameshng

राजमाला

मुन्नार से 15 किलोमीटर दूर राजमाला यहां का एक और प्रमुख पर्यटक आकर्षण है। यहां आकर आप नीलगिरि तहर (बकरी और भेड़ से मिलता जुलता एक जंगली जीव) को बड़ी ही आसानी से यहाँ की वादियों में चरते हुए देखेंगे। बताया जाता है कि विश्व के आधे से ज्यादा तहर इसी भाग में रहते हैं। यहां आकर आप एक साथ कई सारी चीजों का आनंद ले सकते हैं। PC:Mvvaisakh

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान, मुन्‍नार के समीप स्थित है जो पश्चिमी घाट के 97 वर्ग किमी. के साथ, क्षेत्र में फैला हुआ है। यह पार्क, भारत के नम्‍बर वन जैव विविध क्षेत्रों के रूप में सूचीबद्ध है जो जंगल और वन्‍यजीव विभाग के प्रशासन के अधीन आता है। जैव विविधताओं से भरे इस क्षेत्र को नीलगिरि तहर के प्राकृतिक आवास के रूप में जाना जाता है। PC:Arun Suresh

कुंडला झील

कुंडला झील पर्वत श्रृंखलाओं के बीच एक छोटे से आकार के बांध के एक कृत्रिम जलाशय है। यह मुन्नार से 20 किमी की ड्राइव पर है। वहां नौकायन की सुविधा है..और जब आप वहां जाते हैं तो शिकारा की नाव की सवारी के लिए मत भूलना!

PC: Aamir Khan

अनयिरंगल

चिन्नकनाल से लगभग सात किमी आगे बढ़ने पर, आप अनयिरंगल पहुंच जाएंगे। मुन्नार से 22 किमी दूर स्थित अनयिरंगल चाय के हरेभरे पौधों का गलीचा है। शानदार जलाशय की सैर एक अविस्मरणीय अनुभव है। अनयिरंगल बांध चारों ओर से चाय के बगीचों और सदाबहार वन से घिरा है।

चाय संग्रहालय

चाय बगानों की उत्पत्ति और विकास की दृष्टि से मुन्नार की अपनी अलग विरासत मानी जाती है। इस विरासत को ध्यान में रखते हुए, केरल के ऊंची पर्वत श्रृंखलाओं में चाय बगानों की उत्पत्ति और विकास के कुछ सूक्ष्म और दिलचस्प पहलुओं को सुरक्षित रखने और प्रदर्शनीय बनाने के लिए मुन्नार में टाटा टी द्वारा कुछ वर्ष पहले एक संग्रहालय की स्थापना की गई थी। इस चाय संग्रहालय में दुर्लभ कलाकृतियां, चित्र और मशीनें रखी गई हैं; इनमें से हर एक की अपनी कहानी है जो मुन्नार के चाय बगानों की उत्पत्ति और विकास के बारे में बताती है। यह संग्रहालय टाटा टी के नल्लथन्नी इस्टेट का एक दर्शनीय स्थल है। PC: Dr.jagdish

अथुकड फॉल्स

गहरी घाटी में स्थित यह झरना मुन्नार से 8 किलोमीटर दूर कोच्चि रोड पर स्थित है। अथुकड फॉल्य मुन्नार का एक प्रमुख पर्यटक स्थल है। मानसून के दिनों में (जुलाई-अगस्त) इसकी सुंदरता और भी बढ़ जाती है। इस झरने के अलावा भी इस रास्ते में दो और झरने भी हैं-चीयापरा फॉल्स और वलार फॉल्स।

ब्लास्सम इंटरनेशनल पार्क

मुन्नार शहर से करीब 3 किमी दूर है और यह 16 एकड़ से अधिक फैलता है। यह एक शांतिपूर्ण स्थान है जहां एक शांत और आरामदेह स्वभाव चलने का आनंद उठाया जा सकता है जिसमें फूलों और आसपास के हरे पहाड़ की प्रशंसा होती है। पार्क नौकायन, साइकिल चलाना, रोलर स्केटिंग आदि जैसे पर्यटकों के लिए कई गतिविधियों की पेशकश करता है।

कब जाएँ

इस हिल स्टेशन पर अगस्त से मई के बीच लाखों की संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं। जून और जुलाई में यहां बारिश अधिक होती है। इस कारण इस बीच पर्यटकों की संख्या अपेक्षाकृत कम होती है। सर्दियों के मौसम में यहां बेहद ठंड पड़ती है, जिससे बचाव के लिए तमाम जरूरी गर्म कपड़े रखने जरूरी होते हैं, लेकिन गर्मियों में हल्के गर्म कपड़े ठीक रहते हैं। PC: wikimedia.org

क्या करें

एडवेंचर के शौक़ीन है तो यहां ट्रैकिंग और पैरा-ग्लाइडिंग, रोप क्लाइम्बिंग, बोटिंग और हाईकिंग का लुत्फ जरुर उठाये। PC:tornado_twister

क्या खाएं

मुन्नार में आप एक पारंपरिक केरल के व्यंजनों से सभी लोकप्रिय आइटम पा सकते हैं। इडली, वडा, सांभर जैसे बड़े पैमाने पर केले के चिप्स के लिए, सभी यहां लगभग मुख्य हैं। इसके अलावा कई जगहों पर विभिन्न व्यंजनों के मेनू और बहुत सारे विकल्प होंगे।

मुन्नार कैसे पहुंचे?

हवाईजहाज द्वारा
हवाईजहाज का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट कोचीन है...जहां से पर्यटक आसानी से बस या टैक्सी द्वारा मुन्नार पहुंच सकते हैं।

ट्रेन द्वारा
मुन्नार में मुख्य सड़क (बाजार) पर बस स्टेशन है सुबह 6 बजे से प्रत्यक्ष नियमित बसें मुन्नार से हैं। सड़कें मुन्नार जाने के लिए बसों का सबसे अच्छा तरीका है।

सड़क द्वारा
आप अगर दक्षिण से आ रहे हैं तो अपनी कार से भी आ सकते हैं,यहां की सड़के काफी अच्छी है। PC: Bimal K C

English summary

Munnar - the Hill Station of Kerala in Idukki hindi

A visit to Kerala needs no occasion. It is no doubt one of the best destinations one could visit in India. The state is rich with natural wonders and is also an ideal place to visit during any season. On a trip to Kerala, there are chances that you would be confused as to where to visit first and how to choose the best destination out of the long list of scenic locations the state has to offer.
Please Wait while comments are loading...