» »इस बार छुट्टियों का मजा ले गुहागर के बीच किनारे

इस बार छुट्टियों का मजा ले गुहागर के बीच किनारे

Written By: Goldi

गुहागर महाराष्‍ट्र राज्‍य के पश्चिमी तट पर बसा हुआ पर्यटन स्थल है।गुहागर आकर आपको एक तरफ लहराता अरब सागर और दूसरी तरफ विशाल सहयाद्री पर्वत श्रृंखला देखने को मिलेगी। समय निकालकर अपने परिवार के साथ यहां घूमने अवश्‍य आएं। हम आपको गुहागर के बारे में बताते है कुछ और बातें,जो आपको यहां की सैर के दौरान हेल्‍प करेगी।

इस शहर में काफी स्‍वच्‍छ और शांत वातावरण वाले समुद्र तट स्थित है जहां सूर्य की रोशनी पड़ते ही पानी और रेत जगमगा उठता है। यहां का वर्जिन तट 6 किमी. के क्षेत्रफल में फैला हुआ है जिसमें नारियल के पेड़ो की भरमार है। यहां आकर गुहागर की कोंकण सस्‍ंकृति देखने को मिलती है।

गुहागर अपने रेतीले समुद्र तटों और वाटर स्पोर्ट्स की सुविधाओं की मेजबानी के साथ, एक आदर्श छुट्टी गंतव्य है। गुहागर उष्णकटिबंधीय फलों के लिए भी जाना जाता है जैसे अल्फ़ोंसो आम, काजू ।

गुहागर बीच

गुहागर बीच

गुहागर बीच अछूता तट,सफेद रेत,मनभावन दृश्‍य और पंक्ति से लगे पेड़ गुहागर बीच की शान है।तट के किनारे कई खाने-पाने वाले स्‍टाल लगे हुए है जहां आप स्‍थानीय व्‍यंजनों के अलावा चटपटे खानों का स्‍वाद भी चख सकते है।साथ ही परिवार के साथ आकर यहां तैराकी का आनंद उठाना न भूलें।PC: wikimedia.org

 गोपालगढ़ पहाड़

गोपालगढ़ पहाड़

गोपालगढ़ पहाड़ गुहागर की सबसे खूबसूरत जगह है। बीते समय में इस पहाड़ी पर गोपालगढ़ किला हुआ करता था, जिसका निर्माण बीजापुर के शासक शिवाजी ने कराया था। इस किले के आसपास की हरियाली पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

वदेश्वर मंदिर

वदेश्वर मंदिर

यह मंदिर महादेव शिव जी जा मंदिर है...जोकि गुहागर बसस्टैंड के पास ही स्थित है। यह मंदिर पंचायत स्थापत्य शैली में निर्मित है।शिव मंदिर केअलावा पर्यटक मंदिर में सूर्य, देवता, गणेश, पार्वती और विष्णु की मूर्तियां और लक्ष्मी जी को देख सकते हैं।PC: wikimedia.org

हिदावी तट

हिदावी तट

किनारे पर अपनी प्राकृतिक कण्ठ के लिए जाना जाता है, उच्च ज्वार के दौरान कण्ठ में घुमा देने वाले पानी के साथ, यह लगभग 20 फीट की ऊंचाई से एक झरने का निर्माण करता है।

कैसे आयें

कैसे आयें

गुहागर आसानी से पहुंचा जा सकता है। यहां आने के लिए मुंबई एयरपोर्ट के रास्‍ते से आना होगा। मुंबई एयरपोर्ट गुहागर से करीबन 300 किमी की दूरी पर स्थित है ।

रेलवे द्वारा
चिपलुन यहां का नजदीकी रेलवे स्‍टेशन है। सड़क से आने वाले यात्री बस की यात्रा का भी लाभ उठा सकते है। यह स्टेशन देश के सभी शहरों से बखूबी जुड़ा हुआ है ।

सड़क द्वारा

सड़क द्वारा

गुहागर राजमार्गो से जुड़ा हुआ है...गुहानगर की मुख्य शहरों से दूरी
मुंबई-300 किमी
पुणे-282 किमी
कोल्हापुर-667 किमी
नागपुर-378 किमी

कब आयें

कब आयें

अरब सागर के तट पर स्थित यह शहर तापमान में साल भर सामान्‍य ही रहता है। मई से सितम्‍बर के दौरान यहां का तापमान पर्यटकों का काफी आरामदायक लगता है।

क्या खाएं

क्या खाएं

पर्यटक यहां आकर कोकोनट जरूर खाएं और उसका पानी पिएं। गुहानगर में शाकाहारी और मांसाहारी दोनों प्रकार का भोजन मिलता है।

 

 

Please Wait while comments are loading...