Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »मणिपुर का सेनापति है यह स्थल, जानिए क्या है इसके पीछे की कहानी

मणिपुर का सेनापति है यह स्थल, जानिए क्या है इसके पीछे की कहानी

सेनापति एनएच 39 पर पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर का एक खूबसूरत जिला है, जो अपने प्राकृतिक आकर्षणों के माध्यम से सैलानियों का ध्यान अपनी ओर खींचता है। यह राज्य के उन छिपे कोनों में गिना जाता है जहां तक ज्यादा पर्यटक-ट्रैवलर्स पहुंच नहीं पाते। मानवीय छेड़छाड़ से अलग सेनापति अपने नाम की तरह शानदार स्थल है। प्रकृति प्रेमियों से लेकर रोमांच के शौकीनों के लिए यहां बहुत कुछ है।

खासकर नए गंतव्य की तलाश कर रहे सैलानियों के लिए यह जगह किसी खजाने से कम नहीं। हरी-भरी पहाड़ियों से लेकर नदियों का कोलहाल, सेनापति में सबकुछ मौजूद है। चूंकि यहां 80% घना जंगल क्षेत्र है तो यहां विभिन्न वनस्पति और जीव-जन्तु भी पाएं जाते हैं। नेटिव प्लानेट की ट्रैवल सफारी में जानिए पर्यटन के लिहाज से मणिपुर का यह शांत स्थल आपके लिए कितना खास है।

यांगखुलेन

यांगखुलेन

PC- Mongyamba

सेनापति जिले से 26 किमी दूर स्थित यांगखुलेन एक छोटा मगर खूबसूरत गांव है। स्थानीय लोगों के मुताबिक यह एक ऐतिहासिक स्थान है जो अपनी बरसों से चली आ रही परंपराओं का पालन करता है। यहां का भ्रमण सांस्कृतिक और प्राकृतिक दोनो की दृष्टि से अहम है। सदियों के बाद भी यहां पुराने रीति रिवाजों और परंपराओं का अनुपालन किया जाता है। यहां के लोग आज भी कलाकृतियों को बनाने के लिए पीढ़ी दर पीढ़ी चले आ रहे ज्ञान का इस्तेमाल करते हैं।

पूरा गांव एक बड़े परिवार की तरह रहता है, और काम मिल बांट किया जाता है। इसके अलावा आप यहां चारों ओर फैली प्राकृतिक सौंदर्यता का भी आनंद ले सकते हैं।

लिया खुलेन

लिया खुलेन

PC- Pouzha

अन्य स्थानों में आप सेनापति शहर से 37 किमी दूर स्थित, लिया खुलेन की सैर का आनंद ले सकते हैं। जो कि एक खूबसूरत गांव है। "लिया खुलेन" नाम का शाब्दिक अर्थ होता है "सागर के लोग"। पुरातात्विक सर्वेक्षण के अनुसार, यह गांव 500 से भी अधिक वर्ष पुराना है। यह सेनापति में सबसे खास पर्यटन स्थलों में गिना जाता है।

इस गांव के गौरवशाली अतीत को आप यहां मौजूद मोनोलिथ पत्थरों के माध्यम से जान सकते हैं। ऐतिहासिक परिदृश्य के साथ यह एक महत्वपूर्ण गंतव्य है। इन सब के अलावा आप यहां की प्राकृतिक खूबसूरती का लुत्फ भी उठा सकते हैं।

मैकहेल

मैकहेल

PC-Ephrii L. Piku

आप यहां के अन्य प्रसिद्ध स्थल मैकहेल का भ्रमण कर सकते हैं। सेनापति के कई समुदायों के लिए यह एक पवित्र स्थल है, जहां आपको ऐतिहासिक स्मारकें देखने को मिल जाएंगी। मैकहेल सेनापति से मात्र कुछ ही दूरी पर स्थित है और जिले में सबसे अधिक देखे जाने वाले स्थानों में शामिल है। यहां एक पवित्र बरगद का पेड़ भी मौजूद है जो नागा मां की कब्र से उगा है।

फ़ेर्वेल मोनोलिथ और ट्रीओ मोनोलिथ इस जगह के दो आकर्षक स्मारक हैं। स्मारकों के अलावा, आप सजुबा पेड़, गगनचुंबी पत्थर और भाग्यशाली पत्थर भी देख सकते हैं।

पुरुल

पुरुल

PC-Houruoha

आप जिले से कुछ दूर स्थित खूबसूरत पर्यटन स्थल पुरुल की सैर का आनंद ले सकते हैं। यहां का भ्रमण आपको मणिपुर की समृद्ध और जीवंत परंपराओं की शानदार झलक देगा। यहां के प्राकृतिक खजानों में कुछ ऐसी जगहें भी मौजूद हैं जिनकी खूबसूरती आपको कुछ पल ठहरने के लिए जरूर विवश करेगी।

बता दें कि यहां कुश्ती और टौटौ(Toutou) का भी खेल भी खेला जाता है। मई में कुश्ती और नए साल के दौरान टौटौ खेला जाता है। इसके अलावा आप यहां पारंपरिक तरीके से की जाने वाली बनाई भी यहां देख सकते हैं।

माओ

माओ

PC- Houruoha

उपरोक्त स्थानों के अलावा आप राज्य के इस खास गंतव्य माओ की सैर का भी प्लान बना सकते हैं। माओ को मणिपुर का प्रवेश द्वार कहा जाता है। यह सेनापति शहर से करीब 45 किमी दूर स्थित है। 'माओ द्वार' कहा जाने वाला यह स्थल सेनापति जिले के साथ-साथ देश के बाकी हिस्सों के लिए राज्य के द्वार खोलता है। यह राज्य का सबसे व्यस्त व्यापारिक शहर भी है क्योंकि मणिपुर के अधिकांश व्यापारिक मार्ग यहीं से गुजरते हैं। इस शहर राज्य कई जनजातियों का निवास स्थान भी है।

यहां आकर आप न सिर्फ प्राकृतिक सुंदरता का आनंद उठा सकते हैं बल्कि आपको यहां की लोक संस्कृति से जुड़ने का मौका भी मिलेगा। यहां आप यहां साज-सज्जा से से लेकर जरूरत की चीजों की खरीदारी भी कर सकते हैं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X