सेंट कैजेतन चर्च, प्राचीन गोवा

होम » स्थल » प्राचीन गोवा » आकर्षण » सेंट कैजेतन चर्च

यूरोप से प्रेरित

सेंट कैजेतन चर्च निर्विवाद रूप से गोवा का सबसे सुंदर चर्च है।  आप यूरोपियन देशों के चर्च की यादों को पुनर्जीवित के सकते हैं जो कोरिंथियन और गॉथिक वास्तुकला से प्रेरित है।  इसके प्राचीन सफ़ेद प्रवेश द्वार से लेकर मुखौटे के दोनों ओर के आयताकार टॉवर सभी चीजें हमें मूल यूरोपियन वास्तुकला की याद दिलाती हैं।  सेंट कैजेतन चर्च अनिवार्य रूप से इटली के संर पीटर चर्च के आधार पर और लेटराईट पत्थरों का उपयोग करके बनाया गया है।  बहुत अधिक पर्यटन करने वाले पर्यटक और तीर्थयात्रियों को गोवा के सेंट कैजेतन चर्च और रशिया के सेंट पीट्सबर्ग शहर के चर्चों, जिसमें पॉल और पीटर का किला भी शामिल हैं में बहुत समानता दिखाई देगी क्योंकि वे वास्तुकला के समान सिद्धांतों पर बनाए गए हैं।

आंतरिक रूप रेखा

चर्च का आंतरिक भाग वैसा ही विशाल है जैसा बाह्य भाग।  यहाँ कोरिंथियन और बरोके वास्तुकला से प्रेरित अनेक वेदियाँ हैं जो दाईं और बाईं ओर स्थित है तथा गलियारे को बड़े स्तंभों से विभाजित किया गया है।  बाईं ओर की वेदियाँ होली फेमिली ऑफ पीएटी और सेंट क्लार को समर्पित हैं।  दाहिनी ओर की वेदियाँ सेंट कैजेतन, सेंट जॉन और सेंट एग्नेस को समर्पित है जिनमे से सेंट कैजेतन को समर्पित वेदी सबसे बड़ी है और इसे बड़े लकड़ी के मंच से सजाया गया है।  वेदियों में लगे हुए इटालियन चित्र सेंट कैजेतन के जीवनकाल को दर्शाते हैं।  चर्च के अंदर तथा से बाहर से देखने पर आप भव्य गुंबद पर आश्चर्य करेंगे।

चर्च के अंदर एक कुआँ

चर्च के परिसर में एक कुआँ है जो इतिहासकारों और पुरातत्वविदों को इस विषय पर सोचने पर मजबूर करता है कि यहाँ कभी प्राचीन हिंदू मंदिर रहा होगा जो पुर्तगालियों के अधिकार के समय खो गया।  इतिहासकारों के एक विरोधी समूह का मानना है कि यह कुआँ जानबूझकर संरचनात्मक स्थिरता प्रदान करने के लिए बनाया गया था।  चर्च की चौखट पर हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियाँ उकेरी हुई है जो इस विवाद को और अधिक बढ़ाती हैं।  किसी समय सम्राट आदिल शाह के महल का केवल यही हिस्सा शेष है।

वहाँ कैसे पहुँचे?

सेंट कैजेतन चर्च पुराने गोवा में स्थित है और गोवा की राजधानी पणजी से लगभग 10 किलोमीटर दूर है।  यह प्रमुख चर्चों जैसे बेसीलिका ऑफ बोम जीसस और सेंट ऑगस्टीन के खंडहर के बीच स्थित है।  यह बेहतर होगा कि आप इन सभी चर्चों को घूमने के लिये एक दिन का समय दें क्योंकि शहर या उत्तरी गोवा से बहुत अधिक यात्रा करनी पड़ती है।  वास्को दा गामा, मडगांव आदि सभी शहरों से पुराने गोवा के लिये कैब सेवा उपलब्ध है।  यदि आप कुछ साहसिक करना चाहते हैं तो आप किराये की मोटरसाइकिल लेकर अपने समय और गति के अनुसार वास्तुकला के इन चमत्कारिक निर्माणों को देख सकते हैं।

Please Wait while comments are loading...