आंध्र प्रदेश पर्यटन – विस्मय के साथ साक्षात्कार

होम » स्थल » » अवलोकन

वर्तमान आंध्र प्रदेश में आंध्र प्रदेश के पूर्व के दो क्षेत्रों रायलसीमा और तटीय आंध्र को शामिल किया गया है। ज्ञात हो कि जून 2014 में भारतीय संसद में आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम बिल के  तहत राज्य से तेलंगाना को निकाल के एक प्रथक राज्य घोषित कर दिया गया है।

भौगौलिक तौर पर आज आंध्र प्रदेश में अनंतपुर, चित्तूर, कडपा, कुर्नूल, श्रीकाकुलम, विज़िअनगरम,पूर्व गोदावरी, पश्चिम गोदावरी, गुंटूर, प्रकासम, नेल्‍लोर और कृष्णा जिलों को शामिल किया गया है।   

आंध्र प्रदेश में पर्यटन

आज आंध्र प्रदेशपर्यटन का हब बन गया है, जहां ज्यादातर पर्यटक तिरुपति की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। ज्ञात हो कि आज तिरुपति का शुमार आंध्र प्रदेश के प्रमुख पर्यटक स्थल के तौर पर होता है। तिरुपति स्थित बालाजी मंदिर के अलावा यहां कई अन्य धार्मिक साइटें जैसे कपिला तीर्थम और पुलिकट झील भी  मौजूद हैं जो देश दुनिया के पर्यटकों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कर रही हैं ।   

आंध्र प्रदेश की संस्कृति

कहा जा सकता है कि सीमंधरा वो स्थान है जहां से दक्षिण भारत में कला, संगीत, कविता और साहित्य का संचार हुआ है। इस स्थान की ख़ास बात ये है कि अलग अलग राजों द्वारा राज करे जाने के चलते आपको यहां राज्य की मुख्य भाषा तेलुगू में भी अंतर दिखेगा और कई अलग अलग तरह से आपको राज्य में तेलुगू का उच्चारण दिखेगा जिस कारण आपको यहां एक साथ कई संस्कृतियों की झलक दिखेगी।     

कुचिपुड़ी का जन्मस्थान

ज्ञात को की आज आंध्र प्रदेश को अपने विश्व प्रसिद्ध नृत्य कुचिपुड़ी के कारण भी जाना जाता है। इस नृत्य का नाम कृष्णा जिले के दिवि तालुक में स्थित कुचिपुड़ी गावं के ऊपर पड़ा, जहाँ के रहने वाले ब्राह्मण इस पारंपरिक नृत्य का अभ्यास करते थे।

आंध्र प्रदेश का भोजन

चावल आंध्र प्रदेश का प्रमुख भोजन है। साथ ही यहां कि अलग अलग करियों का शुमार दक्षिम भारत की सबसे तेज और मसालेदार करियों के तौर पर भी होता है। यहां के तटीय क्षेत्रों में आपको प्रचुर मात्रा में सी फ़ूड मिल जायगा जिसके स्वाद की कल्पना शब्दों में नहीं की जा सकती। चूंकि रायलसीमा दक्षिण कर्नाटक और तमिल नाडू से अपनी सरहदों को साझा करता है इस कारण आपको राज्य के खानों में इन दो राज्यों की भी झलक मिल जायगी। आपको बताते चलें कि आज बोरुगू उंडालू, अत्तिरासालू और मसाला बोरुगुलू जैसी डिशों को राज्य के लोगों के अलावा दूसरे स्थानों से आये लोगों द्वारा भी बहुत पसंद किया जाता है।     

वाहन और कनेक्टिविटी

विशाखापट्टनम हवाई अड्डा, आंध्र प्रदेश का प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय हवाई है। जो राज्य को देश के प्रमुख हिस्सों से जोड़ने के अलावा विदेश से भी जोड़ता है। विजयवाडा और राजामुंद्री में यहां का घरेलू हवाई अड्डा भी मौजूद है। देश के सभी प्रमुख शहरों से ट्रेन और बस के जरिये आप आसानी से आंध्र प्रदेश पहुँच सकते हैं।   

Please Wait while comments are loading...