Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » उदयपुर » आकर्षण
  • 01फतेह प्रकाश पैलेस

    फतेह प्रकाश पैलेस पिछोला झील के पास स्थित है और एक हेरिटेज होटल में तब्दील कर दिया गया है। यह एक मेवाड़ के राजा, महाराणा फतेह सिंह के नाम पर नामित किया गया था।

     

    + अधिक पढ़ें
  • 02नेहरू गार्डन

    नेहरू गार्डन

    नेहरू गार्डन एक सुरम्य अंडाकार आकार का द्वीप, फतेह सागर झील के बीच में स्थित है। उद्यान, भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नाम पर है। इसे जनता के लिए 14 नवंबर 1967 को उनकी जयंती के उपलक्ष्य में खोला गया था। यह खूबसूरत बगीचा उदयपुर का एक प्रमुख पर्यटक...

    + अधिक पढ़ें
  • 03गुलाब बाग

    गुलाब बाग

    गुलाब बाग जिसे सज्जन निवास उद्यान के रूप में भी जाना जाता है, महाराणा सज्जन सिंह द्वारा 1850 के दशक के दौरान बनाया गया था। माना जाता है कि लगभग 0.40 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला उद्यान उदयपुर में सबसे बड़ा बगीचा है। विक्टोरिया हॉल जो प्राचीन कलाकृतियों और अन्य...

    + अधिक पढ़ें
  • 04सज्जनगढ़ वन्यजीव अभयारण्य

    सज्जनगढ़ वन्यजीव अभयारण्य

    सज्जनगढ़ वन्यजीव अभयारण्य सज्जनगढ़ पैलेस के चारों ओर उदयपुर से लगभग 5 किमी की दूरी पर स्थित है। बंसदारा हिल, जो अभयारण्य की पृष्ठभूमि में स्थित है, इस जगह से अद्भुत लगता है। टाइगर झील, जिसे जियान झील या बड़ी झील के रूप में जाना जाता है, अभयारण्य के अंदर स्थित है।...

    + अधिक पढ़ें
  • 05नागदा

    नागदा

    नागदा उदयपुर से 23 किमी की दूरी पर स्थित एक छोटा सा शहर है। यह चौथे मेवाड़ राजा नागादित्य द्वारा 6 शताब्दी ई. में स्थापित किया गया था। उस समय के दौरान, यह नागाहरिदा के रूप में जाना जाता था और मेवाड़ की राजधानी थी।

    बगेला झील के तट पर स्थित यह छोटा सा शहर,...

    + अधिक पढ़ें
  • 06फतेह सागर

    फतेह सागर एक सुंदर नाशपाती के आकार की कृत्रिम झील है जिसे महाराणा फतेह सिंह द्वारा वर्ष 1678 में विकसित किया गया था। यह उदयपुर के चार झीलों में से एक है, और इसे शहर का गौरव माना जाता है। अपनी सुंदर नीले पानी, और हरे भरे परिवेश की वजह से जगह को 'दूसरा कश्मीर' के...

    + अधिक पढ़ें
  • 07सज्जनगढ़

    सज्जनगढ़ जिसे 'मानसून पैलेस' के रूप में भी जाना जाता है, उदयपुर की एक अद्भुत महलनुमा इमारत है। महल अरावली रेंज के बंसदारा चोटी पर समुद्र स्तर से 944 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। मेवाड़ राजवंश के महाराणा सज्जन सिंह 1884 में महल का निर्माण बरसात के बादल देखने के लिये...

    + अधिक पढ़ें
  • 08सिटी पैलेस संग्रहालय

    सिटी पैलेस संग्रहालय

    सिटी पैलेस संग्रहालय सिटी पैलेस का एक हिस्सा है जिसे जनता के लिए वर्ष 1969 में इमारत के रखरखाव के लिए आय उत्पन्न करने के लिये खोला गया था। शाही परिवारों के चित्रों और फोटो संग्रहालय में प्रदर्शित हैं। ये मेवाड़ के महाराणा के इतिहास, संस्कृति, और परंपरा को दर्शाती...

