नौकुचियाताल - जहां है प्राचीन लैगून

नौकुचियाताल एक छोटा सा झील वाला गाँव है जो कि उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित है। यह दर्शनीय पर्यटन स्थल समुद्र तल से 1219 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। झील की सुन्दरता और यहाँ की जाने वाली साहसिक गतिविधियाँ नौकुचियाताल को एक प्रमुख पर्यटन स्थल बनाते हैं। बर्डिंग यहाँ की प्रसिद्ध गतिविधियों में से एक है क्यों कि यहाँ पर पक्षियों और तितलियों की अनेक प्रजातियाँ पाई जाती हैं। यात्री यहाँ पर अन्य रोचक गतिविधियों में भाग ले सकते हैं जैसे कि बोटिंग, स्विमिंग, फिशिंग आदि। इसके अलावा माउंटेन बाइकिंग भी एक एड्वेंचर्स स्पोर्ट है जो कि बहुत से पर्यटकों को इस गाँव में आकर्षित करता है और नौकुचियाताल के प्राक्रतिक स्थानों को खोजने का मौका देता है।

क्या है नौकुचियाताल के आस पास

नौकुचियाताल झील को 'नौ कोनों' वाली झील भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि कोई अगर एक ही बार में नों कोनों को देख लेता है तो उसे निर्वाण की प्राप्ति होती है जिसका तात्पर्य है ’मन की शांति’। पानी के अन्दर एक झरना है जिससे झील में पूरे साल पानी का स्तर बना रहता है। पर्यटक नौकुचियाताल झील में बोटिंग का और झील के आस पास पैराग्लाइडिंग का आनंद ले सकते हैं। भीमताल यहाँ से 4 किमी की दूरी पर है जो कि झीलों के लिए प्रसिद्ध है और एक मुख्य पर्यटन स्थल है। सात ताल एक और मुख्य आकर्षण है जो कि सात आपस में जुड़ी हुई झीलों का समूह है और नौकुचियाताल से 6 किमी की दूरी पर स्थित है।

कैसे जाएं नौकुचियाताल

इस झील वाले गाँव में एयर, रेल और रोड़ द्वारा आसानी से पहुंचा जा सकता है। पंत नगर नौकुचियाताल के लिए सबसे नजदीकी एयरबेस है तथा काठगोदाम रेलवे स्टेशन सबसे नजदीक रेलवे स्टेशन है। इसके अतिरिक्त बसें नैनीताल आदि नजदीकी शहरों से उपलब्ध हैं।

नौकुचियाताल जाने का सबसे अच्छा समय

पर्यटक इस सुन्दर गाँव में गर्मियों में और मानसून के बाद यात्रा करते हैं जो कि नौकुचियाताल घूमने के लिए उत्तम समय है।

Please Wait while comments are loading...