Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल» मनाली

मनाली - एक रोमेंटिक स्‍थल

66

मनाली, हिमाचल प्रदेश राज्‍य में समुद्र स्‍तर से 1950 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह पर्यटकों की पहली पसंद है और ऐसा हिल स्‍टेशन है जहां पर्यटक सबसे ज्‍यादा आते है। मनाली, कुल्‍लु जिले का एक हिस्‍सा है जो हिमाचल की राजधानी शिमला से 250 किमी. की दूरी पर स्थित है। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, मनाली का नाम मनु से उत्‍पन्‍न हुआ है जिन्‍हे सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रहमा ने बनाया था। ऐसा माना जाता है कि मनु इसी जगह पर जीवन के सात चक्रों में बने और मिटे थे। मनाली की हिंदू धर्म में काफी मान्‍यता है जिसे जीवन के 7 चक्रों रिवर्स सेज से सम्‍बन्धित माना जाता है।

मनाली आपे पर्यटकों के बीच यहां के सुंदर दृश्‍यों, गार्डन, पहाड़ो, और सेब के बागों के लिए जाना जाता है। यहां के बागों में लाल और हरे सेब काफी मात्रा में पैदा होते है। यहां आने पर पर्यटक हिमालय नेशनल पार्क, हिडिम्‍बा मंदिर, सोलांग घाटी, रोहतांग पास, पनदोह बांध, पंद्रकनी पास, रघुनाथ मंदिर और जगन्‍ननाथी देवी मंदिर देख सकते हैं।यहां का हडिम्‍बा मंदिर 1533 ई. में हिंदू धर्म की देवी हडिम्‍बा को समर्पित करके बनाया गया था। हडिम्‍बा, हडिम्‍ब भगवान की बहन थीं। स्‍थानीय मान्‍यताओं के अनुसार, इस मंदिर को बनवाने वाले राजा ने मंदिर बनाने वाले कलाकारों के सीधे हाथ काट दिए थे ताकि वह ऐसा सुंदर मंदिर कही और न बना सकें। 

मनाली की सोलांग घाटी 300 मीटर की ऊंचाई वाली है जहां हर साल सर्दियों में विंटर स्किईंग फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है। वहीं रोहतांग पास एक पहाड़ी पिकनिक स्‍पॉट है जिसे जिपावेल रोड़ के नाम से भी जाना जाता है। यहां आकर पर्यटक कई प्रकार की साहसिक गतिविधियों  जैसे - पैराग्‍लाडिंग, पहाड़ो पर बाइक चलाना, और स्किईंग को कर सकते है।

यहां से पूरे मनाली की भूमि, ग्‍लेशियर और पर्वतों का खुबसूरत व्‍यू देखा जा सकता है। मनाली में आने वाले धार्मिक पर्यटक व्‍यास कुंड अवश्‍य आएं, इस कुंड का वर्णन महाभारत में ऋषि व्‍यास के संदर्भ में किया गया है। माना जाता है कि ऋषि व्‍यास ने इसी कुंड में  स्‍नान किया था। कहा जाता है कि इस कुंड में स्‍नान करने से त्‍वचा सम्‍बंधी समस्‍त रोग दूर हो जाते हैं। मनाली में स्थित गांव वशिष्‍ठ सोपस्‍टोन से बना हुआ है। यह गांव पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है, यहां स्थित मंदिर सैंडस्‍टोन से बने हुए है। इसके अलावा, यहां कई प्राकृतिक झरने भी स्थित हैं। स्‍थानीय लोगों के अनुसार, लक्ष्‍मण जी जो भगवान राम के भाई थे, ने यहां एक सल्‍फर झरने का निर्माण कर दिया था। यहां आकर पर्यटक काला गुरू और रामा मंदिर भी देख सकते हैं।

मनाली आने वाले पर्यटकों को हिमालयन नेशनल पार्क में दिलचस्‍पी लेनी चाहिए। इस पार्क में 300 से ज्‍यादा प्रकार के जीव जन्‍तु है। यह अभयारण्‍य विलुप्‍त पक्षियों की अनेक प्रजातियों और पश्चिमी ट्रागोपेन के लिए खासा प्रसिद्ध है। पार्क में 30 स्‍तनधारी प्रजाति भी पाई जाती हैं।  

यहां के जगन्‍ननाथी देवी मंदिर को आज से 1500 साल पहले बनवाया गया था जो माता भुवनेश्‍वरी देवी को समर्पित है। यह मंदिर मनाली का मुख्‍य धार्मिक केंद्र है। जगन्‍नाथी देवी को भगवान विष्‍णु की बहन माना जाता है। यहां का अन्‍य धार्मिक केंद्र रघुनाथ मंदिर भी है जिसे यहां आने वाले सभी पर्यटक और श्रद्धालु घूमने आएं। यह मंदिर भगवान रघुनाथ जी को समर्पित है। इस मंदिर से मनाली के सभी पहाड़ो का एकस्‍वरूप दिखता है और भारत के उत्‍तर दिशा में स्थित हिमालय की तलहटी में रहने वाले लोगों के समूह में एक व्‍यापक सामान्‍यीकरण भी होता है, यहां के मंदिर की वास्‍तुकला पिरामिड आकार की है।

