केम्मनगुंडी पर्यटन - एक शाही रिज़ॉर्ट

कर्नाटक के चिकमंग्लूर जिले में तरिकेरे तालुक में स्थित केम्मनगुंडी हिल स्टेशन बाबा बुदन गिरि पहाड़ियों से घिरा है। ऊँचे पहाड़ों, गिरत झरनों, घने जंगलों और हरेभरे घास के मैदान के साथ यह एक मनमोहक स्थान है। चूँकि यह क्षेत्र कृष्णराज वोडेयार-4 का पसन्दीदा स्थल था और यहाँ का ज्यादातर विकास उन्हीं की देन है इसलिये केम्मनगुंडी को उनके सम्मान में के आर हिल्स के नाम से भी जाना जाता है।

उन्होंने सड़कें बनवाईं, सुन्दर उद्यान बनवाये और इस पहाड़ी को उपने लिये वैभवशाली छुट्टियाँ बिताने वाले स्थल के रूप में बदल दिया, लेकिन स बात का ध्यान रखा कि क्षेत्र की प्रकृतिक सुन्दरता बनी रहे। बाद में उन्होंने इस स्थान को कर्नाटक सरकार को दान में दे दिया और इस रिज़ार्ट की देखरेख अब कर्नाटक का बागवानी विभाग करता है।

यहाँ क्या देखें और क्या करें

केम्मनगुंडी में देखने और करने लायक इतना कुछ है कि सब कुछ एक दिन में समेट पाना सम्भव नहीं है।

केम्मनगुंडी और इसके आसपास के पर्यटक स्थल

जेड पॉइन्ट खड़ी चढ़ाई वाली पहाड़ी पर एक ऊँचा स्थल है और लगभग 30 मिनट की चढ़ाई की दूरी पर है। ऊपर से पर्यटक मन्द गति से गिरते शान्ति झरने का साथ-साथ पूरे क्षेत्र का शानदार दृश्य देख सकते हैं। इस स्थान के निकट ही दो चरणों में गिरने वाला हेब्बे फॉल्स भी स्थित है।

कलट्टी फॉल्स, जिसे कलाहस्ती फॉल्स या कलाथागिरि फॉल्स के नाम से भी जाना जाता है, पास में ही स्थित है और 120 मीटर की ऊँचाई से गिरता है। इसी स्थान पर विजयनगर काल का एक मन्दिर भी है। केम्मनगुंडी के समीप मुल्लयनगिरि और भद्रा टाइगर रिज़र्व घूमने लायक आदर्श स्थान हैं। साहसिक गतिविधियों में रूचि रखने वाले लोगों को यहाँ उपस्थित कई विकल्प पसन्द आयेगें। कर्नाटक में आसपास शहरों में रहने वाले लोगों के लिये सप्ताहान्त के लिये यह आदर्श स्थान है।

Please Wait while comments are loading...