Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » कुल्लू » आकर्षण
  • 01हनोगी माता मंदिर

    हनोगी माता मंदिर

    हनोगी माता मंदिर कुल्लू का एक प्रसिद्ध धार्मिक केंद्र है  मंडी मनाली राजमार्ग पर स्थित है। मंदिर हिंदू देवी हनोगी माता को समर्पित है और भक्त यहाँ वर्ष भर आते हैं।  इस मंदिर का स्थान काफी सुरम्य है क्योंकि यह एक छोटी सी चोटी के शीर्ष पर स्थित है और हरे...

    + अधिक पढ़ें
  • 02पंडोह बांध

    पंडोह बांध

    पंडोह बांध ब्यास नदी पर बनाया गया एक पन-बिजली उत्पादक बांध, 76 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। कुल्लू और मनाली बड़े पैमाने पर इस बांध से बिजली की आपूर्ति प्राप्त करते हैं।

    कुल्लू से मनाली मार्ग पर स्थित इस बांध पर रूक कर यात्री इस जगह की सुंदरता का आनंद ले...

    + अधिक पढ़ें
  • 03पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान

    पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान

    पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान स्पीति की घाटी में स्थित हिमाचल प्रदेश राज्य का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान है, जो एक ठंडे रेगिस्तान क्षेत्र में स्थित है।  675 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला है, यह पार्क 1987 में स्थापित किया गया था।पार्क जानवरों और पक्षियों की लगभग 20...

    + अधिक पढ़ें
  • 04सुल्तानपुर पैलेस

    सुल्तानपुर पैलेस

    सुल्तानपुर पैलेस, रूपी पैलेस के रूप में जाना जाता है, कुल्लू में स्थित एक शानदार महल है। मूल संरचना सन् 1905 में भारत में आये एक बड़े भूकंप में नष्ट हो गया जिसके बाद यह अपने मूल रूप में पुनर्निर्मित किया गय। कुल्लू शैली के कई लघु चित्रों को महल में देखा जा सकता...

    + अधिक पढ़ें
  • 05शारवाली देवी मंदिर

    शारवाली देवी मंदिर

    शूरू गांव में स्थित शारवाली देवी मंदिर कुल्लू के प्राचीन मंदिरों में से एक है। यह कहा जाता है कि इस मंदिर का निर्माण पांडवों, महान भारत के महाकाव्य महाभारत से पांच भाइयों द्वारा किया गया था। मंदिर मनाली से 8 किमी की दूरी पर और जगतसुख  मंदिर के पास स्थित है।

    + अधिक पढ़ें
  • 06मछली पकड़ना

    मछली पकड़ना

    मछली पकड़ना कुल्लू घाटी में एक लोकप्रिय गतिविधि है। यहाँ नदियाँ और भूरी और इंद्रधनुषी ट्राउट मछलियों से भरी हैं। कुल्लू से 58 किमी दूर तीर्थन नदी के तट पर स्थित बंजर मछली पकड़ने का एक लोकप्रिय गंतव्य है। नग्गर इस क्षेत्र का एक और लोकप्रिय मछली पकड़ने का गंतव्य...

    + अधिक पढ़ें
  • 07बिजली महादेव मंदिर

    बिजली महादेव मंदिर, ब्यास नदी के किनारे, कुल्लू का एक लोकप्रिय तीर्थ स्थल, मनाली के निकट स्थित है। हिंदुओं के विनाश के देवता, शिव, को समर्पित, यह जगह समुद्र स्तर 2450 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह मंदिर पहाड़ी, भारत के उत्तर में हिमालय की तलहटी में रहने वाले लोगों...

