असम भ्रमण के दौरान बक्सा के इन शानदार स्थलों को न भूलें


गुवाहाटी से लगभग 87 कि.मी की दूरी पर स्थित बक्सा, पूर्वोत्तर भारत के असम राज्य का एक खूबसूरत जिला है, जो अपने वन संपदा, वन्य जीवन और प्राकृतिक आकर्षणों के लिए जाना जाता है। इस जिले में अधिकतर भागों में बोडो जनजाति का निवास है। यह जनजाति प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से यहां के वन्य क्षत्रों पर आश्रित है। यह जनजाति आज भी अपनी पारंपरिक जीवन शैली का अनुसरण करती है।

बक्सा की यात्रा के दौरान आप यहां की स्थानीय जनजाति के रहन सहन और संस्कृति को करीब से देख सकते हैं। एक प्रकृति प्रेमी और वन्यजीवन उत्साही के लिए यह स्थल किसी जन्नत के कम नहीं। इस लेख के माध्यम से जानिए पर्यटन के लिहाज से बक्सा आपको किस प्रकार आनंदित कर सकता है, जानिए यहां के प्रसिद्ध स्थलों के बारे में।

मानस वन्यजीव अभयारण्य

PC- Dasdhritiman

बक्सा भ्रमण की शुरुआत आप यहां के विश्व प्रसिद्ध मानस वन्यजीव अभयारण्य से कर सकते हैं। मानस देश के चुनिंदा खास अभयारण्यों में गिना जाता है, जिसे यूनेस्को द्वारा प्राकृतिक विश्व धरोहर घोषित किया जा चुका है। सिर्फ यह ही नहीं 950 वर्ग कि.मी के क्षेत्र में फैला यह वन्य क्षेत्र अपने टाइगर रिजर्व, हाथी रिजर्व और बायोस्फीयर रिजर्व के लिए भी जाना जाता है, जहां आप हाथी और बाघों के अलावा कई जंगली जीवों को देखने का अवसर प्राप्त कर सकते हैं।

आप यहां गोल्डन लंगूर, जंगली भैंस, तेंदुआ, चीता, गौर, गोल्डन बिल्ली, हिरण आदि को देख सकते हैं। इन सब के अलावा यह विशाल वन्यजीव अभयारण्य कई पक्षी प्रजातियों को सुरक्षित आश्रय प्रदान करने का काम भी करता है।

मानस सौशी खोनखोर

वन्यजीव अभयारण्य के अलावा आप यहां के प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट मानस सौशी खोनखोर की सैर का प्लान बना सकते हैं। यह एक लोकप्रिय इक टूरिज्म प्लेस है, जो वनस्पतियों की कई प्रजातियों का घर भी माना जाता है। यह उद्यान तब ज्यादा खूबसूरत और आकर्षक लगता है, जब यहां चारों तरफ फूल खिलना शुरु हो जाते हैं, और उन फूलों पर जब तितलियां मंडराने लगती हैं। एक प्रकृति प्रेमी और एकांत स्थल के खोजी के लिए यह स्थल किसी जन्नत से कम नहीं।

पहाड़ी पृष्ठभूमि और नदि के आकर्षण के साथ यह स्थल सैनानियों को काफी ज्यादा प्रभावित करता है। अगर आपका भाग्य अच्छा रहा तो आप यहां कई जंगली जीवों को भी देख सकते हैं। आप यहां एक शानदार समय अपने परिवार या दोस्तों के साथ बिता सकते हैं।

मोइना पुखुरी

बक्सा के पर्यटन स्थलों की श्रृंखला में आप यहां के खूबसूरत मोइन पुखुरी स्थल की सैर का प्लान बना सकते हैं। यह बक्सा एक एकमात्र ऐसा खास स्थल है, जहां आप ट्रेकिंग जैसी रोमांचक गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं। यह स्थल भारत-भूटान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित है, जहां साहसिक ट्रैवलर जाना ज्यादा पसंद करते हैं। बता दें कि यहां ट्रेकिंग के माध्यम से ही पहुंचा जकता है, मोटर वाहन यहां के पहाड़ी रास्तों में सफर नहीं कर सकते हैं। अपनी बक्सा यात्रा को रोमांचक बनाने के लिए आप यहां आ सकते हैं।

बोगामाटी

उपरोक्त स्थलों के अलावा आप यहां के अन्य खास पर्यटन स्थल बोगामाटी की सैर का प्लान बना सकते हैं। बोगामाटी, भारत-भूटान सीमा पर स्थित बक्सा का एक टूरिस्ट स्पॉर्ट है, जो घने जंगलों और प्राकृतिक आकर्षणों से घिरा हुआ है। बोगामाटी स्थानीय और दूर दराज के पर्यटकों का एक पसंदीदा पिकनिक स्पॉट है, जहां वीकेंड पर अच्छी चहल पहल बनी रहती है। यहां से होकर गुजरती बगनदी नदी इस स्थल को खास बनाने का काम करती है। एक शानदार अनुभव के लिए आप यहां आ सकते हैं।

कैसे करें प्रवेश

बक्सा, असम का एक प्रसिद्ध जिला है, जहां आप परिवहन के तीनों साधनों की मदद से आ सकते हैं, यहां का निकटवर्ती हवाईअड्डा गुवाहाटी एयरपोर्ट है, रेल मार्ग के लिए आप नलबारी रेलवे स्टेशन का सहारा ले सकते हैं, जो गुवाहाटी से सीधे जुड़ा हुआ है। इसके अलावा आप यहां सड़क मार्गों के द्वारा भी पहुंच सकते हैं। बेहतर सड़क मार्गों से बक्सा राज्य के बड़ों शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

Read More About: travel tourism assam wildlife
Have a great day!
Read more...

English Summary

Manas is counted among best sanctuaries of the country, which has been declared as Natural World Heritage by UNESCO. Not only this, it is also known for its tiger reserve, elephant reserve and biosphere reserve. This Sanctuary spreaded over an area of 950 sq km, where you can see many animals besides elephants and tigers.