• Follow NativePlanet
Share
» »छठ पूजा 2017: भारत के खास सूर्य मन्दिरों की सैर

छठ पूजा 2017: भारत के खास सूर्य मन्दिरों की सैर

Written By: Goldi

छठ पूजा के अवसर पर सूर्य की आराधना की जाती है...भक्त धन्यवाद करने के साथ-साथ स्वास्थ्य और खुशी के लिए भगवान से प्रार्थना करते हैं। इस दौरान कई भक्त भगवान की उपासना के व्रत पूजा आदि भी करने के साथ साथ देश के प्रमुख सूर्य मन्दिरों की यात्रा भी करते हैं।

कार्तिक शुक्ल की षष्ठी के पावन उत्सव, छठ पर्व का उत्तर भारत में उल्लास!

हिन्दू पौराणिक कथा के मुताबिक,छठ का उत्सव द्रौपदी और उनके पांच पतियों (पांडवों) द्वारा की गयी, जिसके दौरान उन्होंने सूर्य भगवान और उनकी पत्नी उषा से आरधना की थी।  तो इसी क्रम में आज हम आपको अवगत कराने जा रहे हैं, भारत के सूर्य मन्दिरों से

कोणार्क सूर्य मंदिर

कोणार्क सूर्य मंदिर

कोणार्क सूर्य मंदिर सूर्य देवता को समर्पित है। रथ के आकार में बनाया गया यह मंदिर भारत की मध्यकालीन वास्तुकला का अनोखा उदाहरण है। इस सूर्य मंदिर का निर्माण राजा नरसिंहदेव ने 13वीं शताब्दी में करवाया था। मंदिर अपने विशिष्ट आकार और शिल्पकला के लिए दुनिया भर में जाना जाता है।PC:G.-U. Tolkiehn

सूर्य मंदिर, गया

सूर्य मंदिर, गया

बिहार के गया शहर में सूर्य मंदिर प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर के 20 किलोमीटर उत्तर और रेलवे स्टेशन से 3 किलोमीटर दूर स्थित है। भगवान सूर्य को समर्पित यह मंदिर सोन नदी के किनारे स्थित है। दिपावली के छ: दिन बाद बिहार के लोकप्रिय पर्व छठ के अवसर पर यहां तीर्थयात्रियों की जबर्दस्त भीड़ होती है। इस अवसर पर यहां मेला भी लगता है।

सूर्य मंदिर,नालंदा

सूर्य मंदिर,नालंदा

नालंदा का प्रसिद्ध सूर्य धाम औंगारी और बडग़ांव के सूर्य मंदिर देश भर में प्रसिद्ध हैं। ऐसी मान्यता है कि यहां के सूर्य तालाब में स्नान कर मंदिर में पूजा करने से कुष्ठ रोग सहित कई असाध्य व्याधियों से मुक्ति मिलती है। प्रचलित मान्यताओं के कारण यहां छठ व्रत करने बिहार के कोने-कोने से ही नहीं, बल्कि देश भर के श्रद्धालु यहां आते हैं।

सूर्य मंदिर,जम्मू

सूर्य मंदिर,जम्मू

दक्षिण कश्मीर के मार्तण्ड के प्रसिद्ध सूर्य मंदिर के प्रतिरूप का सूर्य मंदिर जम्मू में भी बनाया गया है। मंदिर मुख्यत: तीन हिस्सों में बना है। पहले हिस्से में भगवान सूर्य रथ पर सवार हैं जिसे सात घोड़े खींच रहे हैं। दूसरे हिस्से में दुर्गा गणेश कार्तिकेय पार्वती और शिव की प्रतिमा है और तीसरे हिस्से में यज्ञशाला है। हिन्दू मिथक के अनुसार मार्तण्ड कश्यप ऋषि के तीसरे बेटे का जन्म स्थान है।PC:Divya Gupta

देव सूर्य मंदिर,औरंगाबाद

देव सूर्य मंदिर,औरंगाबाद

यह बिहार के देव (औरंगाबाद जिला) में स्थित सूर्य मंदिर है। यह मंदिर पूर्वाभिमुख ना होकर पश्चिमाभिमुख है। यह मंदिर अपनी अनूठी शिल्पकला के लिए प्रख्यात है। पत्थरों को तराश कर बनाए गए इस मंदिर की नक्काशी उत्कृष्ट शिल्प कला का नमूना है। यहाँ छठ पर्व के अवसर पर भारी भीड़ उमड़ती है।PC: official site

 सूर्य मंदिर रांची

सूर्य मंदिर रांची

रांची से 39 किलोमीटर की दूरी पर रांची टाटा रोड़ पर स्थित यह सूर्य मंदिर बुंडू के समीप है 7 संगमरमर से निर्मित इस मंदिर का निर्माण 18 पहियों और 7 घोड़ों के रथ पर विद्यमान भगवान सूर्य के रूप में किया गया है। 25 जनवरी को हर साल यहां विशेष मेले का आयोजन होता है।PC: Ritikag

रनकपुर सूर्य मंदिर

रनकपुर सूर्य मंदिर

राजस्थान के रणकपुर नामक स्थान में अवस्थित यह सूर्य मंदिर, नागर शैली मे सफेद संगमरमर से बना है। भारतीय वास्तुकला का अनुपम उदाहरण प्रस्तुत करता यह सूर्य मंदिर जैनियों के द्वारा बनवाया गया था जो उदयपुर से करीब 98 किलोमीटर दूर स्थित है।PC:Acred99

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स