Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » अल्मोड़ा » आकर्षण
  • 01कसार देवी मंदिर

    कसार देवी मंदिर

    अल्मोड़ा से 5 किमी दूर स्थित कसार देवी मंदिर एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है। स्थानीय लोगों की माने तो दूसरी शताब्दी में बना यह मंदिर 1970 से 1980 की शुरुआत तक डच संन्यासियों का घर हुआ करता था। चूंकि यह मंदिर हवाबाघ की सुरम्य घाटी में स्थित है, इसलिए यह जगह पिकनिक के...

    + अधिक पढ़ें
  • 02लाल बाजार

    लाल बाजार

    शॉपिंग की दृष्टि से लाल बाजार अल्मोड़ा का सबसे पसंदीदा स्थान है। यहां कई किस्म की स्वादिष्ट मिठाइयों के अलावा तांबे और पीतल से बनी चीजें उचित मूल्यों पर मिलती हैं। खरगोश के बाल से बने ऊनी कपड़े यहां का मुख्य आकर्षण हैं। यह कपड़े काफी मुलायम और गर्म होते हैं और...

    + अधिक पढ़ें
  • 03कटारमल सूर्य मंदिर

    कटारमल सूर्य मंदिर

    ओडिशा के कोणार्क सूर्य मंदिर के बाद कटारमल सूर्य मंदिर सूर्य भगवान को समिर्पत देश का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर है। अल्मोड़ा शहर से 16 किमी दूर स्थित यह मंदिर एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। मंदिर का परिसर 800 साल पुराना है, जबकि मुख्य मंदिर 45 छोटे-छोटे मंदिरों से घिरा...

    + अधिक पढ़ें
  • 04माउंटेन बाईकिंग

    माउंटेन बाईकिंग

    अल्मोड़ा में माउंटेन बाईकिंग का भी खूब क्रेज है। हालांकि यह बिल्कुल नया कॉनसेप्ट है, फिर भी यह पर्यटकों को खूब रिझाता है। यहां बाईकिंग के कई सुगम मार्ग भी है। पर्यटक बाईक और अन्य जरूरी सामान किराए पर ले सकते हैं। यहां कई ऐसे टूर ऑपरेटर हैं, जो अल्मोड़ा और आसपास के...

    + अधिक पढ़ें
  • 05बिनसर

    अल्मोड़ा जिले में स्थित बिनसर एक पर्यटन स्थल के रूप में काफी लोकिप्रय है। भगवान शिव को बिनसर देव के नाम से भी जाना जाता है और उन्हीं के नाम पर इस जगह का नामकरण हुआ है। हिमालय पर्वतमालाओं की पृष्ठभूमि में बसा बिसनर कभी गर्मियों में चंद राजाओं की राजधानी हुआ करता...

    + अधिक पढ़ें
  • 06बिनसर वन्यजीव अभयारण्य

    बिनसर वन्यजीव अभयारण्य

    45.59 वर्ग किमी में फैला बिनसर वन्यजीव अभयारण्य यहां का प्रमुख पर्यटन स्थल है। अल्मोड़ा शहर से 30 किमी में बना यह अभयारण्य समुद्र तल से 900 मीटर से लेकर 2500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।

    यह जगह तेंदुआ, कस्तूरी मृग, जंगली बिल्ली, चितराला, लोमड़ी, लंगूर, बंदर,...

    + अधिक पढ़ें
  • 07ब्राइट एंड कॉर्नर

    ब्राइट एंड कॉर्नर

    ब्राइट एंड कॉर्नर से सूर्योदय, सूर्यास्त और चांद के निकलने का जादुई नजारा देखा जा सकता है। अल्मोड़ा से 2 किमी दूर स्थित यह जगह बेहद चर्चित पर्यटन स्थल है। यहां से बर्फ से ढकी चोटियों के पीछे से सूरज को निकलते और फिर बर्फीली चोटियों के आगोश में सूरज को समाते देखना...

