यों का मजा..तो इन छुट्टियों यहां जरुर जायें
सर्च
 
सर्च
 

बिन्दु पर्यटन - सच में एक बाह्य प्रवेशद्वार

बिन्दु, भारतीय राष्ट्र का आखिरी गांव है, तथा भारत-भूटान सीमा के करीब स्थित है। इस स्थान के बारे में सब कुछ अद्भुत है। जैसे ही आप इस गांव के निकट जाते हैं, इसके आसपास की मरोरम सुंदरता आपको अपनी ओर खींचेगी। यात्री चाहे तो आगे भूटान की सैर भी कर सकते हैं जो निस्संदेह एक खूबसूरत और बहुत ही सुरम्य देश है।

हरे-भरे चाय के बागानों और अन्य छोटे शांत गांवों के बगल से गुजरती सड़कें बिन्दु की यादगार यात्रा को उपहार के रुप में देती हैं। सच्चे बहिरंगियों और प्रकृति प्रेमियों को ऐसा प्रतीत होता है कि बिन्दु अन्वेषण के लिए एक आदर्श स्थान है। जिन यात्रियों को तम्बू लगाने में तथा अग्निक्रीड़ा में मजा आता है, यह स्थान उन क्रियाकलापों का आनंद उठाने के लिए बिलकुल सही है।

बिन्दु और उसके आसपास के पर्यटक स्थल

जलढाका धारा, जो बिलकुल इस गांव से होकर गुजरती है बिन्दु के सबसे खूबसूरत स्थानों में से एक है। फोटोग्राफी के प्रति उत्साही व्यक्ति कुछ अद्भुत प्रकृति तस्वीरों के लिए इस स्थान की सैर कर सकते हैं। जलढाका नदी पर स्थित बिन्दु बांध भी अद्भुत सौंदर्य से भरा है। जलढाका पनबिजली परियोजना भी जल आपूर्ति के लिए इस बांध पर निर्भर है।

बिन्दु में हाइकिंग

बिन्दु में कुछ समूह छोटी पैदल यात्रा भी करवाते हैं, और इनमें से टोड़े से तांगटा और वहां से नेरोरा घाटी राष्ट्रीय उद्यान सबसे प्रसिद्ध है। ये स्थान हिमालय की तलहटी के, निचले क्षेत्र कलिम्पोंग में स्थित हैं।

ठहराव और खरीदारी

बिन्दु में कुछ होटल आरामदायक आवास प्रदान करता है। सफ़र से थके यात्री यहां रुक सकते हैं और फिर अपनी यात्रा की शुरुआत कर सकते हैं। शिवाजी इन नामक होटल एक अच्छा पैकेज प्रदान करता है। बिन्दु में एक छोटा सा स्थानीय बाजार है जहां से पारंपरिक चीज़ें स्मृति चिन्ह के रूप में खरीदी जा सकती हैं। बिन्दु, सिलीगुड़ी के काफी निकट है, और इसका अपना एक हवाई अड्ड़ा भी है। सड़क मार्ग से सिलीगुड़ी की यात्रा में 3 घंटे का समय लगता है।

बिन्दु की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय

अक्टूबर के बाद के महीनों का समय बिन्दु की यात्रा के लिए सबसे अच्छा है।

कैसे पहुंचें बिन्दु

बिन्दु सड़क मार्ग द्वारा अन्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। रेल या हवाई मार्ग से यात्रा करने वाले यात्रियों को पहले सिलीगुड़ी पहुंचना होगा।

सोशल नेटवर्क पर इसे शेयर करें
Please Wait while comments are loading...