मनाली, यहां होने वाली साहसिक गतिविधियों के कारण भी जाना जाता है, यहां कई साहसिक गतिविधियों का आयोजन समय - समय पर किया जाता है जैसे - पर्वतारोहण, माउंटेन बाइकिंग, नदी राफ्टिंग, ट्रैकिंग, जॉरविंग और पैराग्लाइडिंग। मनाली के पास में रोहतांग दर्रा, देव डिव्‍वा बेस कैंप, पिन नार्वती पास, बाल झील आदि है जो पर्यटकों को अवश्‍य भाएंगे। मनाली में माउंटेन बाइकिंग भी की जा सकती है लेकिन यहां बाइकिंग करने का अच्‍छा और उचित समय सितम्‍बर के महीने में होता है। इस दौरान सड़को पर बर्फ जमा नहीं होती है और गाड़ी फिसलने का डर नहीं रहता है।

यहां आने वाले पर्यटकों को किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं होगी क्‍योंकि यह शहर यातायात के सभी साधनों से पूर्णत: जुड़ा हुआ है। यहां पर्यटक हवाई यात्रा, रेल यात्रा या सड़क यात्रा करते हुए आ सकते हैं। यहां का भुटार एयरपोर्ट 50 किमी. की दूरी पर स्थित है जो घरेलू एयरपोर्ट है। विदेशों से आने वाले पर्यटक दिल्‍ली के रास्‍ते से आ सकते हैं। दिल्‍ली से मनाली के लिए भी उड़ान भरी जाती है। अन्‍य साधनों से भी दिल्‍ली से मनाली तक आया जा सकता है।  

मनाली की नजदीकी रेलवे स्‍टेशन जोगिंदर नगर है जो शहर से 165 किमी. की दूरी पर स्थित है। यहां से देश के बड़े-बड़े शहरों जैसे - चंडीगढ़, शिमला, नई दिल्‍ली और पठानकोट के लिए ट्रेन मिल जाती हैं। वही राज्‍य में आने वाले पर्यटकों के लिए घूमने और भ्रमण के लिए राज्‍य सरकार व हिमाचल प्रदेश पर्यटन विभाग द्वारा कई बसें चलाई गई हैं जो राज्‍य के अंदर ही नहीं बल्कि नजदीकी शहरों में भी जाती हैं। मनाली का मौसम साल भर काफी सुखद रहता है लेकिन पर्यटक यहां मार्च से जून के दौरान आना ज्‍यादा पसंद करते है।

मनाली इसलिए है प्रसिद्ध

मनाली मौसम

मनाली
-8oC / 17oF
  • Heavy snow
  • Wind: SE 13 km/h

घूमने का सही मौसम मनाली

  • Jan
  • Feb
  • Mar
  • Apr
  • May
  • Jun
  • July
  • Aug
  • Sep
  • Oct
  • Nov
  • Dec

कैसे पहुंचें मनाली

  • सड़क मार्ग
    हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम द्वारा मनाली में सैर करने के लिए व मनाली तक पहुंचने के लिए कई बसों को चलाया गया है। राज्‍य के कई शहरों जैसे - नई दिल्‍ली, चंड़ीगढ़, पठानकोट और शिमला से मनाली के लिए डीलक्‍स बसें मिल जाती हैं। कुल्‍लू भी कई भारतीय शहरों से अच्‍छी तरह जुड़ा हुआ है।
    दिशा खोजें
  • ट्रेन द्वारा
    मनाली का नजदीकी रेलवे स्‍टेशन जोगिंदर नगर रेलवे स्टेशन है जो 165 किमी की दूरी पर स्थित है। इसके अलावा चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से भी पर्यटक मनाली तक आसानी से पहुंच सकते हैं। चंडीगढ़ से मनाली की दूरी 310 किमी. है। स्‍टेशन से निकलने पर शहर में भ्रमण करने के लिए कई टैक्सियां और बस मिल जाती हैं।
    दिशा खोजें
  • एयर द्वारा
    मनाली का निकटतम हवाई अड्डा भूटांर है जिसे कुल्‍लू मनाली एयरपोर्ट या कुल्‍लू एयरपोर्ट के नाम से भी जाना जाता है। यह घरेलू हवाई अड्डा मनाली से लगभग 50 किमी. की ऊंचाई पर स्थित है। यहां से देश के कई राज्‍यों और शहरों जैसे - नई दिल्‍ली, पठानकोट, धर्मशाला, शिमला और चंडीगढ़ आदि के लिए उड़ाने भरी जाती हैं। एयरपोर्ट से मनाली तक टैक्‍सी हायर करके पहुंचा जा सकता है। विदेशों से आने वाले पर्यटक दिल्ली में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (आईजीआई) पर उतरें और वहां से मनाली तक प्‍लेन या रेल से आएं।
    दिशा खोजें

मनाली यात्रा डायरी

One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
14 Nov,Wed
Return On
15 Nov,Thu
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
14 Nov,Wed
Check Out
15 Nov,Thu
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
14 Nov,Wed
Return On
15 Nov,Thu
  • Today
    Manali
    -8 OC
    17 OF
    UV Index: 4
    Heavy snow
  • Tomorrow
    Manali
    -15 OC
    6 OF
    UV Index: 6
    Moderate or heavy snow showers
  • Day After
    Manali
    -14 OC
    7 OF
    UV Index: 6
    Partly cloudy