» »स्मारकीय भारत: प्रसिद्ध चारमीनार के प्रमुख दिलचस्प तथ्य!

स्मारकीय भारत: प्रसिद्ध चारमीनार के प्रमुख दिलचस्प तथ्य!

Written By: Tripti Verma

निज़ामों के शहर, हैदराबाद की यात्रा करने के दो मुख्य कारण हैं, पहला चारमीनार और दूसरा हैदराबादी बिरयानी। अगर आप इस शहर की यात्रा में आए हैं और यहाँ के चारमीनार को नहीं देखा तो आपकी हैदराबाद की यात्रा अधूरी है।

यह चौकोर आकार का स्मारक हैदराबाद का प्रमुख लैंडमार्क है। हैदराबाद का ही एक और प्रमुख स्मारक, मक्का मस्जिद इस चारमीनार से साफ दिखाई देता है। यह स्मारक क़ुलि क़ुतुब शाह के राज में यहाँ स्थापित किया गया, जब उनकी राजधानी गोलकोंडा से हैदराबाद में स्थानांतरित हुई।

Charminar

चारमीनार
Image Courtesy:
 Soham Banerjee  

चारमीनार नाम दो शब्दों 'चार' और 'मीनार' को जोड़ कर बनाया गया है, जिसका शाब्दिक अनुवाद है 'चार खंभे'। चलिए हम इस अद्भुत स्मारक के बारे में कुछ दिलचस्प तथ्यों को जानते हैं।

1. चार मीनारें

चार मीनार की चार मीनारें मुस्लिम समुदाय के चार खलिफायों को दर्शाती हैं। हर एक मीनारों में चार मंज़िल हैं।

Charminar

चार मीनार की मीनार का शीर्ष
Image Courtesy: Bernard Gagnon  

2. शहर नियोजन

सबसे दिलचस्प बात इस शहर की यह है कि हैदराबाद शहर को बसाने की योजना चारमीनार के चारों तरफ ही की गयी थी। जिसमें दो मुख्य सड़कें एक दूसरे को विभाजित करती हैं और वे सड़कें उत्तर से दक्षिण की ओर व पूर्व से पश्चिम की ओर जाती हैं।

3. मीनार की उँचाई तक पहुँचने के लिए

आपको मीनार के शीर्ष तक पहुँचने के लिए 149 कदमों की घुमावदार सीढ़ियों पर चढ़ना होगा, उनको पार करने के बाद आप इसके शीर्ष तक पहुँचेंगे।

Charminar

मीनारों पर लगी हुई दीवार घड़ी
Image Courtesy: Bernard Gagnon

4. मीनार की दीवारें

मीनार के हर एक मीनारों में विशाल मेहराब बने हुए हैं, जो 11 मीटर चौड़े और 20 मीटर उँचें हैं। उन हर मेहराबों में दीवार घड़ी लगी हुई हैं जिन्हें यहाँ सन् 1889 में लगाया गया था।

5. चारमीनार के आसपास के बाज़ार

चारमीनार के आसपास लाद बाज़ार, इत्तर बाज़ार, नगीना बाज़ार, पक्षी बाज़ार और शाहरान बाज़ार स्थित हैं।

Charminar

चारमीनार के छायाचित्र का अद्भुत दृश्य
Image Courtesy: Tabrez Syed 

6. मीनार की वास्तुकला की शैली
मीनारों को ग्रेनाइट पत्थरों और मोर्टार के चुना पत्थरों को मिला कर बनाया गया है, जिनमें काज़िया शैली की वास्तुकला का उपयोग किया गया है।

7. स्मारक के अंदर का मस्जिद
चारमीनार के दूसरे मंज़िल में मस्जिद स्थापित है।

Charminar

दूसरे मंज़िल में स्थित मस्जिद
Image Courtesy: Masjid E Charminar 

8. चारमीनार का मुख्य परिसर
स्मारक के मुख्य परिसर में 45 प्रार्थना स्थल हैं जो पूरी तरह से कवर किए हुए हैं। इस स्मारक के बिल्कुल सामने ही विशाल खुला हुआ भाग है, जहाँ शुक्रवार के दिन बहुत सारे लोग एक साथ बैठ कर नमाज़ पढ़ सकते हैं।

9. भूमिगत सुरंग
ऐसा कहा जाता है कि यहाँ एक भूमिगत सुरंग भी खुदी हुई है जो चारमीनार को गोलकोंडा किले से जोड़ती है। इस सुरंग को किसी आपातकाल स्थिति में राजसी परिवार के लिए पलायन मार्ग की तरह उपयोग में लाया जाता था, पर आज तक सुरंग के जगह का पता नहीं चल पाया है।

Charminar

रात के समय चारमीनार का चमकता नज़ारा
Image Courtesy: Sumeetrajendrabhavsar 

10. चारमीनार में मंदिर

कहा जाता है कि चारमीनार के आधार पर एक मंदिर भी स्थापित था जिसपर कई विवाद हुए। इस मंदिर की रचना को सन् 1990 से सन् 1994 में लिए गये तस्वीरों में देखा जा सकता है।

अपने महत्वपूर्ण सुझाव व अनुचव नीचे व्यक्त करें।

Read in English: Monumental India: Interesting Facts About Charminar

Click here to follow us on facebook.

Please Wait while comments are loading...