India
Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »एडवेंचर के शौकीनों के लिए दक्षिण भारत किसी स्वर्ग से कम नहीं

एडवेंचर के शौकीनों के लिए दक्षिण भारत किसी स्वर्ग से कम नहीं

By Goldi Chauhan

आज के दौर में जितना रोमांस जरुरी हैं उतना ही रोमांच। रोमांच से हमारे अंदर एक गजब का आत्मविश्वास पैदा होता हैं, जो हमारे अंदर एक सकारात्मक ऊर्जा को भी संचालित करता हैं। वैसे भी जिंदगी में अगर रोमांच ना हो तो जिंदगी नीरस हो जाती हैं। हम नहीं चाहते की ऐसा कुछ आपके साथ हो। गौरतलब है कि आज दक्षिण भारत के कई ऐसे एडवेंचर स्पॉट्स हैं जिसकी कल्पना एक रोमांच के शौक़ीन व्यक्ति ने शायद ही की हो। तो इसी क्रम में आज अपने इस आर्टिकल के जरिये हम आपको अवगत कराएंगे दक्षिण भारत के टॉप 6 एडवेंचर स्पॉट्स से साथ ही हम आपको ये भी बताएँगे कि ऐसा क्या है जो आपको वहां अवश्य करना चाहिए।

नंदी हिल्स
नंदी हिल्‍स, बंगलौर से 60 किमी. की दूरी पर स्थित है जो समुद्र स्‍तर से 4,851 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। मन को सम्मोहित कर देने वाले परिदृश्य और पहाड़ की चोटियाँ यहाँ की आकर्षक विशेषताएँ हैं। जो इस स्‍थान को आकर्षक पर्यटन स्‍थल बनाता है। इस स्थान की सुंदरता ऐसी है जो किसी भी पर्यटक को मंत्र मुग्ध कर सकती है। यदि आपको इस स्थान की खूबसूरती को महसूस करना है तो आप यहां आकर पैरा ग्लाइडिंग का आनंद अवश्य लें। हमारा दावा है कि ऐसा करके आप जो नज़ारे देखेंगे उसकी कल्पना आपने अपने सपनों में भी न की होगी।

Dubare

Photo Courtesy: Priya Radhakrishnan

कूर्ग
मैसूर से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कूर्ग हिल स्टेशन प्राकृतिक खूबसूरती का प्रतीक है। यह स्थल प्राकृतिक सुंदरता से ओत-प्रोत है। यह दक्षिण भारत की प्रसिद्ध कावेरी नदी का उद्‍गम स्थल है। कूर्ग साहसिक गतिविधियों में रूचि रखने वाले लोगो को बीच कैम्प करने की जगह के रूप में प्रसिद्ध है। इसके अलावा आप यंहा अन्य साहसिक गतिविधि को भी अंजाम दे सकते हैं। इसके अलावा आप ट्रैकिंग और रिवरराफ्टिंग जैसी गतिविधियोँ का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं।

कोडाईकनाल
अगर आप साइकिलिंग और ट्रैकिंग का भरपूर मजा उठाना चाहतें हैं तो आपको रुख करना होगा कोडाईकनाल। दक्षिण भारत का सबसे प्रमुख कोडाईकनाल तमिलनाडु में स्थित है। जो अपनी खूबसूरती के साथ भू-विविधता के लिए भी पसंद किया जाता यहां एक तरफ कोडाई लेक है तो एक तरफ ग्रीन वैली, जहां सीधे 5000 फुट का खड्डा है। यहीं से आप साइलैंट वैली का पूरा नजारा भी ले सकते हैं। पिलर रॉक्सकी खड़ी चट्टानें देखते ही बनती हैं। यहीं गुना गुफाएं भी हैं, जिनके भीतर जाना लगभग नामुमकिन है। वहीं खूबसूरत झरने भी हैं। यहां के चीड़ के जंगल में घुड़सवारी का अपना एक अलग ही मजा है।

नेत्रानी
समुंद्र के नीले पानी में छलांग लगाने का भी अपना एक अलग ही आनंद है। यदि आप समुंद्र के अंदर के जीवन को अनुभव करना चाहते हैं तो आप कर्नाटक स्थित नेत्रानी की यात्रा अवश्य करें। हमारा दावा है कि आपके द्वारा करी गयी ये यात्रा कई मायनों में ख़ास होगी। इस स्थान की यात्रा करके जहां एक तरफ आप प्रकृति के करीब आते हैं तो वहीं इस यात्रा से आपका तनाव भी काम होगा। यदि आप नेत्रानी में हों तो आप स्कूबा डाइविंग करना बिलकुल न भूलें।

मुन्नार
केरल का मुन्नार हिल स्टेशन स्वर्ग से कम नहीं है। तीन पर्वतों की श्रृंखला-मुथिरपुझा, नल्लथन्नी और कुंडल, के मिलन स्थल पर स्थित है मुन्नार। इस हिल
स्टेशन की पहचान है यहां के विस्तृत भू-भाग में फैली चाय की खेती,औपनिवेशिक बंगले, छोटी नदियां, झरनें और ठंडे मौसम से होती है। अगर आप ट्रैकिंग और माउंटेन बाइकिंग के शौक़ीन हैं, तो मुन्नार आपके लिए परफेक्ट प्लेस है।

कन्याकुमारी
तमिलनाडु का कन्याकुमारी अपने खूबसूरत बीच के लिए खासतौर से जाना जाता है। समुद्र के किनारे पर बैठकर उठती लहरों को देखना वाकई बहुत अच्छा लगता है। लेकिन खूबसूरती से ज्यादा यहां के बीच सर्फिंग के लिए जाने जाते हैं। वाटर सर्फिंग के लिए यहां से बेहतरीन शायद ही कोई दूसरी जगह हो। मई से सितंबर के बीच मौसम और हवाओं से यहां की लहरें 3 से 5 फीट तक ऊंची उठती हुई देखी जा सकती हैं, जो कभी-कभी 8-15 फीट तक भी पहुंच जाती हैं। इंडियन ओशियन, अरब सागर और बंगाल की खाड़ी का पानी यहां आकर मिलता है, जिनके अलग रंग के पानी को आसानी से पहचाना जा सकता है।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X