Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » गडग » आकर्षण
  • 01मगदी पक्षी अभयारण्य

    मगदी पक्षी अभयारण्य

    पर्यटकों मगदी पक्षी अभयारण्य जा सकते हैं, जो मगदी टैंक सर मगदे केरे पर स्थित है, जो गडग से 26 किलोमीटर दूर स्थित है। मगदी टैंक 134 एकड़ के क्षेत्रफल में फैला है और 900 हेक्टेयर के क्षेत्र में जलाशय है। टैंक की तरफ से, कावेरी नदी की एक शाखा बहती है, जहां पर्यटक...

    + अधिक पढ़ें
  • 02सोमेश्वर मंदिर

    सोमेश्वर मंदिर

    अगर समय हो तो गडग की यात्रा पर पर्यटक सोमेश्वर मंदिर की यात्रा कर सकते हैं। मंदिर गडग से 22किमी की दूरी पर स्थित कोटूमचगी गांव में है। मंदिर के आसपास के क्षेत्र में, एक झील और एक दरगाह है, जहां प्रसिद्ध कवि चामरस ने अपना प्रसिद्ध महाकाव्य प्रभुलिंगलीला लिखी थी।

    + अधिक पढ़ें
  • 03श्री राम मंदिर

    श्री राम मंदिर

    श्री राम मंदिर बेलाढाबी ग्राम, गडग जिला, कर्नाटक में स्थित है। मंदिर में श्री राम, लक्ष्मण और सीता की सुंदर मूर्तियां स्थापित हैं, ये सभी मूर्तियां सबसे प्रतिष्ठित संतों में से एक, श्री ब्रह्मानंद महाराज द्वारा रखी गई थीं। हर साल उगादि की पूर्व संध्या से रामनवमी...

    + अधिक पढ़ें
  • 04नारायण मंदिर

    नारायण मंदिर

    नारायण मंदिर, जिसे पद्मबबारसी बसाडी भी कहते हैं, यह एक जैन मंदिर है, जिसका निर्माण 950 ई. में कृष्‍णा तृतीय के काल में हुआ था। यह गंगा गंगा पेरमाडी भुताया की शासक रानी पद्मबबारासी, द्वारा मंजूर किया गया था। यह मंदिर कर्नाटक में मौजूद सबसे बड़ो राष्ट्रकूट...

    + अधिक पढ़ें
  • 05हज़रत-जिंदाशव अली दरगाह और दुर्गा देवी मंदिर

    हज़रत-जिंदाशव अली दरगाह और दुर्गा देवी मंदिर

    कोटूमाचगी की ओर जाने वाले सभी पर्यटक हज़रत-जिंदाशव अली दरगाह और दुर्गादेवी मंदिर जा सकते हैं। कहा जाता है कि बिना किसी सांप्रदायिक विवाद के इस दरगाह और मंदिर दोनों का रखरखाव मुसलमानों और हिंदुओं दोनों के द्वारा होता है। यह भी कहा जाता है कि एक प्रसिद्ध कवि चामरासा...

    + अधिक पढ़ें
  • 06त्रिकुटेश्वर मंदिर परिसर

    त्रिकुटेश्वर मंदिर, उत्तरी कर्नाटक के गडग कस्बे में एक लोकप्रिय शैव मंदिर है। इस मंदिर में एक ही पत्थर पर तीन शिवलिंग एक अद्वितीय दृष्टि है। इस मंदिर के पूर्वी हिस्से में भगवान ब्रह्मा, भगवान शिव और भगवान विष्णु का प्रतिनिधित्व करने वाले तीन लिंग हैं। त्रिकुटेश्वर...

    + अधिक पढ़ें
  • 07सुदी

    सुदी

    सुदी कुछ अद्वितीय पत्थर की खुदी हुई स्मारकों के लिए जाना जाने वाला गडग जिले का एक प्रसिद्ध शहर है। हालांकि इस शहर में मौजूद संरचनाएं पहले अच्छी तरह से ज्ञात नहीं थीं, सुदी के भारतीय पुरातात्विक विभाग, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के दायरे में आने के बाद इसने...

    + अधिक पढ़ें
  • 08नरगुंड का किला

    नरगुंड का किला

    नरगुंड किला कर्नाटक में गडग जिल के नरगुंड कस्‍बे का मुख्य आकर्षण है। यह छत्रपति शिवाजी द्वारा 1675 के आस-पास बनवाये गये दो किलों में से एक है, दूसरा रामदुर्ग किला है। 1691-92 में इस पर औरंगजेब ने कब्जा कर लिया था और लेकिन फिर रामराव दादाजी भावे ने दोबारा...

