» »जाने! कैसे दो दिन में कर सकते हैं मुन्नार की सैर

जाने! कैसे दो दिन में कर सकते हैं मुन्नार की सैर

Written By: Goldi

गोड्स ऑन कंट्री केरल सिर्फ भारतीय ही नहीं बल्कि विदेशियों के बीच काफी लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। चाय बागानों और पहाड़ी जलवायु की उपस्थिति के कारण मुन्नार को 'केरल का दार्जिलिंग' कहा जाता है। सिर्फ यहां कंचनजंगा शिखर की कमी है,जोकि कॉफ़ी बागन के साथ मौजूद है।

गोड्स ऑन कंट्री केरल के अनसुने हॉलिडे डेस्टिनेशन

इद्दुकी जिले में समुद्री स्तर से 1600 फिट की ऊंचाई पर स्थित मुन्नार एक अविश्‍वसनीय, शानदार और अति आकर्षक मन को लुभाने वाला हिल स्‍टेशन है। आपको बताते चलें मुन्‍नार एक मलयालम शब्द है जिसका अर्थ होता है तीन नदियों का संगम यहां आपको तीन नदियां मधुरपुजहा, नल्‍लाथन्‍नी और कुंडाली एक ही स्थान पर मिलती हुई दिखाई देंगी।

अरे जनाब गॉड्स ओन कंट्री के दर्शन के लिए अब मौसम की परवाह मत कीजिये आप

दक्षिण भारत के एक अन्य लोकप्रिय राज्य तमिलनाडु के नजदीक होने के कारण यहां आने के बाद आप एक साथ दो राज्यों की मिली जुली संस्कृति का आनंद ले सकते हैं।

अगर आप मुन्नार को समय की कमी के चलते सिर्फ दो दिन में घूमने की इच्छा रखते हैं, तो आगे पढ़े

पहला दिन

पहला दिन

आप मुन्नार की यात्रा की शुरुआत श्रवना भवन से कर सकते हैं। यहां आप पारंपरिक तरीके से केले के पत्ते पर मलयाली नाश्ते का मजा ले सकते हैं।PC:Mike Linksvayer

इको पॉइंट , 10 बजे

इको पॉइंट , 10 बजे

इको पॉइंट मुन्नार से 15 किलोमीटर की दूरी पार्ट स्थित है। चिल्लाकर अपनी आवाज़ को पुनः सुनना यहां आने वाले पर्यटकों के बीच का प्रमुख आकर्षण है। ये जगह बेहद खूबसूरत है जो किसी का भी मन मोह सकती है।PC:Ruben Joseph

कुण्डला, 10:30 बजे

कुण्डला, 10:30 बजे

अगर आपको प्रकृति से प्यार है तो , यकीनन यह जगह आपको बहुत ही पसंद आएगी। यह झील बेहद लुभावनी है और शांति का एहसास कराती है। यहां आप पक्षियों को भी निहार सकते हैं। कुण्डला झील पर पर्यटक घुड़ सवारी और बोटिंग का लुत्फ उठा सकते हैं।PC:Ashwin Kumar

टॉप स्टेशन, 11 :30 बजे

टॉप स्टेशन, 11 :30 बजे

टॉप रोड वह स्थान है जहां रोड खत्म होती है। इस स्थान को व्यू पॉइंट भी कहते हैं,यहां से दूर दूर तक फैले चाय और कॉफ़ी के बगानों को अच्छे से निहारा जा सकता है।PC:Sajith Erattupetta

टी म्यूजियम, शाम 3 बजे

टी म्यूजियम, शाम 3 बजे

यह काफी शर्म की बात होगी कि, आप मुन्नार की यात्रा के दौरान चाय संग्रहालय की सैर नहीं करते हैं। चाय संग्रहालय कन्नन देवन पहाड़ी पर स्थित है। पर्यटक यहां चाय बनने की प्रक्रिया को देख और समझ सकते हैं। यहां पर्यटकों एक प्रोजेक्टर के जरिये चाय के ऊपर एक शोर्ट फिल्म भी दिखाई जाती है। अगर आप यहां तस्वीरें खींचना चाहते हैं , तो पहले इजाजत ले..यह म्यूजियम शाम 4 बजे बंद हो जाता है।
PC:Jean-Pierre Dalbéra

