• Follow NativePlanet
Share
» »भारत की पहली मस्जिद, जिसका निर्माण एक हिन्दू राजा ने कराया

भारत की पहली मस्जिद, जिसका निर्माण एक हिन्दू राजा ने कराया

Written By:

भारत में कई धार्मिक केंद्र है, जिनकी अपनी एक अलग कहानी और अलग ही रहस्य है। इसी क्रम में आज हम आपको एक ऐसी मस्जिद के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका निर्माण एक राजा ने इस्लाम में परवर्तित होने के बाद कराया, और इस्लाम के संदेश को जन जन तक पहुँचाया। इस खास मस्जिद का नाम है चेरामन जुमा मस्जिद।

इस मस्जिद का निर्माण बताता है कि, भारत में इस्लाम का प्रवेश मुगलों से पहले ही हो गया था, साथ ही यहां ये भी देखा जा सकता है कि मुस्लिमों को स्थानीय लोगों का पूरा संरक्षण भी प्राप्त था, जो आज भी इस जगह देखा जा सकता है। इस मस्जिद में कई गैर-मुस्लिम भी इस श्रद्धा रखते। आइये कुछ जानते हैं कि इस खास मस्जिद के बारे में

कहां स्थित है चेरामन मस्जिद?

कहां स्थित है चेरामन मस्जिद?

केरल के कोडंगलूर से दो किमी की दूरी पर स्थित चेरामन जुमा मस्जिद मेथला गांव में स्थित है। आपको बता दें, यह मस्जिद भारत की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद है।Pc:Shahinmusthafa

भारत की पहली मस्जिद, राजा ने कराया निर्माण

भारत की पहली मस्जिद, राजा ने कराया निर्माण

जी हां, भारत की पहली मस्जिद का निर्माण एक राजा ने कराया था। कहा जाता है कि, एक रात राजा ने सपने में चांद के दो टुकड़ों को देखा, जब उसने अपने इस सपने की बात अप्टन अरब व्यापारी मीटर को बतायी तो उसने कहा कि, यह पैगम्बर का एक संदेश है। इतना सुनते ही राजा ने मदीना जाने का निश्चय किया और वहां जाकर अपना धर्म परिवर्तन कर लिया।Pc:Challiyan

रास्ते में ही हो गयी मौत

रास्ते में ही हो गयी मौत

धर्म परिवर्तन करने के बाद जब राजा वापसी पर था, लेकिन दुर्भाग्यवस उसकी मृत्यु हो गयी। हालांकि मदीना जाने से पहले वह अपने मित्र मलिक बिन दीनार से अपनी जमीन पर मस्जिद बनाने की हिदायत देकर जाता है, और इस्लाम को जनजन पहुँचाने का जिम्मा सौंपता है। जिसके बाद कोडनघल्लुर में राजा के नाम पर मस्जिद का निर्माण हुआ।Pc:officialy page

मंदिर की स्टाइल में बनी है मस्जिद

मंदिर की स्टाइल में बनी है मस्जिद

इस मस्जिद का आकार और निर्माण केरल में स्थित हिंदू मंदिर की कला और वास्तुशिल्प के आधार पर किया गया है। यह मस्जिद अलग-अलग धर्मो का अद्भुत संगम है। कुछ खास कोण से देखने पर यह एक मंदिर लगता है। दक्षिण के मंदिरों की तर्ज पर मस्जिद में एक तालाब भी है।
Pc:Kerala Tourism

जलता रहता है एक दिया

जलता रहता है एक दिया

इस मस्जिद के केंद्र में तेल का एक जलता हुआ दिया रखा गया है। सभी धर्मों और विश्वासों के लोग पवित्र उत्सवों पर इस दिए के लिए तेल लाते हैं। मस्जिद के अंदर तेल से जलने वाले पीतल के दिए रखे गए हैं जो इस मस्जिद की वास्तुकला को सुंदरता प्रदान करते हैं। यहाँ शीशम का एक मंच है जिस पर शानदार नक्काशी की गई है। मस्जिद के अंदर सफ़ेद संगमरमर का एक टुकड़ा रखा गया है जो माना जाता है कि मक्का से लाया गया है।Pc:നിരക്ഷരൻ

पीएम मोदी और पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम ने भी मांगी है यहां दुआ

पीएम मोदी और पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम ने भी मांगी है यहां दुआ

इस मस्जिद में दुआ मांगने के लिए पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम और प्रधानमंत्री मोदी भी पहुंच चुके हैं। इतना ही नहीं पीएम मोदी ने सऊदी अरब के राजा सलमान बिन अब्दुल अजीज चेरामन जुमा मस्जिद की स्वर्ण अलंकृत प्रतिकृति उपहार स्वरुम भेंट की थी।Pc:Challiyan

केरल के 5 सबसे अच्छे पर्यटक स्थल

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स