» »पांडिचेरी जा रहे हैं..तो ये काम करना बिल्कुल भी ना भूले

पांडिचेरी जा रहे हैं..तो ये काम करना बिल्कुल भी ना भूले

Written By: Goldi

गर्मियों में अक्सर हम सर्दी का एहसास पाने के लिए ठंडी जगहों की ओर रुख करते हैं तो वहीं सर्दियों में अगर आप गर्मी का एहसास पाना चाहते हैं तो आपको पहुंचना होगा पांडिचेरी ।

पांडिचेरी में आने के बाद आपको एहसास होगा की आप फ़्रांस में हैं..यहां की फ्रेंच नामित सड़कों और फ्रांसीसी वास्तुशिल्प देखने लायक है,साथ ही यहां आपको अधिकतर लोग बड़ी आसानी से फ्रेंच में बात करते मिल जाएंगे।

कश्मीर की वादियों और इतिहास का संगम, नारानाग!

पांडिचेरी तमिलनाडू (चेन्नई) के दक्षिण में 160 किलोमीटर दूर स्थित है।पांडिचेरी में आकर्षण भारतीय संस्कृति और फ्रेंच उपनिवेशवाद के बीच एक अद्वितीय सद्भाव को प्रतिबिंबित करता है। औपनिवेशिक इमारतों, चर्चों और मूर्तियों पांडिचेरी आकर्षण की एक विस्तृत श्रृंखला में योगदान है।

जेजुरी के सुनहरे मंदिर खंडोबा की सुनहरी यात्रा!

पांडिचेरी के रेस्ट्रों में आपको बिना किसी दिक्कत के फ्रेंच फूड खाने को मिल जाएगा। तो अगर आप पांडिचेरी घूमने का प्लान बना रहे हैं. तो इन जगहों की सैर जरुर करें....

सूर्योदय

सूर्योदय

भूरी सी मिट्टी के बाद जो नीले रंग की ज़मीन शुरू होती है, असल में वह समुद्र है, जिसमें से बाहर आता लाल रंग का सूर्य आपको एक अलग सुकून देता है। सूर्योदय के इस पल को आप पांडिचेरी में रह कर गवांना नहीं चाहेंगे।PC:rajmohan

अरबिंदो आश्रम

अरबिंदो आश्रम

श्री अरबिंदो आश्रम पांडिचेरी से 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, श्री अरबिंदो आश्रम तमिलनाडु में सबसे का महत्तवपूर्ण स्थानों में से एक है। आश्रम को 'माँ ' के रूप में जाना जाता है,मीरा अल्फासा और दार्शनिक श्री अरविंद , एक योगी , गुरु और कवि द्वारा स्थापित किया गया है। विश्व भर से लोग यहां अध्यात्म की तलाश में आते हैं. अगर आप अध्यात्मिकता के प्रति जागरूक हैं, तो आप यहां आ सकते हैं।
PC:Aravind Sivaraj

ऐरूवेली

ऐरूवेली

ऑरोविले उत्तर पश्चिम पांडिचेरी से 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ऑरोविले शहर है। ऑरोविले का अस्तित्व 28 फ़रवरी 1968 में आया जब मीरा अल्फासा (जिन्हें मदर के नाम से भी जाना जाता है) ने 1968 में श्री अरबिंदो के लिए स्पिरिचुअल कौलॉर्बेट का निर्माण किया। उनका एकमात्र लक्ष्य था कि विश्व भर के लोग यहां आ कर शांति पा सकें. यहां पर कई प्रकार की वर्कशाप हैं, साथ ही यहां अलग-अलग तरह की थैरपी दी जाती है जो लोगों को शांति की ओर ले जाती है।
PC: Indianhilbilly

समुद्री किनारे

समुद्री किनारे

अगर आप बीच पर मस्ती करना चाहते हैं तो, यहां के बीच सबसे अच्छा आप्शन है..पांडिचेरी में प्रमुख रूप से चार ‘बीच' है- प्रोमिनेंट बीच, पेराडाइस बीच, अरोविले बीच, सैरीनीटी बीच. यहां पर भारत के अन्य बीचों के मुकाबले कम भीड़ देखी जाती है,साथ ही यहां के बीच बेहद ही साफ़-सुथरे भी है..जहां आप अपनी छुट्टियों को यादगार बना सकते हैं।PC:Ehteshaam Khatri

खान-पान

खान-पान

अगर आप सीफ़ूड के शौक़ीन है, तो यह जगह आपके लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। सी फ़ूड के अलावा आप यहां पारंपरिक दक्षिण भारतीय भोजन इडली-डोसे के साथ साथ फ्रेंच फूड का जायका ले सकेंगे।PC:Pushpendrauprety

चर्च

चर्च

पांडिचेरी में करीबन 32 चर्च है...जिनमें लेडी ऐंज्लस चर्च, स्केड हॉट चर्च, डूप्लेक्स चर्च, बेस्लिका ऑफ़ स्केर्ड हॉट ऑफ़ जिजस जैसे चर्चेज़ का नाम बड़े व पुराने चर्चेज़ में गिना जाता है।PC:Jayarathina

फ्रेंच वॉर मैमोरियल

फ्रेंच वॉर मैमोरियल

विश्व युद्ध-1 में शहीद हुए सैनिकों की याद में यहां चार स्तम्भों को आज भी देखा जा सकता हैं...इससे थोड़ी दूरी पर स्टेच्यू ऑफ़ डूप्लेक्स है, जो जोसेफ़ फ्रांककोसिस की याद में बनाया गया था।PC:Sanyam Bahga

ओल्ड लाइट हाऊस

ओल्ड लाइट हाऊस

वर्ष 1836 में बना ओल्ड लाइट हाउस पांडिचेरी का सबसे लोकप्रिय आकर्षणों में से है... पांडिचेरी आने वाले पर्यटक इस जगह की सैर जरुर करते हैं।PC: Karthik Easvur

स्कूबा डाइविंग

स्कूबा डाइविंग

अगर अप एक अच्छे तैरक हैं तो आपको पांडिचेरी में स्कूबा डाइविंग एक बार जरुर करनी चाहिए । स्कूबा डाइविंग के लिए फरवरी से अप्रैल और सितंबर से नवंबर का महीना बेहतर है।PC: Ahmad Faiz Mustafa

पांडिचेरी म्यूज़ियम (संग्रहालय)

पांडिचेरी म्यूज़ियम (संग्रहालय)

प्राचीन समय में पांडिचेरी फ्रांस, ब्रिटेन और डच आदि शासकों के आधीन रहा है। इस म्यूज़ियम में उसी दौर के कुछ दुर्लभ दस्तावेज और ऐतिहासिक वस्तुयों को देखा जा सकता हैं।PC:Prabhupuducherry

चुनांबर बोट

चुनांबर बोट

अगर आप अपने अपने पार्टनर के साथ समुद्र के लहरों के बीच राइडर बनना चाहते हैं तो चुनांबर बोट हाऊस जा कर स्पीड और रेगुलर बोट ले कर समुद्र की हवा खाने पैराडाइस बीच की राइड पर निकल पड़िए।PC:Ekabhishek

ऑस्टेरी

ऑस्टेरी

पांडिचेरी से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित इस झील के किनारे आप पक्षियों के साथ अपना समय बिता सकते हैं। यह झील उन पक्षी प्रेमियों के लिए है स्वर्ग है जो प्रवासी पक्षियों को देखना चाहते हैं। बर्डवाचिंग के अलावा इस झील का नैका विहार भी बहुत प्रसिद्ध है।
PC: Karthik Easvur

अरीका मेडू

अरीका मेडू

पांडिचेरी से 7 किलोमीटर की दूरी पर अरीकामेडु स्थित है। मोर्टिमर व्हीलर उसका सबसे अच्छा खुदाई का आयोजन किया , जहां एक ही स्थान पर स्थित वास्तु चमत्कार है। अरीकामेडु अरीकन - मेडु या पोडुके के रूप में भी जाना जाता है। सजावटी सेरेमिक टाइल्स के टुकड़े , मिट्टी के बर्तन और कांच के टुकड़े भी अरीकामेडु और पांडिचेरी संग्रहालय में प्रदर्शित करते हैं।PC:Jayaseerlourdhuraj

Please Wait while comments are loading...