फरीदकोट  – एक राजसी यात्रा

होम » स्थल » फरीदकोट » अवलोकन

फरीदकोट दक्षिणी – पश्चिमी पंजाब का एक छोटा सा शहर है।  प्राथमिक रूप से इसका निर्माण 1972 में बठिंडा और फिरोज़पुर जिलों से किया गया।  इस शहर का नाम सूफी संत बाबा शेख़ फ़रीदुद्दीन गंजशाकर के नाम पर पड़ा।  यहाँ मुख्य रूप से सिख लोग रहते हैं और यहाँ सुंदर गुरुद्वारे और किले हैं जो फरीदकोट के पर्यटन का भाग हैं।  फ़रीदकोट तथा इसके आसपास पर्यटन के स्थान फरीदकोट पूरे देश में पर्यटकों के बीच लोकप्रिय है। फरीदकोट में पर्यटन के मुख्य आकर्षणों में भव्य किलों से लेकर शानदार गुरुद्वारे शामिल हैं जो एक साथ मिलकर इस शहर की बहुमुखी प्रतिभा को दर्शाते हैं।  राज महल, फेयरी कॉटेज, किला मुबारक और गुरुद्वारा टिल्ला बाबा फरीद इस शहर के प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। इतिहास के प्रति जिज्ञासु व्यक्ति यहाँ की समृद्ध विरासत का अध्ययन करने के लिए यहाँ का भ्रमण कर सकते हैं।  फरीदकोट जिला सांस्कृतिक समाज प्रतिवर्ष 15 सितंबर से 23 सितंबर तक एक वार्षिक मेले का आयोजन करता है जो बड़ी संख्या में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। फरीदकोट कैसे पहुंचे

फरीदकोट का निकटतम हवाई अड्डा अमृतसर हवाई अड्डा है जो लगभग 128 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।  गंतव्य तक पहुँचने के लिए रेलसेवा और बसें भी उपलब्ध हैं।  फरीदकोट की यात्रा के लिए उचित समय

फरीदकोट मुख्य रूप से तीन मौसम होते हैं – गर्मी, मानसून और ठंड।  फरीदकोट की यात्रा के लिए उत्तम समय अक्टूबर से दिसंबर के बीच का होता है। 

 

Please Wait while comments are loading...