Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » बाँसवाड़ा » आकर्षण
  • 01राम कुंड

    राम कुंड

    राम कुंड को 'फटी खान' भी कहा जाता है क्योंकि यह एक पहाड़ी के नीचे एक गहरी गुफा के रूप में है। चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है, यह जगह प्रकृति के प्रेमियों के लिए एक उपचार है। ठंडे पानी का एक पूल पास ही में स्थित है यह एक अनोखा पूल है क्योंकि यह कभी सूखता...

    + अधिक पढ़ें
  • 02त्रिपुरा सुंदरी

    त्रिपुरा सुंदरी

    त्रिपुरा सुंदरी मंदिर बांसवाड़ा जिले के मुख्यालय से 19 किमी की दूरी पर स्थित है। यह मंदिर त्रिपुरा सुंदरी देवी के लिए समर्पित है, जिन्हें माता तुर्तिया के नाम से भी जाना जाता है। काले पत्थर पर खुदी हुई देवी की एक मूर्ति, मंदिर में प्रतिष्ठित है। लोककथाओं के अनुसार...

    + अधिक पढ़ें
  • 03अब्दुल्ला पीर

    अब्दुल्ला पीर

    अब्दुल्ला पीर अब्दुल रसूल की दरगाह है जो कि शहर के दक्षिणी भाग में स्थित है। यहाँ “उर्स” जनता द्वारा हर साल उल्लास के साथ मनाया जाता है। बोहरा समुदाय के लोग भी बड़ी संख्या में इसमें भाग लेते हैं।

    यह समाधि जिला मुख्यालय से 3 किमी की दूरी पर...

    + अधिक पढ़ें
  • 04अन्देश्वर

    अन्देश्वर

    अन्देश्वर एक प्रसिद्ध जैन मंदिर है जिसमें 10 वीं सदी के दुर्लभ शिलालेख शामिल हैं। इस मंदिर में भी दो मंदिर दिगंबर जैन पार्श्वनाथ मंदिर है। भगवान पार्श्वनाथ की प्रतिमा 30 इंच ऊंची और काले रंग की है। मुख्य मंदिर, कुशालगढ़ की दिगंबर जैन पंचायत द्वारा प्रबंधित किया...

    + अधिक पढ़ें
  • 05दिआब्लाब झील

    दिआब्लाब झील

    दिआब्लाब झील जिला मुख्यालय से 1 किमी की दूरी पर स्थित है और एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है,इसकी नैसर्गिक सुंदरता के लिए धन्यवाद। यह झील आंशिक रूप से सुंदर कमल के फूलों से ढकी हुई है जो झील के आकर्षण को और बढ़ाते हैं। पूर्व शासकों का ग्रीष्मकालीन निवास, बादल महल...

    + अधिक पढ़ें
  • 06श्री राज मंदिर

    श्री राज मंदिर

    श्री राज मंदिर, सिटी पैलेस के नाम से लोकप्रिय है, यह 16 वीं सदी का एक आकर्षक महल है। यह एक बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है जो पुरानी राजपूत वास्तुकला का प्रतीक है। यह स्मारक राजस्थान के शाही परिवार के स्वामित्व में है और पर्यटक केवल निमंत्रण पर ही इसकी यात्रा कर सकते...

    + अधिक पढ़ें
  • 07श्री साई बाबा मंदिर

    श्री साई बाबा मंदिर

    श्री साई बाबा मंदिर, पहाड़ी की चोटी पर बनाया गया, साई बाबा के लिए समर्पित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह जिला मुख्यालय से 1 किमी की दूरी पर स्थित है, और इस तक आसानी से टैक्सी या टेम्पो द्वारा पहुंचा जा सकता है।

    + अधिक पढ़ें
  • 08छींछ ब्रह्मा मंदिर

    छींछ ब्रह्मा मंदिर

    छींछ ब्रह्मा मंदिर 12 वीं सदी का एक मंदिर है जो भगवान ब्रह्मा को समर्पित है। यहाँ रखी हुई ब्रह्मा की मूर्ति काले पत्थर पर खुदी हुई है और उसकी ऊंचाई एक औसत आदमी की ऊँचाई के बराबर है। यह मंदिर जिला मुख्यालय से 18 किमी की दूरी पर स्थित है और आसानी से बस, टैक्सी और...

