Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल» रोहतास

रोहतास पर्यटन – एक गौरव स्थली

45

ऐतिहासिक रूप से बिहार का रोहतास जिला पूर्व मौर्य काल में छठवीं शताब्दी ईसा पूर्व से पांचवीं शताब्दी ईसा पूर्व तक मगध साम्राज्य का हिस्सा था। यहाँ सम्राट अशोक का छोटा सा शिलालेख है जो यह बताता है कि इस स्थान पर मौर्यों का शासन था। 1857 के युद्ध के समय रोहतास में बड़ी हलचल हुई थी। जब भारत को स्वतंत्रता प्राप्त हुई तब रोहतास शाहबाद जिले का एक हिस्सा था, परन्तु वर्ष 1972 में इसे स्वतंत्र जिला घोषित कर दिया गया।

रोहतास एवं इसके आसपास के पर्यटन स्थल

वे स्थान जो रोहतास पर्यटन का मुख्य आकर्षण हैं उनमें सबसे पहले नाम आता है रोहतासगढ़ किले का जो कला का एक उत्कृष्ट नमूना है और मुगलकाल की वास्तुकला के बारे में बताता है। ताराचंडी, एक बहुत खूबसूरत मंदिर है। सासाराम, जिसमें शेर शाह सूरी का मकबरा है। शेरगढ़ किला जिसे हसन शाह सूरी ने बनवाया था। इन ऐतिहासिक स्मारकों के अतिरिक्त रोहतासगढ़ में कई धार्मिक स्थल भी हैं।

रोहतासगढ़ में बहुत कम मंदिर हैं और एक मस्जिद है। यहाँ चाचा फगुमल साहिबजी का गुरुद्वारा है जो एक पवित्र स्थान माना जाता है। अन्य पर्यटक स्थलों में अकबरपुर, रहल, देव मार्कंडेय, भलुनी धाम, अखोरीगोला, ध्रुवां कुंड और गुप्त धाम आदि सम्मिलित हैं। रोहतास, पर्यटन स्थलों के मामले में एक असाधारण जगह है।

रोहतास का मौसम

रोहतास में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से लेकर मई तक का है क्योंकि यहाँ का मौसम एक आम उत्तर भारतीय मैदानों जैसा है|

त्योहार, कला और रोहतास पर्यटन के अन्य पहलू

रोहतास में लोगों की खुशी और उत्साह देखते ही बनता है जब वे अपने त्योहार मनाते हैं। बिहार के अन्य स्थानों की तरह रोहतास में भी छठ पूजा बड़े पैमाने पर मनाई जाती है। अन्य बड़े त्यौहार जो यहाँ मनाये जाते हैं, वे हैं- दशहरा, होली, दुर्गापूजा, चित्रगुप्त पूजा, मिलाद-उल-नबी, तीज, भाईदूज, दीवाली और वट सावित्री पूजा। यहाँ त्योहारों को बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है और इस दौरान खूब सजावट भी की जाती है।

त्योहारों के दौरान यहाँ का भाईचारा और एकता देखने योग्य है। इस बात से यहाँ कोई फर्क नहीं पड़ता कि त्योहार किस धर्म का है। हर धर्म के लोग घरों की सफाई और सजावट करने में एक दूसरे की मदद करते हैं। रोहतास, कैमूर वन्यजीव अभयारण्य के लिए भी जाना जाता है जिसकी स्थापना 1982 में हुई थी और जो 1342 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला हुआ है।

रोहतास पर्यटन का पूरा लुत्फ़ उठाने के लिए आप अपनी सुविधानुसार रोड या रेल द्वारा जा सकते हैं।

 

रोहतास इसलिए है प्रसिद्ध

रोहतास मौसम

घूमने का सही मौसम रोहतास

  • Jan
  • Feb
  • Mar
  • Apr
  • May
  • Jun
  • July
  • Aug
  • Sep
  • Oct
  • Nov
  • Dec

कैसे पहुंचें रोहतास

  • सड़क मार्ग
    यदि आप रोड से जाना चष्टे हैं तो, ग्रैंड ट्रंक रोड सासाराम और देहरी से गुजरती है। सासाराम आरा से भी जुड़ा हुआ है।
    दिशा खोजें
  • ट्रेन द्वारा
    वे लोग जो रेलगाड़ी से जाना चाहते हैं, देहरी ऑन सोन और सासाराम बड़े रेलवे स्टेशन है और सभी बड़ी रेलगाड़ियाँ यहाँ रूकती हैं।
    दिशा खोजें
  • एयर द्वारा
    There is no air port available in रोहतास
    दिशा खोजें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
19 Oct,Tue
Return On
20 Oct,Wed
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
19 Oct,Tue
Check Out
20 Oct,Wed
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
19 Oct,Tue
Return On
20 Oct,Wed