Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » सरगुजा » आकर्षण
  • 01तामोर पिंगला वन्‍यजीव अभयारण्‍य

    तामोर पिंगला वन्‍यजीव अभयारण्‍य

    तामोर पिंगला वन्‍यजीव अभयारण्‍य, उत्‍तरप्रदेश की सीमाओं से लगे सरगुजा जिले में स्थित है। इस अभयारण्‍य का नाम तामोर हिल और पिंगला नल्‍ला के नाम पर रखा गया है। वे इस क्षेत्र के प्राचीन और महत्‍वपूर्ण विशेषताओं वाले स्‍थल है। मोरन नदी, इस...

    + अधिक पढ़ें
  • 02दीपादीह

    छत्‍तीसगढ़ का वर्णन महाभारत और रामायण जैसे प्राचीन ग्रंथों में दक्षिण कौशल के रूप में देखने को मिलता है। समय - समय पर यहां कई शासकों ने शासन किए और पूरे राज्‍य में कई मंदिरों का निर्माण करवाया। सरगुजा एक ऐसा स्‍थान है जहां कई मंदिर स्थित है। सरगुजा में...

    + अधिक पढ़ें
  • 03महामाया मंदिर

    महामाया मंदिर

    महामाया मंदिर, सरगुजा के प्राचीन और प्रसिद्ध तीर्थस्‍थलों में से एक है। यह देवीपुर पर स्थित में और सूरजपुर से 4 किमी. की दूरी पर बना हुआ है। देश के कोने - कोने से दर्शनार्थी यहां दर्शन करने आते है और राज्‍य के इस स्‍थल को विशेष बनाते है। नवरात्रि के...

    + अधिक पढ़ें
  • 04सेमरसोत वन्‍यजीव अभयारण्‍य

    सेमरसोत वन्‍यजीव अभयारण्‍य

    सेमरसोत वन्‍यजीव अभयारण्‍य, अम्बिकापुर से 50 किमी. की दूरी पर स्थित है और सरगुजा के जिला मुख्‍यालय के अंर्तगत आता है। सेमरसोत वन्‍यजीव अभयारण्‍य, 430.36 वर्ग किमी. के क्षेत्र में फैला हुआ है जो अंबिकापुर - दालटोनगंज सड़क पर स्थित है। जयनगर यहां...

    + अधिक पढ़ें
  • 05कुदारगढ़

    कुदारगढ़

    कुदारगढ़, सरगुजा के प्रमुख स्‍थलों में से ए‍क है। यह स्‍थल, अम्बिकापुर से 98 किमी. दूरी पर स्थित है जो सड़क मार्ग से भली - भांति जुड़ा हुआ है। अप्रैल माह में, चैत्र के दौरान, यहां नवरात्र को धूमधाम से मनाया जाता है। यह समय इस स्‍थल की सैर का सबसे...

    + अधिक पढ़ें
  • 06देवगढ़

    देवगढ़

    देवगढ़, अम्बिकापुर से 40 किमी. की दूरी पर और सूरजपुर से 3 5 किमी. की दूरी पर स्थित है जो रिंहद नदी के तट पर स्थित है। देवगढ़, हिंदू धर्म के लोगों लिए प्रसिद्ध स्‍थल है। यहां भगवान शिव या बाबा भोलेनाथ का एक मंदिर है। बाबा भोलनाथ, भारत के ज्‍योर्तिलिंगों में...

    + अधिक पढ़ें
  • 07अम्बिकापुर

    अंबिकापुर सरगुजा जिले का मुख्यालय है और अंग्रेजों के शासनकाल के दौरान एक बार यह गुजरात के राजसी राज्‍य की राजधानी भी रह चुकी है। अंबिकापुर का नाम, देवी अंबिका के या महामाया देवी के नाम पर रखा गया है जो इस जगह का मुख्‍य आकर्षण है। यह एक पहाड़ी पर बना है जो...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
22 May,Wed
Return On
23 May,Thu
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
22 May,Wed
Check Out
23 May,Thu
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
22 May,Wed
Return On
23 May,Thu
  • Today
    Surguja
    33 OC
    91 OF
    UV Index: 8
    Sunny
  • Tomorrow
    Surguja
    28 OC
    82 OF
    UV Index: 9
    Sunny
  • Day After
    Surguja
    29 OC
    84 OF
    UV Index: 9
    Sunny