    + अधिक पढ़ें
  • 09भीम कुंड

    भीम कुंड

    भीम कुंड एक खूबसूरत जगह है जो जिला मुख्यालय से 30 किमी की दूरी पर स्थित है। लोककथाओं के अनुसार अपने वनवास के दौरान पांडव(महाभारत के) इसी स्थान पर रहते थे। यहाँ एक सुरंग है,ऐसा माना जाता है कि या दूर किसी घोटिया अंबा नामक जगह पर समाप्त होती है और पांडवों ने इसका...

    + अधिक पढ़ें
  • 10माही बांध

    बांसवाड़ा में माही बांध, माही बजाज सागर परियोजना के एक भाग के रूप में निर्मित किया गया था। चूँकि माही बांध के जलग्रहण क्षेत्र के अंदर द्वीपों की एक बड़ी संख्या हैं, इसलिए बांसवाड़ा "सौ द्वीपों का शहर" के नाम से भी लोकप्रिय है। यह बांध बांसवाड़ा जिले से 16 किलोमीटर...

    + अधिक पढ़ें
  • 11अर्थुना

    अर्थुना

    अर्थुनाः बांसवाड़ा जिले के सबसे अधिक देखे जाने वाले स्थानों में से एक है जो एक बड़ी और प्रसिद्ध पुरातात्विक महत्व की साइट है। यहाँ उत्कृष्ठ बनावट के जटिल, 11 वीं और 12 वीं शताब्दी में निर्मित बहुत से मंदिर हैं। यहां कई धार्मिक स्थलों की खुदाई की गई है, जो भारत की...

    + अधिक पढ़ें
  • 12तलवाड़ा

    तलवाड़ा

    तलवाड़ा, बांसवाड़ा जिला मुख्यालय से 17 किमी की दूरी पर स्थित एक शहर है जो कि सूर्य भगवान और प्रभु अमलिया गणेश के प्राचीन मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है। अन्य लोकप्रिय मंदिर जैसे लक्ष्मी नारायण का मंदिर, द्वारिकाधीश का मंदिर और सम्भरनाथ का जैन मंदिर आदि भी यहाँ उपस्थित...

    + अधिक पढ़ें
  • 13मदरेश्वर शिव मंदिर

    मदरेश्वर शिव मंदिर

    मदरेश्वर शिव मंदिर, भगवान शिव को समर्पित है। यह प्रसिद्ध मंदिर, शहर के पूर्वी भाग में पहाड़ी की चोटी पर, एक प्राकृतिक गुफा के अन्दर स्थित है। चूंकि यह शिव मंदिर एक गुफा के अंदर है, इस मंदिर में आने वाले श्रद्धालु इसकी तुलना अमरनाथ के महान तीर्थ के साथ करते हैं।...

    + अधिक पढ़ें
  • 14कागड़ी पिक अप मेड़

    कागड़ी पिक अप मेड़, जो कि बाँसवाड़ा के जिला मुख्यालय से 3 किलोमीटर की दूरी पर रतलाम रोड पर स्थित है, एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण है। सुंदर उद्यान, फव्वारे और पानी का एक बड़े क्षेत्र में फैलाव, ये सब मिलकर इसे पर्यटकों के लिए एक ‘हॉटस्पॉट’ बनाते है।

    + अधिक पढ़ें
  • 15आनंद सागर झील

    आनंद सागर झील

    आनंद सागर झील बांसवाड़ा के पूर्वी हिस्से में स्थित एक सुंदर कृत्रिम झील है। यह कहा जाता है कि यह झील इदर की लच्छी बाई जो कि महारावल जगमाल की पत्नी थी, ने बनवाई थी। राज्य के भूतपूर्व शासकों की छतरियां या स्मारक झील के पास स्थित हैं। पवित्र पेड़ जिसे 'कल्प वृक्ष' के...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
25 May,Wed
Return On
26 May,Thu
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
25 May,Wed
Check Out
26 May,Thu
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
25 May,Wed
Return On
26 May,Thu