वागामण - प्रकृति का आशीर्वाद

होम » स्थल » वागामण » अवलोकन

वागामण केरल के कोट्टायम और इडुक्की जिलों की सीमा पर स्थित एक हिल स्टेशन है। यह पर्यटकों तथा विशेष रूप से नवविवाहित जोड़ो और काम का बोझ उतारने वालों के लिये एक शानदार जगह है। हरे भरे मैदान, नीली पहाड़ियाँ, इठलाती नदियाँ, शोर करते झरने, ताजी और ठंडी हवायें और घने देवदार के जंगल वागामण को एक बहुत ही खास गंतव्य बनाते हैं। थंगल हिल, मुरुगन हिल और कुरीसुमाला अपने प्राकृतिक सौंदर्य से इस छोटे से शहर को सजाते हैं।

इस सौंदर्य की सौगात में क्या करें - वागामण

अपने सौंदर्य की सौगात के अलावा, वागामण पर्यटकों को कई अन्य चीजों को देखने और करने के लिये भी आमंत्रित करता है। आप रॉक क्लाइम्बिंग, ट्रैकिंग, पर्वतारोहण और पैराग्लाइडिंग भी कर सकते हैं। और अगर आप साहसिक गतिविधियों में रुचि नहीं रखते तो आप केवल बैठ कर यहां के लुभावने परिवेश में पाए जाने वाले विविध प्रकार के फूलों और ऑर्किड की प्रशंसा कर सकते हैं। यह प्राचीन हिल स्टेशन समुद्र तल से 1100 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। वागामण को अक्सर 'एशिया का स्कॉटलैंड' कहा जाता है। इस जगह को नेशनल ज्योग्राफिक यात्रियों द्वारा 'भारत के सबसे आकर्षक 50 स्थानों' में दर्ज किया गया है।

वागामण को एक ब्रिटिश द्वारा दुनिया के सामने प्रस्तुत किया गया था जिसने यह महसूस किया कि यह जगह चाय के बागानों के लिए उपयुक्त है। इसके तुरन्त बाद कई ईसाई मिशनरियों ने स्वयं को कुरीसुमाला में स्थापित कर लिया।

वागामण कैसे पहुँचें

वागामण कोट्टायम से 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहाँ के लिये निकटतम हवाई अड्डा कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा और निकटतम रेलवे स्टेशन कोट्टायम रेलवे स्टेशन है।

आसपास के पर्यटन केन्द्र

यहाँ आसपास के क्षेत्र में काफी सस्ते सैरगाह उपलब्ध हैं। वागामण के पास ही थेक्कडी, पीरमदे और कुलामवू जैसे कुछ अन्य पर्यटन केन्द्र हैं। यहाँ साल भर एक बहुत ही आरामदायक जलवायु का अनुभव होता है।

Please Wait while comments are loading...