    + अधिक पढ़ें
  • 08ट्रेकिंग

    ट्रेकिंग

    अल्मोड़ा घूमने वाले पर्यटक यहां ट्रेकिंग का भी जमकर आनंद उठाते हैं। यह जगह ट्रेकर्स को अल्मोड़ा की 5 किमी लंबी पहाड़ियों पर बेहतरीन ट्रेकिंग रूट उपलब्ध कराता है। इनमें अल्मोड़ा से जागेश्वर का ट्रेकिंग रूट सबसे ज्यादा मनोरम है। इस रास्ते पर हरे भरे घास के मैदान और...

    + अधिक पढ़ें
  • 09सिमतोला

    सिमतोला

    अल्मोड़ा से 3 किमी दूर स्थित सिमतोला घने हरे देवदार और सरो के पेड़ों से घिरा हुआ है। काफी समय पहले इस जगह ग्रेनाईट का पहाड़ हुआ करता था और यहां हीरे के खदान थे। पिकनिक मनाने के लिए यह जगह काफी प्रसिद्ध है और यहां से देवदार के पेड़ों से ढंके पहाड़ का खूबसूरत नजारा...

    + अधिक पढ़ें
  • 10मरतोला

    मरतोला

    यह जगह भी पिकनिक के लिए काफी प्रसिद्ध है, जो अल्मोड़ा से 10 किमी दूर है। घने हरे भरे जंगल और बगीचे से इसकी सुन्दर और भी बढ़ जाती है, जिससे यहां कई विदेशियों ने अपने घर बना लिए हैं। यहां पहुंचने के लिए पनुवानौला से पैदल यात्र करनी पड़ती है।

     

    + अधिक पढ़ें
  • 11हिरन पार्क

    हिरन पार्क

    अल्मोड़ा से 3 किमी दूर नारायण तिवारी देवाई (एनटीडी) में स्थित हिरन पार्क की ओर भी पर्यटक खूब आकर्षित होते हैं। घने हरे देवदार के पेड़ों से घिरी यह जगह कई जीव जंतुओं के लिए प्राकृतिक आवास है। यहां हिरन, तेंदुआ और हिमालय के काले भालू बखूबी देखे जा सकते हैं। फुर्सत...

    + अधिक पढ़ें
  • 12नंदा देवी मंदिर

    नंदा देवी मंदिर

    कुमाऊं क्षेत्र के पवित्र स्थलों में से एक नंदा देवी मंदिर का विशेष धार्मिक महत्व है। इस मंदिर का इतिहास 1000 साल से भी ज्यादा पुराना है। कुमाऊंनी शिल्पविधा शैली से निर्मित यह मंदिर चंद वंश की ईष्ट देवी को समिर्पत है। इसका निर्माण शिव मंदिर के बाहरी दलान पर किया...

    + अधिक पढ़ें
  • 13चित्तई मंदिर या चैती मंदिर

    चित्तई मंदिर या चैती मंदिर

    चैती मंदिर के नाम से प्रसिद्ध चित्तई मंदिर अल्मोड़ा से 6 किमी दूर है। यह मंदिर कुमाऊं क्षेत्र के पौराणकि भगवान और शिव के अवतार गोलू देवता को समिर्पत है। ऐसी मान्यता है की इस मंदिर का निर्माण चंद वंश के एक सेनापति ने 12वीं शताब्दी में करवाया था।

    पहाड़ी पर...

    + अधिक पढ़ें
  • 14गोविंद बल्लभ पंत संग्रहालय या राजकीय संग्रहालय

    गोविंद बल्लभ पंत संग्रहालय या राजकीय संग्रहालय

    माल रोड पर स्थित गोविन्द बल्लभ पंत राजकीय संग्रहालय भी भारी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करता है। यहां सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और पुरातत्व से सम्बंधित सामिग्रयों का विशाल संकलन है। इस संग्रहालय में कत्यूरी और चंद वंश से सम्बंधित लेख भी देखे जा सकते हैं। इसके अलावा...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
17 Oct,Thu
Return On
18 Oct,Fri
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
17 Oct,Thu
Check Out
18 Oct,Fri
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
17 Oct,Thu
Return On
18 Oct,Fri
  • Today
    Almora
    25 OC
    78 OF
    UV Index: 7
    Sunny
  • Tomorrow
    Almora
    15 OC
    60 OF
    UV Index: 7
    Sunny
  • Day After
    Almora
    16 OC
    61 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy