श्री राम तीर्थ मंदिर, अमृतसर

होम » स्थल » अमृतसर » आकर्षण » श्री राम तीर्थ मंदिर

ऐसा माना जाता है कि श्री राम तीर्थ मंदिर ऋषि वाल्मीकि का प्राचीन आश्रम है। भगवान राम को समर्पित यह मंदिर अमृतसर से 11 किमी दूर है। पौराणिक कथाओं के अनुसार जब राम ने सीता को छोड़ दिया था तब ऋषि वाल्मीकि ने उन्हें इस आश्रम में आश्रय दिया था।

रामायण काल के समय के इस मंदिर में कई मंदिरें हैं और इसके परिसर में एक पुराना तालाब भी है।  मंदिर में एक झोपड़ी है, जहां भगवान राम के बेटे लव और कुश का जन्म हुआ था। ऐसा माना जाता है कि यहां के प्रचीन तालाब की खुदाई भगवान हनुमान ने की थी। ऋषि वाल्मीकि की झोपड़ी और सीढ़ी वाला कुआं, जिसमें सीता नहाती थी, को परिसर के अंदर संरक्षित किया गया है।

नवंबर के महीने में पूर्णिमा के दिन श्री राम तीर्थ मंदिर में एक चारदिवसीय वार्षिक मेले का आयोजन किया जाता है। इस दौरान यहां घूमने जाना सबसे अच्छा रहता है।

Please Wait while comments are loading...