    + अधिक पढ़ें
  • 09श्री जगद्गुरु बुधिमहास्‍वामिगला संस्‍थान मठ

    श्री जगद्गुरु बुधिमहास्‍वामिगला संस्‍थान मठ

    गडग की एक यात्रा जाने की योजना बना रहे पर्यटक श्री जगद्गुरु बुधिमहास्‍वामिगला संस्‍थान मठ जा सकते हैं। यह मठ अंतुर बेंतुर में स्थित है, एक कस्‍बा जहां अधिकांश निवासी कृषि पर निर्भर हैं। यह माना जाता है कि श्री जगद्गुरु बुधिमहास्‍वामिगलु करीब 775...

    + अधिक पढ़ें
  • 10कुर्तकोटि में मंदिर

    कुर्तकोटि में मंदिर

    कूर्तकोटि, गदग जिले में स्थित एक गांव, यहां स्थित मंदिरों के लिए पर्यटकों के बीच अच्छी तरह से जाना जाता है। श्री उग्र नरसिंह मंदिर, विरुपक्षलिंग मंदिर और दत्तात्रेय मंदिर इस गांव में वर्तमान के प्रमुख हिंदू पूजा करने वाले स्थानों में से कुछ हैं। इन के साथ, राम...

    + अधिक पढ़ें
  • 11हारती

    हारती

    कई प्राचीन और आधुनिक मंदिरों के लिए प्रसिद्ध हारती, कर्नाटक के गडग जिले में स्थित एक छोटा सा कस्‍बा है। इस कस्‍बे में स्थित एक प्राचीन मंदिर चालुक्य वंश के शासन के दौरान बनाया गया था, जो पार्वती परमेश्वर मंदिर (श्री उमा महेश्वर मंदिर के रूप में भी जाना...

    + अधिक पढ़ें
  • 12रॉन में ऐतिहासिक स्मारक

    रॉन में ऐतिहासिक स्मारक

    रॉन, अपने ऐतिहासिक महत्व के लिए जाने जाने वाले गडग के प्रसिद्ध कस्‍बों में से एक है।यह माना जाता है कि प्राचीन काल में रॉन का नाम द्रोणापुर था और यहां पर प्रसिद्ध प्राचीन वास्‍तुकार और योद्धा पुजारी द्रोणाचार्य ने मंदिरों का निर्माण कराया था। कुछ...

    + अधिक पढ़ें
  • 13गजेंद्रगढ़ (पहाड़ी पर शिवाजी का ऐतिहासिक किला और कलाकालेश्‍वर मंदिर)

    गजेंद्रगढ़ हर तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ एक छोटा सा तीर्थ शहर है। शहर क्षेत्र के ऐतिहासिक स्थलों में से एक के रूप में जाना जाता है, जहां शिवाजी का किला और कलाकालेश्‍वर मंदिर स्थित हैं। शिवाजी के किला का ऐतिहासिक महत्व है, जो पश्चिमी चालुक्य स्मारकों के बीच...

    + अधिक पढ़ें
  • 14डोड्डा बसप्पा

    डोड्डा बसप्पा (डांबला मंदिर), अपने बहुकोणीय तारकीय आकार के लिए जाना जाता है, साथ में कई अन्‍य धार्मिक स्‍थलों का समूह डांबला में स्थित हैं। इस मंदिर में एक शिव लिंग है, जो क्षेत्रीय देवता भगवान शिव का निशान है। इसकी बारीक नक्काशी और सुंदरता के लिए...

    + अधिक पढ़ें
  • 15सरस्वती मंदिर

    सरस्वती मंदिर

    सरस्वती मंदिर गडग, कर्नाटक में त्रिकुटेश्‍वर मंदिर परिसर में स्थित है। यह मंदिर, जो प्राचीन चालुक्य कला का दावा करता है, सजे हुए खंभे और खूबसूरती से तराशे हुए पोर्च और स्तंभों से सुशोभित है। कुछ असामाजिक तत्वों के कारण, सरस्वती देवी की मूल मूर्ति, खराब हो गयी...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
23 May,Thu
Return On
24 May,Fri
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
23 May,Thu
Check Out
24 May,Fri
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
23 May,Thu
Return On
24 May,Fri
  • Today
    Gadag
    28 OC
    82 OF
    UV Index: 8
    Partly cloudy
  • Tomorrow
    Gadag
    27 OC
    80 OF
    UV Index: 8
    Partly cloudy
  • Day After
    Gadag
    25 OC
    77 OF
    UV Index: 8
    Partly cloudy