India
Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »मनाली की वो अनछुई जगहें, जिसके बारे में आपको सिर्फ एक लोकल ही बता सकता है

मनाली की वो अनछुई जगहें, जिसके बारे में आपको सिर्फ एक लोकल ही बता सकता है

भारत की खूबसूरती किसी से छिपी नहीं है। यहां आज भी कई ऐसे खूबसूरत स्थान हैं, जिनके बारे में पर्यटक भी नहीं जानते होंगे। जो सिर्फ यहां के लोकल ही बता सकते हैं। पहाड़ों में ऐसी तमाम जगहें आज भी मौजूद है, जिनके बारे में अब धीरे-धीरे लोगों को पता चल रहा है। इन्हीं स्थानों में से देश का एक नगीना मनाली भी है, जहां कुदरत ने अपनी बेशुमार खूबसूरती बिखेरी है।

मनाली की बात की जाए तो यहां के पहाड़ी क्षेत्र, बर्फ से ढंके हुए पहाड़, कटीलेदार वृक्ष पर्यटकों को काफी रोमांचित करते हैं। यहां ऐसी कई पहाड़ियां है, जो अब धीरे-धीरे पर्यटकों के सामने आ रही है, जिनके बारे में आज के पहले कोई नहीं जानता था या शायद कुदरत की इस खूबसूरती तक पहुंच नहीं पाया था। तो आइए इन स्थानों के बारे में आप भी जानिएं और अपनी अगली ट्रिप में इन स्थानों को जोड़िएं, ताकि आपकी अगली ट्रिप काफी शानदार और रोमांचकारी बन सकें।

रुमसू गांव

रुमसू गांव, मनाली से करीब 28 किमी. की दूरी पर स्थित है, जो अपनी संस्कृति के लिए जाना जाता है। यह प्राचीन गांव चंद्रखानी दर्रा का बेस कैंप है। यहां दूर-दूर तक पहाड़, घना जंगल और पास में बहती ब्यास नदी इस जगह की खूबसूरती में चार-चांद लगा देती है। यह एक बेहद खूबसूरत ट्रेकिंग रूट है।

beas river manali

सोयल

सोयल, मनाली से करीब 17 किमी. की दूरी पर स्थित एक गांव है। कुदरत की इस खूबसूरती के बारे में काफी कम ही लोग जानते है। अगर इसे मनाली का सबसे खूबसूरत गांव कहा जाए तो ये गलत नहीं होगा। इस गांव के बीच से कई धाराएं गुजरती हैं जो दूध जैसी सफेद हैं। यहां आने के बाद आप इस कदर इसकी खूबसूरती में खो जाएंगे, जैसे कि आप हकीकत में कुदरत की गोद में आकर बस गए हो।

soyal village manali

चिक्का

मनाली का चिक्का हरियाली से भरपूर है, जो एक खूबसूरत और छिपा हुआ ट्रेकिंग रूट है। खास बात ये हैं कि इस ट्रेकिंग वाले रास्ते पर आपको ज्यादा पर्यटकों की भीड़ देखने को नहीं मिलेगी। घने जंगलों से गुजरने वाला ये ट्रेक दोहंगन नदी के पन्ना नीले पानी तक ले जाता है। इस ट्रेक को पूरा करने में आपको 2 से 3 घंटे का समय लगेगा।

chikka manali

गोशाल गांव

गोशाल गांव, मनाली शहर से करीब 6 किमी. की दूरी पर स्थित है, जो इतना खूबसूरत है कि इसकी खूबसूरती के आगे आपकी सारी थकान मिट जाएगी। पहाड़ों से घिरे और नदी के किनारे बसे इस गांव में सुंदरता में कोई कमी नहीं है। यहां आपको एक छोटा सा ट्रेकिंग रूट भी है। अगर आप भी पहाड़ों में बसे पुराने घरों को देखना पसंद करते हैं तो ये जगह आपके लिए बिल्कुल परफेक्ट है।

manali hills

जाना वॉटरफॉल

मनाली जैसे शहर में आपको अक्सर भीड़-भाड़ और शोर-शराबा देखने को मिल जाएगा। लेकिन अगर आपको ऐसी जगहें पसंद नहीं है और आप एक शांत जगह की तलाश में हैं तो आपको इसके लिए यहां के जाना वॉटरफॉल जाना चाहिए। देवदार के घने जंगलों में बीच स्थित जाना वॉटरफॉल करीब 30 फीट ऊंचा है, जो शांति के साथ-साथ पर्यटकों को काफी सुकून भी देता है। यहां के शांत वातावरण में बैठकर आप इस जगह की सुंदरता को निहार सकते हैं और पानी के मधुर आवाज को भी सुन सकते हैं।

लामाडुग

लामाडुग, मनाली के सबसे प्रमुख स्थानों में से एक है। हिडिंबा देवी मंदिर के पास में स्थित लामाडुम एक ट्रेकिंग रूट है, जो सिर्फ 3 किमी. का है। यह मनाली का सबसे आसान ट्रेकिंग रूट है, जो देवदार के घने जंगलों के बीच से होकर गुजरता है और इस बीच का कुदरती नजारा इस ट्रेकिंग में चार-चांद लगाता है।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X