Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » रोहतक » आकर्षण
  • 01खोकर किला

    खोकर किला

    खोकर को खोखर भी कहते हैं और यह जाट समुदाय का एक अहम हिस्सा है। यह न सिर्फ हरियाणा बल्कि पंजाब, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के जाट में भी पाए जाते हैं।

    रोचक बात यह है कि खोकर मुसलमानों में भी पाए जाते हैं। वैसे ही जैसे बख्शी, मलिक, जुनेजा, कक्कर और पंडित हिंदू...

    + अधिक पढ़ें
  • 02भिंडावास झील

    भिंडावास झील

    भिंडावास झील वीकेंड पिकनिक मनाने वालों, पक्षी प्रेमियों, फोटोग्राफरों और वीडियाग्राफरों के लिए एक आदर्श स्थान है। इसे हरियाणा का सबसे बड़ा जल क्षेत्र माना जाता है। यह झील करीब 12 किमी क्षेत्र में फैला हुआ है।

    इसे 1985 में वन्यजीव अभ्यारण्य घोषित कर दिया गया...

    + अधिक पढ़ें
  • 03गौकरण तालाब

    गौकरण तालाब

    हरियाणा के दूसरे शहरों की तरह ही रोहतक में भी गौकरण नाम से एक पवित्र तालाब है। शहर के बीचों-बीच स्थित इस गौकरण तालाब के परिसर में अन्य धार्मिक तालाब की तरह ही कई धार्मिक महत्व के स्थल हैं। इनमें विभिन्न देवी-देवताओं के मंदिर शामिल हैं।

    ये मंदिर भागवान शिव,...

    + अधिक पढ़ें
  • 04अस्थल बोहर

    अस्थल बोहर

    अस्थल बोहर एक मठ है, जहां गुरू गोरखनाथ को मानने वाले रहते हैं। इस पंथ के लोगों में भगवान शिव के प्रति अटूट श्रद्धा होती है। यह मठ रोहतक-दिल्ली हाइवे संख्या 10 पर रोहतक शहर से 7 किमी पूर्व में स्थित है। पौराणिक कथा के अनुसार सियालकोट (पाकिस्तान) के निवासी पूरन भगत...

    + अधिक पढ़ें
  • 05जामा मस्जिद

    जामा मस्जिद

    ज्यादातर मस्जिद का नाम उनके बनाने वाले या फिर उस स्थान के नाम पर रखा जाता है। पर पूरे विश्व के सभी गांवों व शहरों में एक खास प्रकार की मस्जिद होती है, जिसका नाम न ही बनाने वाले और न ही स्थान के नाम पर रखा गया है। इसे जामा मस्जिद कहते हैं। रोहतक जिले के मेयहम कस्बे...

    + अधिक पढ़ें
  • 06राधा कृष्ण मंदिर, मेहम

    राधा कृष्ण मंदिर, मेहम

    उत्तरी भारत के तकरीबन हर शहर में राधा कृष्ण मंदिर देखे जा सकते हैं। यह इस बात का प्रमाण है कि हिंदू धर्म के मानने वालों में राधा-कृष्ण का कितना महत्व है। ऐसा ही एक मंदिर रोहतक जिले के जाट बहुत कस्बा मेहम में भी है। राधा-कृष्ण को समर्पित यह भव्य मंदिर पुराने बस...

    + अधिक पढ़ें
  • 07तिलयार झील

    तिलयार झील

    तिलयार झील दिल्ली-हरियाणा सीमा से करीब 42 किमी दूर है। रोहतक शहर के पास स्थित यह झील 132 एकड़ भूभाग में फैला हुआ है। झील के आसपास का क्षेत्र इस इलाके का सबसे बड़ा हरा भरा क्षेत्र है। यही वजह है कि यहां दिल्ली और आसपास के इलाके से बड़ी संख्या में लोग शांति के कुछ...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
14 Apr,Wed
Return On
15 Apr,Thu
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
14 Apr,Wed
Check Out
15 Apr,Thu
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
14 Apr,Wed
Return On
15 Apr,Thu