Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » भागलपुर » आकर्षण
  • 01खानगाह - ए - शाहबजिया

    खानगाह - ए - शाहबजिया

    खानगाह - ए - शाहबजिया, मुसलमानों के एक पवित्र स्‍थल है। इस स्‍थल के बारे में कई फारसी और अरबी किताबों में उल्‍लेख मिलता है। खानगाह - ए - शाहबजिया के पास में ही एक लाइब्ररी स्थित है जिसमें कई पारसी और अरबी किताबें है जो यहां की सुंदरता और महत्‍व में...

    + अधिक पढ़ें
  • 02मंदार पर्वत

    मंदार पर्वत

    मंदार पर्वत, लगभग 700 फीट की ऊंचाई पर स्थित एक छोटा सा पहाड़ है। इस पहाड़ को मंदार हिल के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू और जैन धर्म के अनुयायी के लिए इस पहाड़ पर मंदिर बने है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, इस पहाड़ पर एक ज्‍योर्तिलिंग स्‍थापित किया गया था, और...

    + अधिक पढ़ें
  • 03महर्षि मेही आश्रम

    महर्षि मेही आश्रम

    महर्षि मेही आश्रम, गंगा नदी के किनारे पर स्थित है। कुप्‍पाघाट, भागलपुर में महर्षि मेही आश्रम का धार्मिक स्‍थल के रूप में विशेष स्‍थान है जहां हर साल हजारों पर्यटक दर्शन करने आते है। महर्षि मेही के अनुयायी, हर साल यहां गुरूवार पूर्णिमा के अवसर पर कई...

    + अधिक पढ़ें
  • 04कुप्‍पा घाट

    कुप्‍पा घाट

    कुप्‍पा का अर्थ होता है - गुफा या सुरंग और घाट। यह एक स्‍थान है जो नदी के तट पर स्थित है। कुप्‍पा घाट, गंगा नदी का एक तट है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, महान संत महर्षि जी ने इस गुफा में कई महीने चटाई पर बिताएं थे। कुप्‍पाघाट में खूबसूरत बगीचे है...

    + अधिक पढ़ें
  • 05बुरहानाथ मंदिर

    बुरहानाथ मंदिर

    बुरहानाथ मंदिर को दुधेश्‍वर मंदिर के नाम से भी जाना जाता है जो एक ऐतिहासिक मंदिर है और भगवान शिव को समर्पित है। यह मंदिर गंगा नदी के तट पर स्थित है।

    + अधिक पढ़ें
  • 06अजगईविनाथ धाम

    अजगईविनाथ धाम

    अजगईविनाथ धाम को गाईबिनाथ महादेव मंदिर के नाम से भी जाना जाता है जो भागलपुर का सबसे प्रसिद्ध है। यहां भगवान शिव की आराधना की जाती है। इस म‍ंदिर का अस्तित्‍व अभी तक एक रहस्‍य बना हुआ है। कुछ लोगों का मानना है कि स्‍वंभू धाम है। अजगईविनाथ धाम, एक...

    + अधिक पढ़ें
  • 07माउंट मंदारा

    माउंट मंदारा, एक पहाड़ का नाम है जिसका उल्‍लेख हिंदू पुराणों में समुद्र मंथन के दौरान मिलता है। पुराणों में इस पहाड़ी के बारे में कई बार वर्णन हुआ है, इसे भगवान कृष्‍ण का उनके विध्‍वंसक अवतार में निवास स्‍थान भी बताया गया है।

    इस पहाड़ी की...

    + अधिक पढ़ें
  • 08विक्रमशिला यूनीवर्सिटी

    विक्रमशिला यूनीवर्सिटी, भारत की प्राचीन बौद्ध शिक्षा देने वाली दो यूनीवर्सिटी में से एक है जिसे पाल वंश के दौरान स्‍थापित किया गया था। विक्रमशिला यूनीवर्सिटी की स्‍थापना, राजा धर्मापाल ने की थी, जब उन्‍होने नालंदा में शिक्षा की गुणवत्‍ता में गिरावट...

    + अधिक पढ़ें
  • 09मां काली मंदिर

    मां काली मंदिर

    मां काली मंदिर, मलयपुर गांव के भरहाट ब्‍लॉक में स्थित है। यह मंदिर,यहां आने वाले हर पर्यटक के खास आकर्षण होता है। इस मंदिर में देवी काली की आराधना की जाती है। हर साल यहां काली मेला लगता है जिसमें दूर - दूर से पर्यटक आते है और शामिल होते है।

    + अधिक पढ़ें
  • 10गुरान शाह पीर बाबा की दरगाह

    गुरान शाह पीर बाबा की दरगाह

    गुरान शाह पीर बाबा की दरगाह, क चैरी चौक के पास में स्थित है और यह उनके अनुयायियों के बीच अत्‍यधिक प्रसिद्ध है। यहां सभी धर्मो- हिंदू, मुस्लिम, सिक्‍ख और ईसाई के लोग दर्शन करने आते है। हर शुक्रवार को यहां भारी भीड़ लगती है। लोग इस दिन पीर बाबा की दुआ लेने...

    + अधिक पढ़ें
  • 11विक्रमशिला सेतु

    विक्रमशिला सेतु

    विक्रमशिला सेतु, गंगा पर निर्मित एक पुल है जिसका नाम विक्रमशिला यूनीवर्सिटी के नाम पर रखा गया था। विक्रमशिला सेतु, भारत का तीसरा सबसे बड़ा पुल है और यह राष्‍ट्रीय राजमार्ग 80 और 31 के समानांतर और गंगा के विपरीत दिशा में बनाया गया है। यह पुल, भागलपुर के परिवहन...

    + अधिक पढ़ें
  • 12विक्रमशिला गंगा डॉल्फिन अभयारण्‍य

    विक्रमशिला गंगा डॉल्फिन अभयारण्‍य, गंगा की डॉल्फिनों से भरा एक प्रमुख आकर्षण स्‍थल है। इन जीवों को वर्तमान में लगभग लुप्‍तप्राय घोषित कर दिया गया है। इस अभयारण्‍य में मीठे पानी वाले कछुए और 135 अन्‍य प्रजातियों के जीव रहते है। यहां का यात्रा का...

    + अधिक पढ़ें
  • 13संदिश परिसर

    संदिश परिसर

    संदिश पर्वत में 30 पुराने पार्क और चिडियाघर है। यह खानजारपुर में स्थित है। संदिश परिसर में एक दूरदर्शन सेंटर स्थित है।

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
17 Feb,Sun
Return On
18 Feb,Mon
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
17 Feb,Sun
Check Out
18 Feb,Mon
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
17 Feb,Sun
Return On
18 Feb,Mon
  • Today
    Bhagalpur
    20 OC
    68 OF
    UV Index: 8
    Sunny
  • Tomorrow
    Bhagalpur
    17 OC
    62 OF
    UV Index: 9
    Partly cloudy
  • Day After
    Bhagalpur
    18 OC
    64 OF
    UV Index: 8
    Partly cloudy