Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » लोनावाला » आकर्षण
  • 01मछली पकड़ना

    मछली पकड़ना

    लोनावाला महाराष्ट्र में मछली पकड़ने की गतिविधियों का केंद्र है, एक कम ज्ञात तथ्य है। झीलों और इस क्षेत्र में पाये जाने वाले बांधों की संख्या लोनावाला को सभी प्रकार के मछली पकड़ने की गतिविधियों के लिए एक प्राथमिक केंद्र बनाता है। हिल स्टेशन का पुरवा मछली पकड़ने के...

    + अधिक पढ़ें
  • 02वलवन झील

    वलवन झील

    वलवन कुन्डाली नदी के आर-पार बनाया गया लोनावाला में स्थित है। यह एक कृत्रिम झील है जिसके बांध को एक ही नाम से जाना जाता है। झील के एक तरफ एक सुंदर बगीचा है।

    झील, बांध और उद्यान के साथ संयुक्त रूप से एक लोकप्रिय विश्राम स्थल प्रदान करती है।

    + अधिक पढ़ें
  • 03बुशी बांध

    बुशी बांध

    बुशी बांध लोनावाला में एक बड़ा और प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट है। बांध सुरम्य क्षेत्रों और रसीली हरी वनस्पति की पृष्ठभूमि पर रेखांकित है। लोनावाला में एक अत्यधिक प्रतिष्ठित स्थान, यह बांध एक आदर्श पिकनिक स्पॉट है। 

    जो शांत और आरामदायक माहौल बनाता है। इस जगह...

    + अधिक पढ़ें
  • 04श्रीवर्धन किला

    श्रीवर्धन किला

    मराठा शासकों के इतिहास के साथ, श्रीवर्धन किला एक प्राचीन किला जो राजमची शहर के पूर्वी क्षेत्र में स्थित है। वास्तुकला के प्रति उत्साही तुरंत ही मराठा शैली वास्तुकला को पहचान लेते हैँ।किले को राजमची में चोटियों के एक शिखर पर बनाया गया है, ताकि एक निचले क्षेत्र...

    + अधिक पढ़ें
  • 05तुंगरली बांध और झील

    तुंगरली बांध और झील

    तुंगरली झील एक एक मनोहारी पृष्ठभूमि के साथ अच्छी तरह से व्यवस्थित झील के किनारे स्थित है, जो जगह की सुंदरता बढ़ाते हैं। तुंगरली बांध इस झील के आर-पार बनाया गया है, एक प्रसिद्ध सप्ताहांत स्थल है।

    तुंगरली गांव, सह्याद्री पर्वतमाला की पहाड़ियों से, नीचे...

    + अधिक पढ़ें
  • 06राजामची वन्यजीव अभयारण्य

    राजामची वन्यजीव अभयारण्य

    राजामची वन्यजीव अभयारण्य के सभी तरफ से घने हरे जंगलों से घिरा हुआ है। यह लोनावाला के सुरम्य स्थान में स्थित है। अभयारण्य पश्चिमी घाट के पहाड़ी इलाकों में सहयाद्री की पहाड़ियें पर स्थित है और एक प्राचीन रूप में अपनी वन्य जीवन को प्रदर्शित करता है। प्रकृति से प्यार...

    + अधिक पढ़ें
  • 07भैरवनाथ मंदिर

    भैरवनाथ मंदिर

    भैरवनाथ देवस्थान लोनावाला के पास राजमची में ढाक नामक जगह पर स्थित है। इस भव्य पुराने मंदिर के मुख्य देवता भैरव के रूप में शिव है। मंदिर वास्तुकला कोंकण क्षेत्र के और शिव मंदिरों  की तरह ही है। मंदिर स्वाभाविक रूप से वन क्षेत्रों रोमांचकारी की पृष्ठभूमि में...

    + अधिक पढ़ें
  • 08ड्यूक की नाक

    ड्यूक की नाक -  ड्यूक वेलिंगटन नाक पर नामित - खंडाला पर स्थित एक चट्टान है। चट्टान एक सांप के सिर जैसा दिखता है और इसलिए स्थानीय स्तर पर नागफणी (नाग - सर्प, फणी -फन) पहाड़ों के ऊपर इस चट्टान तक पहुँचने एक कठिन चढ़ाई करनी पड़ती है।

    आपके प्रयासों का फल...