खरीदे कुछ चोकलेट,और मसाले

खरीदे कुछ चोकलेट,और मसाले

मुन्नार के आसपास घूमने के बाद आप शाम को 4 बजे मुन्नार वापस आ सकते हैं। लगभग मुन्नार की सभी दुकानों पर घर की बनी चोकलेट आदि खरीद सकते हैं। ये चोकलेट बादाम, काजू और किशमिश के समृद्ध स्वाद के साथ विभिन्न स्वादों के साथ आते हैं। केरल अपने मसालों के लिए काफी प्रसिद्ध है, अगर आप चाहे तो आप मुन्नार के मार्केट से मसालों की शॉपिंग भी कर सकते हैं।

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान, मुन्‍नार के समीप स्थित है जो पश्चिमी घाट के 97 वर्ग किमी. के साथ, क्षेत्र में फैला हुआ है। यह पार्क, भारत के नम्‍बर वन जैव विविध क्षेत्रों के रूप में सूचीबद्ध है जो जंगल और वन्‍यजीव विभाग के प्रशासन के अधीन आता है। जैव विविधताओं से भरे इस क्षेत्र को नीलगिरि तहर के प्राकृतिक आवास के रूप में जाना जाता है।
PC: Asheen Anoop

मारयुर, 2-3 बजे

मारयुर, 2-3 बजे

एराविकुलम राष्‍ट्रीय उद्यान घूमने के बाद आप खाना खा सकते हैं और उसके बाद आप घूमने के लिए मारयूर की ओर रुख आकर सकते हैं।मारयूर चन्दन के पेड़ ,रोच पेंटिंग आदि के लिए जाना जाता है।
PC:Jaseem Hamza

माउंट कार्मेल चर्च,4 बजे

माउंट कार्मेल चर्च,4 बजे

वापस मुन्नार पहुँचने के बाद आप माउंट कार्मेल चर्च भी घूम सकते हैं। यह एक बेहद ही खूबसूरत चर्च है, जिसमे आप जाकर एक असीम शांति की अनिभूति कर सकते हैं।PC:കാക്കര

अगर आप मुन्नार में एक और दिन बिताना चाहते हैं तो आप निम्नलिखित जगहों की सैर कर सकते हैं-

अगर आप मुन्नार में एक और दिन बिताना चाहते हैं तो आप निम्नलिखित जगहों की सैर कर सकते हैं-

-चिनार वाइल्डलाइफ सेंचुरी
-सलीम अली बर्ड सेंचुरी
-मोटर साईकल किराए पर लेकर मुन्नार की वादियों का मजा ले।
PC:Bimal K C

ट्रैकिंग का मजा

ट्रैकिंग का मजा

मुन्नार के आसपास ट्रैकिंग ट्रेल्स नहीं मुन्नार सिर्फ प्राकृतिक सुंदरता के लिए नहीं है। यहां खूबसूरती के अलावा भी बहुत कुछ है। यदी आपके अंदर रोमांच को जीतने का जज़बा और कुछ अलग करने का हुनर है तो यहां आकर आप एक बार ट्रैकिंग पर अपने हाथ अवश्य आज़माएं। मुन्नार का शुमार दुनिया के कुछ चुनिंदा ट्रैकिंग ट्रेल्स में हैं। मुन्नार से 10 किलोमीटर दूर अट्टुकल एक लोकप्रिय ट्रैकिंग डेस्टिनेशन है। इसके अलावा मुन्नार से 10 किलोमीटर दूर पोथामेड़ु में भी आप ट्रैकिंग का लुत्फ़ ले सकते हैं। मुन्नार से 13 किलोमीटर दूर लॉक हार्ट गैप भी ट्रैकिंग के लिए एक आदर गंतव्य है।PC:L ALEX