    + अधिक पढ़ें
  • 09सहेलियों की बाड़ी

    सहेलियों की बाड़ी, जिसका अर्थ है 'सम्मान की नौकरानियों के गार्डन', महाराणा संग्राम सिंह द्वारा शाही महिलाओं के लिए 18 वीं सदी में बनाया गया था। यह कहा जाता है कि राजा ने इस सुरम्य उद्यान को स्वयं तैयार किया था और अपनी रानी को भेंट किया था जो शादी के बाद 48...

    + अधिक पढ़ें
  • 10सास -बहू मंदिर

    सास -बहू मंदिर

    10 वीं सदी का सास - बहू मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है और नागदा टाउन में राष्ट्रीय राजमार्ग 8 पर उदयपुर से 23 किमी की दूरी पर स्थित है। मंदिर दो संरचनाओं का बना है, उनमें से एक सास द्वारा और एक बहू के द्वारा बनाया गया है। मंदिर के प्रवेश द्वार नक्काशीदार छत और...

    + अधिक पढ़ें
  • 11सुखाडिया सर्कल

    सुखाडिया सर्कल

    सुखाडिया सर्किल या सुखदिया स्क्वायर पंचवटी, उदयपुर में एक गोलचक्कर है। 1970 में निर्मित, यह राजस्थान के प्रथम मुख्यमंत्री मोहन लाल सुखदिया, के नाम पर है। यह खूबसूरत जगह एक तालाब से घिरा हुआ है और वहाँ एक बड़ा बगीचा और झरना भी है। यात्री तालाब में नौका विहार का...

    + अधिक पढ़ें
  • 12मछला मगर

    मछला मगर

    मछला मगर एक मछली की आकृति वाली एक छोटी सी पहाड़ी है और अक्सर एकलिंग गढ़ के रूप में जानी जाती है। पहाड़ी सज्जनगढ़ के बहुत करीब स्थित है और जब सिंधिया ने 1764 में शहर पर हमला किया तब इसे एक आयुध कूड़ाघर के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

    पहाड़ी समुद्र स्तर से...

    + अधिक पढ़ें
  • 13सिटी पैलेस

    सिटी पैलेस उदयपुर में महलनुमा इमारतों में सबसे सुंदर है। यह राजस्थान में अपनी तरह का सबसे बड़ा माना जाता है। महाराणा उदय मिर्जा सिंह ने सिसोदिया राजपूत कबीले की राजधानी के रूप में 1559 में महल का निर्माण किया। यह पिछोला झील के किनारे पर स्थित है। सिटी पैलेस के...

    + अधिक पढ़ें
  • 14महाराणा प्रताप स्मारक

    महाराणा प्रताप स्मारक मोती मगरी या पर्ल हिल की चोटी पर फतेह सागर झील के किनारे पर स्थित है। यह महान भारतीय लड़ाकू महाराणा प्रताप और उनके वफादार घोड़े चेतक को समर्पित है। स्मारक में यात्री घोड़े पर महाराणा प्रताप की आदमकद प्रतिमा को देख सकते हैं।

    यात्री...

    + अधिक पढ़ें
  • 15शिल्पग्राम

    शिल्पग्राम

    शिल्पग्राम, जिसे हस्तशिल्प गांव के रूप में भी जाना जाता है, उदयपुर से लगभग 3 किमी दूर है। यह परंपरागत शैली में बनाई गई 26 झोपड़ियां का एक छोटा सा पुरवा है। ये झोपड़ियां हर रोज इस्तेमाल के घरेलू सामान के साथ सुसज्जित हैं। सब के बीच, पांच झोपड़ियां मेवाड़ के बुनकर...

    + अधिक पढ़ें
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
24 May,Fri
Return On
25 May,Sat
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
24 May,Fri
Check Out
25 May,Sat
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
24 May,Fri
Return On
25 May,Sat
  • Today
    Udaipur
    32 OC
    90 OF
    UV Index: 9
    Sunny
  • Tomorrow
    Udaipur
    30 OC
    87 OF
    UV Index: 9
    Sunny
  • Day After
    Udaipur
    30 OC
    86 OF
    UV Index: 9
    Sunny