    + अधिक पढ़ें
  • 08कैसधर

    कैसधर

    कैसधर, खज्जैर के हरे ऊंचे पहाड़ पर स्थित, एक लोकप्रिय पिकनिक स्थान कुल्लू से 15 किमी स्थित है। देवदार के पेड़ों से घिरा, घास का मैदान सुरम्य और कुछ इत्मीनान समय बिताने के लिए आदर्श है।

    + अधिक पढ़ें
  • 09देव टिब्बा

    देव टिब्बा

    देव टिब्बा, मनाली के दक्षिण पूर्व में स्थित 6001 मीटर की ऊंचाई पर, ट्रैकिंग  बेस के रूप में पर्यटकों के बीच लोकप्रिय है। हालांकि देव टिब्बा की यात्रा के उपक्रम में, यात्री जगतसुख गांव, मनाली से 5 किमी दूर स्थित, से पहुँचते हैं।  वहाँ से, यात्रियों को...

    + अधिक पढ़ें
  • 10गौरीशंकर मंदिर

    गौरीशंकर मंदिर

    गौरीशंकर मंदिर, जो नग्गर में स्थित है, गंतव्य का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। यह मंदिर 11 वीं और 12 वीं शताब्दी के बीच का निर्मित किया गया था। भगवान शिव को समर्पित, गौरी शंकर मंदिर को गुजरा-प्रतिहार परंपराओं में निर्मित आखिरी स्मारक माना जाता है।

    मंदिर के...

    + अधिक पढ़ें
  • 11सुजानपुर किला

    सुजानपुर किला

    सुजानपुर किला, कांगड़ा के सम्राट  राजा अभय चंद के द्वारा 1758 में बनवाया गया, सुजानपुर के हमीरपुर शहर में स्थित खूबसूरत इमारतों में से एक है। किला अपने कई चित्रों के लिए भी लोकप्रिय है। 19 वीं सदी के दौरान, कांगड़ा के राजा, संसार चंद, लघु चित्रों की पहाड़ी...

    + अधिक पढ़ें
  • 12रघुनाथ मंदिर

    रघुनाथ मंदिर मनाली में एक प्रमुख धार्मिक स्थल है, जो हिंदू देवता, रघुनाथ जी को समर्पित है। कहा जाता है कि मंदिर में प्रतिष्ठापित मूर्ति अयोध्या, उत्तर प्रदेश के त्रिनाथ मंदिर से लिया गया है। स्थानीय विश्वास के अनुसार, इस मूर्ति को एक बार राम, संरक्षण के हिंदू...

    + अधिक पढ़ें
  • 13राफ्टिंग

    राफ्टिंग

    राफ्टिंग एक लोकप्रिय साहसिक खेल है जिसे कुल्लू में किया जा सकता है। यात्री यहाँ ब्यास नदी में अप्रैल अंत से जून तक और मध्य सितंबर से मध्य अक्टूबर तक राफ्टिंग कर सकते हैं। नदी नौसिखियों और प्रशिक्षित दोनों के अनुकूल है।

    + अधिक पढ़ें
  • 14ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क

    ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क

    ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क, जवाहर लाल नेहरू ग्रेट हिमालयन पार्क के रूप में भी जाना जाता है, कुल्लू के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है। 50 वर्ग किमी का एक क्षेत्र में फैला, राष्ट्रीय पार्क 30 से अधिक स्तनधारियों और पक्षियों की 300 से अधिक प्रजातियों सहित...

    + अधिक पढ़ें
  • 15बशेश्वर महादेव मंदिर

    बशेश्वर महादेव मंदिर

    बशेश्वर महादेव मंदिर कुल्लू जिले के बजुरा गांव में स्थित है, जो शहर से 15 किमी की दूरी पर राष्ट्रीय राजमार्ग 21 पर है। मंदिर, ब्यास नदी के तट पर स्थित, अपनी पत्थर की नक्काशी, मूर्तियों और शिखर या टावरों, जो ऊपर से समतल हैं, के लिए जाना जाता है। इस मंदिर में योनि...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
18 Jan,Tue
Return On
19 Jan,Wed
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
18 Jan,Tue
Check Out
19 Jan,Wed
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
18 Jan,Tue
Return On
19 Jan,Wed