    + अधिक पढ़ें
  • 09ट्रेकिंग - राजामची

    ट्रेकिंग - राजामची

    यदि ट्रैकिंग की गतिविधि का आप आनंद लेना चाहते हैं तो महाराष्ट्र में राजामची एक प्रसिद्ध ट्रैकिंग स्थान है। चाहे आप ट्रैकिंग पर एक नौसिखिया हो या एक विशेषज्ञ, पश्चिमी घाट और सहयाद्री पहाड़ियों की चट्टानी इलाकों में हल्के से लेकर कठिन सभी प्रकार की ट्रैकिंग अनुभवों...

    + अधिक पढ़ें
  • 10कोली मंदिर

    कोली मंदिर

    लोनावाला में कोली समुदाय के लिए एक मंदिर, कोली मंदिर जनजातीय देवी आई ऐकवीरा का है। यह लोनावाला में कार्ला गुफाओं में की मुख्य चैत्य के बाहर स्थित है।

    कोली जनजाति नवरात्रि और चैत्र जैसे शुभ अवसरों के दौरान मंदिर भारी संख्या में आते हैँ जो कोली नृत्य और लोक...

    + अधिक पढ़ें
  • 11तुंग किला

    तुंग किला

    तुंग किले को इस तरह से बनाया गया है कि दुश्मन के लिए यहाँ पहुँचना बहुत मुश्किल था। कन्थीगढ़ के नाम से प्रसिद्ध है, यह किला में कई मराठा राजाओं के लिए घर था। यह एक अद्भुत 3500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है और अपनी पहाड़ी इलाके की खड़ी चढ़ाइयों  पर शीर्ष तक यात्रा...

    + अधिक पढ़ें
  • 12बिच्छू का डंक

    बिच्छू का डंक

    बिच्छू का डंक लोनावाला में एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। लोनावाला के पश्चिम की ओर बढ़ा विन्हूकटा या बिच्छू डंक एक संकीर्ण, भूमि का एक लंबा टुकड़ा है जो कि शाखाओं के रूप लोहागढ़ किले के आसपास के क्षेत्र में फैलता है। यह जगह एक बिच्छू डंक सादृश्य होने के कारण इसे ऐसा...

    + अधिक पढ़ें
  • 13मरंजन किला

    मरंजन किला

    मरंजन किला लोनावाला में स्थित लोकप्रिय स्मारक है। वर्तमान में किला खंडहर है, लेकिन उन दिनों जब मरंजन किले का निर्माण किया गया था तब यह इतना मजबूत था कि कोई दुश्मन आसानी से नष्ट कर सकता था। मरंजन किला पहाड़ियों के नीचे पठार पर नजर के लिए बनाया गया था।

    सरकार...

    + अधिक पढ़ें
  • 14लोहागढ़ किला

    लोहागढ़ किला

    लोहागढ़ सचमुच 'आयरन किला' है और एक स्मारकीय पहाड़ी किला है जो लोनावाला में सहयाद्री पहाड़ियों पर स्थित है। यह पावना बेसिन और इंद्रायणी बेसिन को विभाजित करता है। यह किला 1050 मीटर से अधिक की ऊंचाई पर स्थित है, बड़े पैमाने पर छत्रपति शिवाजी द्वारा इस्तेमाल किया गया...

    + अधिक पढ़ें
  • 15मोरवी डोंगर

    मोरवी डोंगर

    मोरवी डोंगर तुंग किले और देवगढ़ के बीच एक आकर्षक पहाड़ी है। पक्षियों को देखने के लिए यह रमणीय स्थान लोनावाला में स्थित है। यह कई प्रकार के वनस्पति और पक्षी जीव के प्राकृतिक वास है।

    मोरवी से तुंग किला पथ ट्रैकिंग के लिए एक अच्छा मार्ग बनाता है।

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
24 Feb,Mon
Return On
25 Feb,Tue
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
24 Feb,Mon
Check Out
25 Feb,Tue
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
24 Feb,Mon
Return On
25 Feb,Tue
  • Today
    Lonavala
    26 OC
    79 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy
  • Tomorrow
    Lonavala
    23 OC
    74 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy
  • Day After
    Lonavala
    19 OC
    67 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy