Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »कुछ खास तस्वीरों में कैद वाराणसी!

कुछ खास तस्वीरों में कैद वाराणसी!

वाराणसी भारत के ऐसे शहरों में से है जो पूरे विश्व में कई कारणों और विशेषताओं के लिए प्रसिद्ध है। आम बोलचाल में जिसे काशी के नाम से भी जाना जाता है, वह वाराणसी देश का सबसे प्राचीन शहर भी कहलाता है और यहाँ की कुछ विशेषताएं ऐसी हैं जो यहाँ आने वाले हर पर्यटक को विस्मय और एक अलग तरह के उल्लास से भर देती हैं।

[वाराणसी का अद्वितीय काँठवाला मंदिर!][वाराणसी का अद्वितीय काँठवाला मंदिर!]

यूँ तो वाराणसी में बहुत कुछ देखने को है। भारत के सात प्रमुख तीर्थस्थलों में से एक होने की वजह से, साल के हर दिन शहर में पर्यटकों और सैलानियों की भीड़ इस दिव्य भूमि की अद्भुत आभा के अनुभव करने के लिए उमड़ती है। यह भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों के स्थानों में से भी एक जगह है।

[वाराणसी की यात्रा में करना न भूलें ये सारी चीजें!][वाराणसी की यात्रा में करना न भूलें ये सारी चीजें!]

हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है कि अगर आप वाराणसी की पवित्र भूमि में मृत्यु को प्राप्त होते हैं तो आपको मोक्ष की प्राप्ति होती है। कई भक्तगण अपने वृद्धावस्था के समय इस जगह पर गंगा नदी में डुबकी लगाने के लिए ज़रूर ही आते हैं जिससे कि उनके सारे पाप धुल जाएँ या मिट जाएँ और उन्हें मोक्ष की प्राप्ति हो।

[यहीं पर देव ब्रह्मा ने अश्वमेध यज्ञ किया था!][यहीं पर देव ब्रह्मा ने अश्वमेध यज्ञ किया था!]

आज हम आपको यहाँ कुछ ऐसे अजीब और खास नज़ारे दिखाएंगे जो आप सिर्फ वाराणसी में ही देख सकते हैं, और ये सारी चीज़ें इस प्राचीन शहर को पूरी दुनिया के समक्ष एक दिलचस्प शहर बनाती हैं।

प्राचीन शहर

प्राचीन शहर

वाराणसी सिर्फ भारत का ही प्राचीन शहर नहीं है, यह पूरे विश्व के प्राचीन शहरों में से एक है। यह लोकप्रिय शहर काशी के नाम से भी जाना जाता है।

Image Courtesy:Wikipedia

मोक्ष प्राप्त करने के लिए

मोक्ष प्राप्त करने के लिए

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, वाराणसी एक पवित्र शहर के रूप में जाना जाता है। जो भी यहाँ मृत्यु को प्राप्त होता है या जिसकी अस्थियां यहाँ की गंगा नदी में प्रवाहित की जाती है, उनके लिए ऐसा माना जाता है कि उन्हें मोक्ष की प्राप्ति हो जाती है। वे अपने सारे पापों और दुखों से मुक्त हो जाते हैं।

Image Courtesy:

गंगा नदी में डुबकी

गंगा नदी में डुबकी

वाराणसी, गंगा नदी के तट पर बसा हुआ है। ऐसा कहा जाता है कि यहाँ आ गंगा नदी में डुबकी लगाने से आपके सारे पाप धुल जाते या मिट जाते हैं।

Image Courtesy:jose pereira

वाराणसी के घाट

वाराणसी के घाट

नदी के किनारे का कुछ हिस्सा जहाँ से आप नदी के पानी में उतरने के लिए कदम बढ़ाते हैं, घाट कहलाता है। वाराणसी में ऐसे घाट कई सारे हैं जो शहर के प्रमुख आकर्षण हैं। यहाँ के हर घाट की एक अलग महत्ता है।

Image Courtesy:travelwayoflife

मणिकर्णिका घाट

मणिकर्णिका घाट

मणिकर्णिका वाराणसी का ही एक घाट है जो हिन्दू धर्म के लोगों द्वारा किये जाने वाले अंतिम संस्कारों के लिए जाना जाता है।

Image Courtesy:Noopur28

अंतिम संस्कार के लिए शवों की कतार

अंतिम संस्कार के लिए शवों की कतार

मणिकर्णिका घाट में हर रोज़ लगभग 1000 शवों का अंतिम संस्कार किया जाता है। आपको यहाँ एक अजीब सा नज़ारा देखने को मिलेगा कि, यहाँ अंतिम संस्कार करने के लिए इंतज़ार में शवों की लंबी कतार लगती है।

Image Courtesy:Mandy

दशाश्वमेध घाट

दशाश्वमेध घाट

यह वाराणसी के मुख्य घाटों में से एक है। इस स्थान के लिए ऐसा कहा जाता है कि भगवान ब्रह्मा द्वारा अश्वमेध यज्ञ करने के दौरान यहीं पर 10 घोड़ों की बलि दी गई थी। इससे जुड़ी अन्य कथा यह है कि इस घाट को भगवान ब्रह्मा द्वारा शिव जी के स्वागत के लिए बनवाया गया था।

Image Courtesy:Jean-Pierre Dalbéra

दरभंगा घाट

दरभंगा घाट

दरभंगा घाट दशाश्वमेध घाट और राणा महल घाट के बीच में बसा हुआ है। इस घाट को उस राजा के नाम से जाना जाता है जो यहीं वास करते थे। आप यहाँ एक खूबसूरत महल को भी देख सकते हैं जो यहाँ 1900 के दशक में बनवाया गया था।

Image Courtesy:Ilya Mauter

भगवान शिव की भक्ति

भगवान शिव की भक्ति

गंगा नदी के तट पर शिवलिंग का अनुष्ठान करता भक्त।

कपड़े धोना

कपड़े धोना

आप यहाँ गंगा नदी के तट पर कई लोगों को नहाते और कपड़े धोते हुए देख सकते हैं।

Image Courtesy:Dennis Jarvis

सूर्यास्त का नज़ारा

सूर्यास्त का नज़ारा

वाराणसी में गंगा नदी पर या गंगा घाट पर बैठ सूर्यास्त के नज़ारे को देखना आप बिलकुल भी न भूलें। यहाँ के सूर्यास्त का नज़ारा आसमान में होने वाले जादू की तरह होता है।

Image Courtesy:orvalrochefort

कालियामर्धनं

कालियामर्धनं

'कालियामर्धनं' का नज़ारा जो गंगा नदी पर निर्मित किया जाता है नाग नथैया त्यौहार के समय त्यौहार के जश्न के तौर पर देखने को मिलता है।

Image Courtesy:Nandanupadhyay

नौका विहार

नौका विहार

वाराणसी में पर्यटक नौका विहार के मज़े लेते हैं और इसके साथ ही साथ कई घाटों और मुख्य जगहों की सैर करते हुए आप को नदियों से जुड़ी कई बातें भी बताई जाती हैं।

Image Courtesy:ampersandyslexia

साइकिल रिक्शा

साइकिल रिक्शा

अगर आपको शहर के अंदर ही अंदर सड़कों और गलियों की सैर करना है तो आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प होगा साइकिल रिक्शा। आपको यहाँ की गलियों में रिक्शे की सैर पर एक अलग ही अनुभव का एहसास होगा।

Image Courtesy:Ecsess

काशी के राजा

काशी के राजा

शहर के एक खास त्यौहार में शामिल होते काशी की रियासत के श्रद्धेय राजा, काशी नरेश।

Image Courtesy:Nandanupadhyay

गंगा नदी के साथ

गंगा नदी के साथ

गंगा नदी के साथ-साथ अपनी नाव को चलाता स्थानीय निवासी।

Image Courtesy:Emily Abrams

स्नान करने वाला घाट

स्नान करने वाला घाट

वाराणसी के स्नान करने वाले घाटों में से एक घाट पर बैठा श्रद्धालु।

Image Courtesy:Ekabhishek

मालवीय पुल

मालवीय पुल

मालवीय पुल वाराणसी के गंगा नदी पर बना डबल डेकर पुल है।

Image Courtesy:Earthshine

कीलों की शय्या

कीलों की शय्या

आप यहाँ एक साधू को कीलों की शय्या पर आराम फरमाते हुए देख सकते हैं। कई ऐसे अजीब नज़ारे आपको वाराणसी में देखने को मिलेंगे जो यहाँ सामान्य हैं।

Image Courtesy:Herbert Ponting

बांसुरी बजैया

बांसुरी बजैया

वाराणसी का एक और दिलचस्प नज़ारा, बांसुरी बजाता साधू।

Image Courtesy:Ekabhishek

मानव मांस खाना

मानव मांस खाना

आप यहाँ पर कई ऐसे साधुओं को देखेंगे जो मृत व्यक्तियों का मांस कहते हैं, इन्हें अघोरी कहा जाता है। यहाँ आप एक अघोरी को देख सकते हैं जिसने अपने पूरे चेहरे को मृत शरीर के अंतिम संस्कार के बाद बची राख से मला हुआ है।

Image Courtesy:Cmichel67

एक नशेड़ी साधू

एक नशेड़ी साधू

आपको ऐसे नज़ारे भी काशी में कई देखने को मिल जायेंगे। यह साधू गाँजे का सेवन कर रहा है।

Image Courtesy:Noopur28

भैसों को निलहाना

भैसों को निलहाना

आप यहाँ स्थानीय निवासियों को गंगा नदी में अपनी भैंसों को निलहाते हुए भी देख सकते हैं।

Image Courtesy:Arian Zwegers

बनारस सिल्क(रेशम)

बनारस सिल्क(रेशम)

वाराणसी को बनारस के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ की बनारसी सिल्क साड़ियां पूरे देश में काफी प्रसिद्ध हैं।

Image Courtesy:Jorge Royan

पूज्य गौ माताएं

पूज्य गौ माताएं

आप यहाँ गायों को गली-गली और सड़कों पर ऐसे ही घूमते हुए पाएंगे। इन्हें यहाँ पूज्य गौ माता के तौर पर माना जाता है।

Image Courtesy:Jorge Royan

तैरता हुआ(अस्थाई) पुल

तैरता हुआ(अस्थाई) पुल

यह नदी में तैरता हुआ एक अस्थायी पुल है जिसका भक्तगण एक तट से दूसरे तट की ओर जाने के लिए उपयोग करते हैं।

Image Courtesy:Wonker

पंखों की फैक्ट्री

पंखों की फैक्ट्री

यह वाराणसी की एक फैक्ट्री है, जहाँ बिजली के पंखे बनाये जाते हैं।

Image Courtesy:Jorge Royan

बनारस पान

बनारस पान

यह वाराणसी की एक पान की दुकान है। यहाँ ऐसे ही कई सारी दुकानें हैं जहाँ कई अलग-अलग तरह और अलग-अलग स्वाद के पान मिलते हैं। बनारस का पान भी देश भर में काफ़ी लोकप्रिय है।

Image Courtesy:Jorge Royan

नई पीढ़ी की पूजा

नई पीढ़ी की पूजा

आपको कई ऐसे श्रद्धालु भी मिलेंगे जो पूजा के मध्य में ही अपने मोबाइल फ़ोन पर बातें करते हैं और आजकल तो यह बहुत ही सामान्य बात हो गई है।

Image Courtesy:Yosarian

अंतिम रस्में

अंतिम रस्में

कई लोग अपने प्रियजनों के मर जाने के बाद अंतिम संस्कार की आखिरी रस्में करने वाराणसी ही आते हैं। यहाँ के कई घाटों पर यह नज़ारा आम है।

Image Courtesy:Jorge Royan

सामूहिक स्नान

सामूहिक स्नान

आप यहाँ ऐसे नज़ारे देख कर बिल्कुल भी चौंकिएगा मत क्योंकि यहाँ ऐसे नज़ारे आम हैं, जहाँ लोग समूह में स्नान करते हैं।

Image Courtesy:Antoine Taveneaux

वाराणसी में नरेन्द्र मोदी

वाराणसी में नरेन्द्र मोदी

यह तस्वीर नरेन्द्र मोदी जी के वाराणसी दौरे की है।

Image Courtesy:Narendra Modi

फूलों की दुकान

फूलों की दुकान

वाराणसी में आप ऐसे ही कई फूलों की दुकान देख पाएंगे। इन फूलों को भक्तों द्वारा ख़रीदा जाता है, जो मंदिरों और घाटों में पूजा अर्चना करने के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं।

Image Courtesy:Jorge Royan

वाराणसी में दिवाली

वाराणसी में दिवाली

दिवाली के अवसर पर वाराणसी पूरी रौशनी से जगमगा उठता है। सैलानी इस खास अवसर पर वाराणसी की यात्रा पर आते हैं ताकि वे वाराणसी में इस रंगारंग और रौशनी से भरे पर्व के जश्न में शामिल हो सकें।

Image Courtesy:

घाटों को प्रकाश से सजना

घाटों को प्रकाश से सजना

दिवाली के अवसर पर घाटों को दीयों से सजाया जाता है, जिनसे यहां का चमचमाता नज़ारा देखते ही बनता है।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X