» »हवा के बीच उड़ते हुए देखे बर्फ से लदे हुए पहाड़

हवा के बीच उड़ते हुए देखे बर्फ से लदे हुए पहाड़

Written By: Goldi

उत्तर भारत स्थित हिमाचल प्रदेश एक खूबसूरत राज्य है..यहां पर्यटक हर साल नदियों, पहाड़ों, प्रकृति और भारतीय कल्चर का आनंद उठाने के लिए पहुंचते हैं। यूं तो हिमाचल के ज्यादातर जगहों के बारे में घुमक्कड़ टूरिस्ट्स को मालूम होता ही है लेकिन आज भी ऐसी कई जगहें हैं, जो यूं तो उपलब्धियों के मामले में काफी आगे हैं और कुछ हद तक कमर्शियल होने के बावजूद लोग इस जगह से अंजान हैं। बीर भी एक ऐसी ही जगह है।

ध्वनि और प्रकाश के शो का आनंद लेने के लिए इन स्थानों पर करें यात्रा

बीर हिमाचल की अन्य  जगहों की तरह ज्यादा खासा लोकप्रिय नहीं थी, लेकिन बीते कुछ सालों से यहां साहसिक खेलों के शौक़ीन लोग पहुँचने लगे..जिससे लोग इस जगह को अब जानने लगे हैं।

bir paragliding

बीर दरअसल एशिया के पहले और दुनिया की दूसरी सबसे बेहतरीन पैराग्लाइडिंग साइट के तौर पर जाना जाता है, यानि अगर आपको एक पहाड़ से दूसरे पहाड़ तक हवा में उड़ने का शौक है तो ये जगह आपके लिए ही है।

दक्षिण भारत के खास 5 मंदिर..जायें जरुर

लेंडिंग का स्थान बिल्लिंग है जो बीर से 14 किलोमीटर की दूरी पर है। पैराग्लाइडिंग के लिये प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है और इसे कोई नौसिखिया नही कर सकता। बीर में कई निजी टूर संचालक हैं जो पैराग्लाइडिंग के लिये आवश्यक आधारभूत उपकरण और प्रशिक्षण उपलब्ध कराते हैं। प्रतिवर्ष अक्टूबर के महीने में पर्यटन विभाग,नागरिक उड्डयन विभाग और हिमाचल प्रदेश सरकार यहाँ पैराग्लाइडिंग प्री वर्ल्ड कप प्रतियोगिता आयोजित करती है।

bir paragliding

सामान्य पैराग्लाइडिंग फ्लाइट 20 से 30 मिनट की होती है, जिसमें 8000 फीट की ऊंचाई से उड़ान भरी जाती है। वहीं बीर में 4500 फीट की ऊंचाई पर जाकर इसकी लैंडिंग होती है। बर्फ न गिरने पर इस फ्लाइट से धौलाधर पहाड़ी श्रृंखला और कांगड़ा वैली की खूबसूरती को भी निहारा जा सकता है।

bir paragliding

यूं तो यहां आने का सबसे बढ़िया समय अक्तूबर से जून के बीच है, लेकिन दिसंबर और जनवरी के दौरान पैराग्लाइडिंग का अनुभव बेहद यादगार हो जाता है क्योंकि बर्फ से सने पहाड़ों की खूबसूरती देखने लायक होती है।साल के इन महीनों में कैंपिंग और पैराग्लाइडिंग के लिए बीर बिलिंग एक अद्भुत जगह है और कई टूरिस्ट इस सीजन में यहां अपनी मौजूदगी दर्ज कराते हैं।

Please Wait while comments are loading...