Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल» कोटा

कोटा - महलों, किलों और छ: गज का जादू

38

राजस्‍थान राज्‍य में स्थित प्रमुख शहरों में से कोटा एक है जो चंबल नदी के किनारे पर बसा हुआ है। इसे राज्‍य की औद्योगिक राजधानी के रूप में भी जाना जाता है क्‍यूंकि इस शहर में कई पॉवर प्‍लांट और उद्योग स्‍थापित हैं। एशिया का सबसे बड़ा उर्वरक संयंत्र भी कोटा में ही स्थित है। गुजरात और दिल्‍ली के बीच व्‍यापार के लिए कोटा एक प्रमुख केंद्र के रूप में कार्य  करता है। कोटा को शिक्षा का हब भी जाना जाता है क्‍यूंकि यहां पर देश के कई नामी - गिरामी इंजीनियरिंग कॉलेज और संस्‍थान स्थित है जो शिक्षा के क्षेत्र में नम्‍बर वन श्रेणी में आते हैं।

कोटा में क्‍या - क्‍या देखें ?

राजस्‍थान का एक हिस्‍सा होने के कारण यहां कई हवेली, महल, किले और अन्‍य आकर्षक स्‍थान हैं जो पर्यटकों को कोटा आने के लिए बाध्‍य करते हैं। इसके अलावा, यहां विभिन्‍न धार्मिक  केन्‍द्र भी हैं जो काफी प्रसिद्ध हैं। गुरूद्वारा आजमगढ़ साहिब, गोदावरी धाम मंदिर, गाराडिया महादेव मंदिर, और मथुराधीश मंदिर, कोटा के प्रसिद्ध धार्मिक स्‍थलों में से एक हैं।  कोटा में आजमगढ़ साहिब सबसे महत्‍वपूर्ण धार्मिक स्‍थलों में से एक है। माना जाता है कि यहां रखे हुए कटार और लकड़ी के चप्‍पल की जोड़ी, सिखों के दसवें गुरू गुरूनानक जी के हैं।  इसके अलावा यह स्‍थल एक प्रख्‍यात कवि अयोध्‍या सिंह "हरिउद्ध" के जन्‍मस्‍थल के रूप में प्रसिद्ध है।  कोटा के सभी विख्‍यात स्‍मारकों में जगमंदिर पैलेस का विशाल ऐतिहासिक महत्‍व है। यह स्‍मारक, शानदार लाल पत्‍थर से बना हुआ है जो सुंदर कृत्रिम किशोर सागर झील के बीच में स्थित है। पर्यटक इस महल तक नावों से पहुंच सकते है। इस पैलेस में दो प्रसिद्ध संग्रहालय भी हैं जिनके नाम शासकीय संग्रहालय और महाराजा माधो सिंह संग्रहालय है।

कोटा साड़ी

बुनाई के क्षेत्र में व्‍यापक रूप से सराही जाने वाली कोटा साड़ी न केवल भारत के कई हिस्‍सों में बल्कि अर्न्‍तराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भी महिलाओं के बीच काफी प्रसिद्ध है। इन साडि़यों को कोटा ड़ोरिया भी कहा जाता  है जिसमें डोरिया का अर्थ होता है धागा। इन साडि़यों के बनने के पीछे भी एक दिलचस्‍प कहानी है, दरअसल इन साडि़यों को मैसूर में बुना गया था लेकिन इनके बुनकर कोटा से लाए गए थे जिन्‍हे एक मुगल आर्मी के जनरल राव किशोर सिंह अपने साथ लेकर आए थे।

अत: मसूरिया नाम से जानी जाने वाली यह साडि़यां कोटा साड़ी के नाम से प्रसिद्ध हो गई जो कोटा में काफी  प्रचलित हो गई थी। वैसे देश के कई हिस्‍सों में इन्‍हे कोटा डोरिया के नाम से जाना जाता है। संक्षेप में इन्‍हे कॉटन और सिल्‍क का छ: गज का जादू भी कहा जाता है।

कैसे पहुंचे कोटा

यात्री, कोटा तक वायु मार्ग, रेल मार्ग और सड़क मार्ग से आसानी से पहुंच सकते हैं। कोटा का नजदीकी एयरपोर्ट जयपुर एयरपोर्ट है और रेलयात्रियों के लिए नजदीकी रेलवे स्‍टेशन कोटा रेलवे  स्‍टेशन है। कोटा तक आने के लिए राज्‍य के कई शहरों जैसे चित्‍तौड़गढ़, जयपुर, अजमेर, जोधपुर, बीकानेर और उदयपुर आदि से आसानी से बसें मिल जाती हैं।

कोटा की जलवायु

कोटा में गर्मी और सर्दी, दोनो प्रकार के मौमस का आंनद उठाया जा सकता है। यहां की यात्रा के लिए सबसे अच्‍छा समय अक्‍टूबर से मार्च के बीच का होता है इस दौरान यहां सर्दियां पड़ती  हैं।

कोटा इसलिए है प्रसिद्ध

कोटा मौसम

घूमने का सही मौसम कोटा

  • Jan
  • Feb
  • Mar
  • Apr
  • May
  • Jun
  • July
  • Aug
  • Sep
  • Oct
  • Nov
  • Dec

कैसे पहुंचें कोटा

  • सड़क मार्ग
    कोटा, सड़क के रास्‍ते से राज्‍य के कई अन्‍य शहरों के साथ भली प्रकार से जुड़ा हुआ है। वैसे राजस्‍थान राज्‍य सरकार द्वारा चलाई जाने वाली बसें भी काफी सुविधाजनक होती है जो कोटा तक आसानी से पहुंचा देती है। कोटा के लिए जोधपुर, उदयपुर, चित्‍तौड़गढ़, अजमेर, बीकानेर और जयपुर आदि से बस सुविधा उपलब्‍ध है।
    दिशा खोजें
  • ट्रेन द्वारा
    कोटा में रेलवे स्‍टेशन है जो देश के कई हिस्‍सों, राज्‍यों और शहरों से भली - भांति जुड़ा हुआ है। पर्यटक रेलवे स्‍टेशन पर उतर कर कैब हायर कर सकते हैं और पूरे शहर का भ्रमण कर सकते है।
    दिशा खोजें
  • एयर द्वारा
    जयुपर के निकट स्थित सांगनेर एयरपोर्ट कोटा पहुंचने के लिए सबसे नजदीकी हवाई अड्डा है। इस एयरपोर्ट की कोटा से दूरी कुल 245 किमी. है। यह एयरपोर्ट देश के कई बड़े शहरों जैसे दिल्‍ली और मुम्‍बई आदि से जुड़ा हुआ है। बाहरी देशों से कोटा आने - जाने के लिए दिल्‍ली स्थित इंदिरा गांधी अर्न्‍तराष्‍ट्रीय हवाई अड्डा सबसे नजदीकी है।
    दिशा खोजें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
06 Dec,Mon
Return On
07 Dec,Tue
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
06 Dec,Mon
Check Out
07 Dec,Tue
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
06 Dec,Mon
Return On
07 Dec,Tue