» »गर्लफ्रेंड का हाथ थामकर बोटिंग का मजा ले हिमायत सागर झील में

गर्लफ्रेंड का हाथ थामकर बोटिंग का मजा ले हिमायत सागर झील में

Written By: Goldi

झील के किनारे बैठकर पानी की लहरों से टकराती हुई ठंडी हवा को महसूस करना वाकई में एक अलग ही एहसास देता है..अगर आप भी कुछ ऐसा ही महसूस करना चाहते हैं तो एक बार हैदराबाद स्थित हिमायत सागर झील की सैर अवश्य करें।

उस गुजरात की तस्वीरें, जिसके विकास के दम पर मोदी बने प्रधानमंत्री

निजामों के शहर हैदराबाद एक ऐतिहासिक कृत्रिम झील का घर है, जो आपके लिए वीकेंड के दौरान और यूं ही घूमने के लिए बेस्ट जगह है। इस झील का निर्माण 20वीं शताब्दी में अंतिम निजाम के समय हुआ था। आज भी इस झील का इस्तेमाल पानी के सरंक्षण के रूप में किया जाता है। इस झील के पास मूसी नदी भी स्थित है।

आईटी, सॉफ्टवेयर और कम्प्यूटर के अलावा भी बहुत कुछ हैं कर्नाटक में, देखें तस्वीरें

हिमायत सागर नामक झील हैदराबाद के निजाम के साहबजादे हिमायत के नाम पर है जो 85 वर्ग कि.मी. के विशाल क्षेत्र में फैली हुई है। इस झील को सुंदर पर्यटन स्थल में परिवर्तित करने में उस समय 93 लाख रुपये का व्यय हुआ था।

हैदरबाद से कितनी दूर है?

हैदरबाद से कितनी दूर है?

हिमायत सागर झील निजामों के शहर हैदराबाद से करीबन 20 किमी की दूरी पर है। पर्यटक यहां कभी भी छुट्टी मनाने पहुंच सकते हैं।

Pc:Nagaraju raveender

खूबसूरत नजारा

खूबसूरत नजारा

हिमायत झील काफी दूर तक फैली है, जो एक बेहद ही खूबसूरत नजारा प्रदान करती है..यहां झील के खूबसूरत नजारों को एन्जॉय करने के अलावा बोटिंग,साइकलिंग,आदि का लुत्फ भी लिया जा सकता है।

pc:J.M.Garg

नेहरु जूलॉजिकल पार्क

नेहरु जूलॉजिकल पार्क

यह झील नेहरु जूलॉजिकल पार्क के पास स्थित है..जहां आप विल्फ लाइफ सफारी का लुत्फ उठा सकते हैं। इस जू में जानवर, सरीसृप और पक्षियों की कई प्रजातियां पाई जाती हैं। इनमें बाघ, चीता, एशियाई शेर, अजगर, वनमानुष, मगरमच्छ, चिकारा, हिरन और भारतीय गेंडे प्रमुख हैं।यहां सफारी और हाथी की सवारी का नियमित आयोजन किया जाता है। जू के परिसर में एक म्यूजियम भी है।

pc: Rameshng

कैसे पहुंचे झील?

कैसे पहुंचे झील?

गर्लफ्रेंड, दोस्तों और परिवार के साथ इस झील के किनारे आराम से छुट्टी के दिन को एन्जॉय किया जा सकता हैं। झील तक पहुँचने का सबसे बेस्ट तरीका है ..कार द्वारा या फिर कैब द्वारा जाना। हैदराबाद से नेशनल हाइवे 44 से होते हुए इस झील तक आसानी से पहुंचा जा सकता है।

कब आयें ?

कब आयें ?

किसी भी खूबसूरत शाम को अगर आपको और भी हसीन बनाना हो तो बेहिचक गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड के साथ यहां जाया जा सकता है। वीकेंड के दौरान यहां बहुत भीड़ रहती है।अगर आप भीड़भाड़ से बचना चाहते हैं..तो यहां सप्ताह के दिनों में हर छीज का ढंग से लुत्फ उठाया जा सकता है।