Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल» गुवाहाटी

गुवाहाटी पर्यटन - संस्कृति के संगम का शहर

49

पूर्वोत्तर भारत का प्रवेश द्वार गुवाहाटी असम का सबसे बड़ा शहर है। ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे पर स्थित यह शहर प्राकृतिक सुंदरता से ओत-प्रोत है। यहां न सिर्फ राज्य, बल्कि पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र की विविधता साफ तौर पर देखी जा सकती है। संस्कृति, व्यवसाय और धार्मिक गतिविधियों का केन्द्र होने के कारण गुवाहाटी बेहद रंगीन हो उठता है। यहां दशकों से विभिन्न नस्ल, धर्म और क्षेत्र के लोग रहते आए हैं, जिससे यह जगह विविधताओं से भरा पड़ा है।

गुवाहाटी- समृद्ध इतिहास

इतिहास से पता चलता है कि गुवाहाटी को पहले प्रागज्योतिषपुर के नाम से जाना जाता था, जिसका अर्थ है- पूर्व का प्रकाश। महाभारत में इस बात का उल्लेख मिलता है कि प्रागज्योतिषपुर एक असुर राजा नरकासुर की राजधानी हुआ करता था। मुगलों ने कई बार असम पर आक्रमण किया पर गुवाहाटी में प्रवेश के दौरान उन्हें हर बार शिकस्त ङोलनी पड़ी।

गुवाहाटी के पर्यटन स्थल

गुवाहाटी पर्यटन स्थलों से भरा पड़ा है। यहां के कामाख्या मंदिर को घूमे बिना गुवाहाटी की यात्रा अधूरी मानी जाएगी। ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे से आप सरियाघाट पुल का विहंगम नजारा देख सकते हैं। अगर आप यहां जा रहे हैं असम स्टेट म्यूजियम, गुवाहाटी तारामंडल और शहर के ढेर सारे मंदिरों को देखना न भूलें।

गुवाहाटी पर्यटन- प्राकृतिक सौंदर्य वाले इस शहर की एक झलक

पूर्वोत्तर का केन्द्र होने के कारण गुवाहाटी व्यवसायिक रूप से काफी गहमागहमी वाला शहर है। यहां इस क्षेत्र का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन के साथ-साथ एकमात्र अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट भी यहीं है। साथ ही गुवाहाटी मेघालय सहित अन्य राज्यों को जोड़ने का काम भी करता है। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी (आईआईटी) के कारण यह शहर शिक्षा के मामले में भी पीछे नहीं है।

हाल ही में टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस की एक शाखा गुवाहाटी में खोला गया है। साथ ही यहां के अंतरराष्ट्रीय स्कूल और कॉलेज राज्य के शैक्षणिक परिदृश्य को और भी सशक्त बना देते हैं। सांस्कृतिक दृष्टि से भी ये शहर काफी समृद्ध है। यहां का श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र सांस्कृतिक गतिविधों का केन्द्र है और यहां बीहू व दूसरे उत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाए जाते हैं।

कैसे पहुंचें

गुवाहाटी देश के बाकी हिस्सों से अच्छे से जुड़ा हुआ है। यहां पूर्वोत्तर भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है। साथ ही शहर में लोकप्रिय गोपीनाथ बोरडोलोई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट भी है। वहीं सड़क मार्ग के जरिए भी गुवाहाटी देश के अन्य हिस्सों से जुड़ा हुआ है।

गुवाहाटी का मौसम

पूरे साल गुवाहाटी का मौसम सामान्य बना रहता है। औसत तापमान 30 डिसे से 19 डिसे के बीच रहता है। यहां गर्मी, बरसात और ठंड के अलग-अलग मौसम होते हैं।

 

गुवाहाटी इसलिए है प्रसिद्ध

गुवाहाटी मौसम

घूमने का सही मौसम गुवाहाटी

  • Jan
  • Feb
  • Mar
  • Apr
  • May
  • Jun
  • July
  • Aug
  • Sep
  • Oct
  • Nov
  • Dec

कैसे पहुंचें गुवाहाटी

  • सड़क मार्ग
    गुवाहटी में सड़क मार्ग का पूरी तरह से विकास हुआ है, जो राज्य के सभी हिस्सों के साथ-साथ आसपास के राज्यों को भी जोड़ता है। नेशनल हाइवे 37 असम में फैला हुआ है। गुवाहाटी से होकर गुजरने वाला यह हाईवे मेघालय, मिजोरम और मणिपुर के लिए जीवन रेखा का काम करता है। बस और दूसरे वाहन यहां आसानी से मिल जाते हैं।
    दिशा खोजें
  • ट्रेन द्वारा
    पूर्वोत्तर भारत में गुवाहाटी सबसे बड़ा और सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन है। पूरे देश यहां के लिए ट्रेनें मिलती हैं। रेलवे स्टेशन से राज्य के दूसरे हिस्से और आसपास के शहरों के लिए असानी से बस व टूरिस्ट वाहन मिल जाते हैं। साथ ही यहां कामाख्या नाम से एक और छोटा सा स्टेशन है।
    दिशा खोजें
  • एयर द्वारा
    गुवाहाटी में लोकप्रिय गोपीनाथ बोरडोलाई इंटरनेशनल एयरपोर्ट है, जो सिर्फ गुवाहाटी ही नहीं, बल्कि पूर्वोत्तर भारत के कई शहरों और कस्बों को देश के अन्य हिस्सों से जोड़ता है। इस एयरपोर्ट से बैंकॉक और पारो के लिए सीधी उड़ानें मिलती हैं। वहीं देश के करीब-करीब सभी महत्वपूर्ण शहरों के लिए यहां से उड़ानें हैं।
    दिशा खोजें

गुवाहाटी यात्रा डायरी

One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
18 May,Tue
Return On
19 May,Wed
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
18 May,Tue
Check Out
19 May,Wed
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
18 May,Tue
Return On
19 May,Wed