Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » भुज » आकर्षण
  • 01रामकुंड बावड़ी

    यदि आप कच्‍छ संग्रहालय या भुज के राम धुन मंदिर के पास हैं, तो कुछ कदम आगे बढ़ कर इस बावड़ी तक आ सकते हैं। बहुत अच्‍छा होगा यदि आप राम धुन से करीब इस जगह पर कुछ मिनट बितायें, तो आपको रामायण के पात्रों के सुंदर चित्र देखने को मिलेंगे और दीवार के एक साइड पर...

    + अधिक पढ़ें
  • 02हमीरसार झील

    यह मानव निर्मित झील भुज के मध्य क्षेत्र में स्थित है - जडेजा के शासक राव हमीर के नाम पर है। भुज के लगभग सभी महत्वपूर्ण साइट सीन, जो पूर्वी भाग में स्थित हैं, इस 450 साल पुरानी झील की सीमा के पर घूमते हुए देख सकते हैं। जलाशय के केंद्र पर एक कें रंग-बिरंगा उद्यान...

    + अधिक पढ़ें
  • 03कच्छ संग्रहालय

    किसी संग्रहालय में आप जो देखना चाहते हैं, वो सब कुछ इस संग्रहालय में मिलेगा। चित्रों से लेकर सिक्कों तक, संगीत वाद्ययंत्र से लेकर कलात्मक नक्काशी मूर्तियों तक और प्राचीन लिपि एवं कलाकृतियां यहां देख सकते हैं। गुजरात के सबसे पुराने संग्रहालयों में से एक हमीरसार झील...

    + अधिक पढ़ें
  • 04स्वामीनारायण मंदिर

    भुज में रामकुंड बावड़ी के पास स्थित, स्वामीनारायण मंदिर में एक सुंदर वातावरण है। देश में अन्‍य स्‍वामी नारायण मंदिरों की तरह यहां भी पूजा के स्थान के चारों ओर भगवान कृष्ण और राधा की विभिन्न रंगीन लकड़ी की मूर्तियां स्‍थापित हैं।

    + अधिक पढ़ें
  • 05कच्छ के रेगिस्तान वन्यजीव अभयारण्य

    कच्छ के रेगिस्तान वन्यजीव अभयारण्य

    इस रेगिस्तान अभयारण्य के पूरे क्षेत्र में आश्चर्यजनक दृश्‍य हैं। इसे वर्ष 1986 में एक अभयारण्य घोषित किया गया, करामाती कच्छ के रेगिस्तानी वन्यजीव अभयारण्य में स्तनधारी वन्य जीव की विशाल विविधता और पक्षियों की दुर्लभ प्रजातियां पायी जाती हैं।

    कच्छ के...

    + अधिक पढ़ें
  • 06आइना महल

    भुज में हमीरसार झील के उत्तर पूर्वी कोने में स्थित 'दर्पण के हॉल' आइना महल एक अद्भुत इमारत है। 18 वीं शताब्दी के दौरान इसे बनाया गया था और आकर्षक रूप से भारत और यूरोपीय शैली का एक मिश्रित रूप है, जिसकी डिजाइन, महल के सबसे खूबसूरत कलाकृति और चित्रों को राम सिंह मलम...

    + अधिक पढ़ें
  • 07रणजीत विलास पैलेस

    रणजीत विलास पैलेस

    कच्छ में रणजीत विलास पैलेस का निर्माण 19वीं सदी में पगमलजी द्वितीय द्वारा कराया गया था वे उस समय सिंहासन पर बने हुए थे।

    + अधिक पढ़ें
  • 08खावड़ा

    खावड़ा

    बेहतर होगा यदि आप विभिन्न कारणों के लिए खावड़ा जायें। कच्‍छ के इस अंतिम गांव से लगभग 30 किमी आगे भारत पाकिस्तान सीमा के पास जा सकते हैं। यह अपने स्थानीय कारीगरों और पुरवा से हस्तशिल्प, चमड़े के उत्पादों और आर्टि वस्त्रों के लिए प्रसिद्ध है और तो और यह...

    + अधिक पढ़ें
  • 09भारतीय संस्कृति दर्शन

    कच्‍छ लोक कला और शिल्प की एक विस्तृत श्रृंखला के प्रदर्शन के लिये एक केंद्र, भारतीय संस्कृति दर्शन कॉलेज रोड पर स्थित है। सोमवार को छोड़कर सभी दिन जनता के लिए खुला रहने वाले संग्रहालय में गुजरात में दूरदराज के क्षेत्रों से कला की कुछ दुर्लभ अंश हैं, जिनमें...

    + अधिक पढ़ें
  • 10भुजोड़ी

    कला प्रेमियों को इस जगह से प्यार हो जायेगा। भुज से 8 किमी आगे एक छोटा सा कस्‍बा भुजोड़ी एक अनोखा कस्‍बा है, जहां के ज्यादातर स्थानीय लोग कारीगर हैं। यह कच्‍छ का टेक्‍सटाइल हब है, जहां आने वाले लोगों को कई प्रकार के कारीगर, बुनकर और ब्लॉक प्रिंटर्स...

    + अधिक पढ़ें
  • 11शरद बाग पैलेस

    शरद बाग कच्छ के अंतिम राजा मदन सिंह का शाही निवास स्‍थान हुआ करता था, वर्ष 1991 में उनका निधन हो गया। अब एक संग्रहालय में बदल दिया गया है, यह सिर्फ सुंदर कलाकृतियों का एक मकान नहीं है, बल्कि महलनुमा इमारत का आधार भी है जहां आकर्षक फूल एवं औषधीय पौधे भी हैं।...

    + अधिक पढ़ें
  • 12ब्लैक हिल्स (कालो डुंगर)

    एक शांत और रहस्यमय जगह, काली पहाड़ियां खावड़ा के उत्‍तर में 25 किमी दूर स्थित हैं। यह कच्‍छा का सबसे ऊंचा स्‍थान भी है, जहां से आप रण के एक सुंदर विहंगम दृश्य देख सकते हैं। वर्तमान में यहाँ एक 400 वर्षीय दत्तात्रेय मंदिर एक पर्यटन आकर्षण है।

    ...
    + अधिक पढ़ें
  • 13केरा

    भुज से दक्षिण की ओर 22 किलोमीटर दूर केरा है, जहां 'सोलंकी शासकों के युग' का भगवान शिव का एक मंदिर है। मंदिर का एक प्रमुख हिस्सा 1819 में आए भूकंप के दौरान नष्ट हो गया था, वहीं मंदिर का आधा हिस्‍सा, गर्भगृह और भीतर देवता की मूर्ति अब भी बरकरार हैं। यह कपिलकोट...

    + अधिक पढ़ें
  • 14शाही छतरदिस भुज

    शाही छतरदिस भुज के सबसे शांत केंद्रों में से एक होना चाहिये, भले ही यह शहर के अंदर स्थित है। व्यस्त सड़कों से दूर और उसके आसपास के क्षेत्र में कोई इमारत नहीं है, यहां भुज के शाही परिवार के स्‍मारक हैं, जिनमें प्रत्‍येक स्‍मारक अन्‍य से ज्‍यादा...

    + अधिक पढ़ें
  • 15धमड़का

    भुज में कई रोचक एवं प्रसिद्ध कस्‍बे हैं, जो हस्तशिल्प और वस्त्रों के गढ़ माने जाते हैं। धमड़का भी उन्‍हीं में से एक है। यह भुज के पूर्व की ओर लगभग 50 किमी दूरी पर स्थित एक शहर है, यह आकर्षक अजरख ब्लॉक मुद्रण तकनीक में निपुण कारीगरों का एक केंद्र है।

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
04 Aug,Tue
Return On
05 Aug,Wed
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
04 Aug,Tue
Check Out
05 Aug,Wed
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
04 Aug,Tue
Return On
05 Aug,Wed
  • Today
    Bhuj
    28 OC
    83 OF
    UV Index: 8
    Sunny
  • Tomorrow
    Bhuj
    25 OC
    77 OF
    UV Index: 8
    Sunny
  • Day After
    Bhuj
    24 OC
    76 OF
    UV Index: 8
    Partly cloudy