» »नैनीताल जा रहे हैं..तो सिर्फ घूमिये मत बल्कि ट्रिप को एडवेंचर्स बनाइयें

नैनीताल जा रहे हैं..तो सिर्फ घूमिये मत बल्कि ट्रिप को एडवेंचर्स बनाइयें

Written By: Goldi

उत्तराखंड में स्थित नैनीताल एक बेहद ही खूबसूरत पर्यटन स्थल है..जो पर्यटकों के बीच भारत का झीलों वाला कस्बा भी कहा जाता है। यह अपने खूबसूरत परिदृश्यों और शांत परिवेश के कारण पर्यटकों के स्वर्ग के रूप में जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि ब्रिटिश व्यापारी, पी. बैरून ने 1839 में, यहाँ की सम्मोहित कर देने वाली खूबसूरती से प्रभावित होकर ब्रिटिश कॉलोनी स्थापित करके नैनीताल को लोकप्रिय बना दिया।

अगर नेचर से हैं प्‍यार तो नैनीताल की ये चीज़ें आपको जरुर भाएंगी

अपने खूबसूरत नेचर और फेवरेबल मौसम के कारण सालों भर यहां लोग आते हैं। फोटोग्राफी करने के शौकिन लोगों के लिए बहुत खूबसूरत जगह है। सैलानी नैनीताल में बोटिंग, ट्रेकिंग, रोपवे आदि का लुत्फ उठा सकते हैं।यहां घूमने की बहुत जगह है..लेकिन आज हम आपको अपने लेख से बतायेंगे कि आप नैनीताल में घूमने के साथ साथ क्या क्या कर सकते हैं...

नैनी लेक पर बोटिंग का मजा ले

नैनी लेक पर बोटिंग का मजा ले

नैनीताल के बहुत ही प्रौमिनेंट लेक में से एक है। यहां पर बोटिंक करने के भी बहुत सारे आंप्शन हैं। यह लेक टूरिस्ट के लिए बहुत ही खास है। यह लेक लगभग 2 माइल्स में फैला हुआ है। यहां पर्यटक शाम के वक्त झील में बोटिंग का मजा ले सकते हैं।साथ ही आप झील के किनारे बैठकर डूबते हुए सूरज के मनोहर नजारे भी देख सकते हैं।PC: Tanbatra

टिफ़िन टॉप पर ले ट्रैकिंग का मजा

टिफ़िन टॉप पर ले ट्रैकिंग का मजा

2292मीटर की ऊंचाई पर स्थित टिफ़िन टॉप पर सैलानी ट्रैकिंग का मजा ले सकते हैं...साथ ही सुबह जल्दी उठकर आप यहां पहुंचकर उगते हुए सूरज को भी निहार सकते हैं।PC:Tanbatra

रोपवे का मजा ले

रोपवे का मजा ले

2270 मीटर की ऊंचाई पर आप रोपवे का मजा ले सकते हैं..ऊंचाई पर बैठकर सैलानी बर्फ से लदे पहाड़ों को देख सकते हैं..और सैलानी इन खूबसूरत नजारों को कैमरे में कैद भी कर सकते हैं।PC:Capankajsmilyo

आर्यभट रिसर्च इंस्टिट्यूट ऑफ़ ऑब्जरवेशनल साइंस

आर्यभट रिसर्च इंस्टिट्यूट ऑफ़ ऑब्जरवेशनल साइंस

यह खगोलीय वेधशाला मनोरा चोटी पर स्थित है, और यह आप तारों को देख सकते हैं।

हिमालयन वाइल्डलाइफ जीबी पंत चिड़ियाघर

हिमालयन वाइल्डलाइफ जीबी पंत चिड़ियाघर

इसके अलावा पर्यटक जीबी पन्त चिड़ियाघर की ओर भी रुख कर सकते हैं..यह चिड़ियाघर 1984 में बना था....लेकिन 1995 में यह पब्लिक के लिए इसे खोला गया था। इस जू में आपको बहुत सारे इनडेन्जर्ड जानवर मिलेंगे जैसे स्नो लिओपर्ड, हिमालयन बीयर आदि।

PC:Akhil.jain1912

Please Wait while comments are loading...