» »देश की राजधानी, दिल्ली से जुड़ी 18 दिलचस्प बातें!

देश की राजधानी, दिल्ली से जुड़ी 18 दिलचस्प बातें!

Written By:

दिल्ली हमेशा से ही हर बार ख़बरों में सबसे शीर्ष पर रहती है, चाहे वह कोई राजनितिक मुद्दा हो या यहाँ की सुरक्षा का मुद्दा, चाहे वो यहाँ के पर्यावरण का मुद्दा हो या शिक्षा का। हर बार एक नए मुद्दे के साथ दिल्ली आपको हर न्यूज़ चैनल, अख़बारों में सबसे पहले नज़र आएगी। जैसा कि अभी हाल ही का समाचार खूब लोगों के बीच प्रचलित रहा और दिल्ली का एक अहम् मुद्दा भी, दिल्ली स्मॉग(दिल्ली धुंध) का मुद्दा।

इस समाचार की वजह से पर्यटकों के बीच भी सनसनी फ़ैल गई। पर अब घबराने की कोई बात नहीं है, अब यहाँ फिर से दिल्ली की आकर्षकता पटरी पर आ रही है और यह समस्या दूर हो रही है। इन्हीं सारी चिंताओं को दूर कर चलिए जानते हैं दिल्ली से जुड़ी कुछ ऐसी बातों को जो इसे एक आदर्श शहर और राजधानी बनाती है। कई सारे मुद्दों और विवादों के बावजूद दिल्ली ने हमेशा से ही पर्यटकों के बीच अपनी लोकप्रियता बनाई रखी है। जो एक बार दिल्ली में जाता है वह वहीं का हो जाता है। ऐसा मैं नहीं कहती, यह मेरा निजी अनुभव कहता है !

इन सब मुद्दों और विवादों के अलावा आप दिल्ली को इसके ऐतिहासिक स्मारकों और विरासतों के लिए जानते होंगे। पर क्या कभी आपने दिल्ली को इस तरह भी जाना है? नहीं ना! तो कोई बात नहीं, चलिए आज हम आपको दिल्ली की कुछ ऐसी खास चीजों और बातों से अवगत करते हैं जो इसे और भी दिलचस्प जगह बनाती हैं।

 दीवारों से घिरा शहर

दीवारों से घिरा शहर

किसी ज़माने में दिल्ली दीवारों का शहर हुआ करता था, जहाँ 14 मजबूत दीवारों वाले गेट हुआ करते थे। अब इन 14 गेटो में से सिर्फ 5 गेट अस्तित्व में हैं। ये ऐतिहासिक गेट हैं; अजमेरी गेट, कश्मीरी गेट, लाहौरी गेट, दिल्ली गेट और तुर्कमान गेट।

Image Courtesy:Nvvchar

सन् 1931 से राजधानी

सन् 1931 से राजधानी

इतिहास में दिल्ली कई राजवंशों की राजधानी रही है। भारत की नई राजधानी 'नई दिल्ली' सन् 1911 में ब्रिटिश सम्राट जॉर्ज 5 द्वारा घोषित कर दी गई थी, पर नई दिल्ली ने सन् 1931 से पूरी तरह राजधानी के रूप में कारभार संभाला।

Image Courtesy:Tim Moffatt

सबसे बड़ा शहर

सबसे बड़ा शहर

दिल्ली क्षेत्रफल के हिसाब से भारत का सबसे बड़ा शहर भी है। इसका क्षेत्रफल लगभग 1484 वर्ग किलोमीटर है।

Image Courtesy:A.Savin

दिल्ली, नाम की उत्पत्ति

दिल्ली, नाम की उत्पत्ति

कुछ महान लोगों के अनुसार दिल्ली का यह नाम, राजा ढिल्लू के नाम पर पड़ा जिन्होंने इस क्षेत्र में लगभग 50 ईसा पूर्व राज किया था। जबकि कुछ अन्य दिग्गजों के अनुसार यह शब्द प्राकृत भाषा के शब्द की ओर इशारा करता है, जिसका इस्तेमाल तोमारस(प्राचीन शासकों) द्वारा किया जाता था।

Image Courtesy:Panoramas

पौराणिक कथाओं से संबंध

पौराणिक कथाओं से संबंध

कहा जाता है कि दिल्ली क्षेत्र, महाभारत के इंद्रप्रस्थ शहर से सम्बंधित है, जिसके अनुसार यह पांडवों की राजधानी हुआ करती थी।

Image Courtesy:Kartikeya Kaul

इको-फ्रेंडली शहर

इको-फ्रेंडली शहर

नई दिल्ली में पूरी परिवहन प्रणाली, संपीडित प्राकृतिक गैस(सी एन जी) पर चलती है जिसकी वजह से यहाँ वायु प्रदुषण को कुछ हद तक काबू किया जाता है।

Image Courtesy:Ramesh NG

एशिया का सबसे बड़ा मसालों का बाज़ार

एशिया का सबसे बड़ा मसालों का बाज़ार

दिल्ली का खड़ी बाओली बाज़ार एशिया का सबसे बड़ा मसलों का बाज़ार है जहाँ आपको कई अलग-अलग मसाले अलग-अलग रंग के, वाजिब दामों में मिल जायेंगे। अगर आपको मसलों के कुछ नए रंग और नए स्वादों को जानना है तो यही वह जगह है।

Image Courtesy:Jon Connell

हरा-भरा शहर

हरा-भरा शहर

देश की राजधानी दिल्ली, देश के सबसे हरे-भरे शहरों में से भी एक है। यहाँ का लगभग 20% भाग हरियाली से ढका हुआ है।

Image Courtesy:Leon Yaakov

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद

जामा मस्जिद जिसे मुग़ल शासक शाह जहाँ द्वारा सन् 1644 से 1656 के बीच बनवाया गया था, भारत की सबसे बड़ी मस्जिद के रूप में प्रसिद्द है।

Image Courtesy:Jorge Royan

इकलौता बहाई मंदिर

इकलौता बहाई मंदिर

दिल्ली का कमल मंदिर, दुनिया के 8 प्रसिद्द बहाई मंदिरों में से एक है। भारत के अलावा पुरे एशिया में यह इकलौता बहाई मंदिर है।

Image Courtesy:Wiki-uk

क़ुतुब-उद-दीन-ऐबक का सपनों का मीनार

क़ुतुब-उद-दीन-ऐबक का सपनों का मीनार

क़ुतुब-उद-दीन-ऐबक द्वारा बनवाया गया क़ुतुब मीनार दुनिया का सबसे ऊँचा ईंटों से बनाया गया मीनार है। मोहाली के फ़तेह बुर्ज के बाद यह दुनिया का दूसरा सबसे ऊँचा मीनार भी है।

Image Courtesy:chopr

आज़ादपुर बाज़ार

आज़ादपुर बाज़ार

दिल्ली के आज़ादपुर में एक थोक बाज़ार है, जिसे पूरे एशिया में फलों और सब्ज़ियों का सबसे बड़ा बाज़ार कहा जाता है।

Image Courtesy:Scott Dexter

नेशनल रेल म्यूज़ियम

नेशनल रेल म्यूज़ियम

दिल्ली के चाणक्यपुरी में राष्ट्रीय रेल संग्रहालय है जिसमें रेल विरासत की प्रदर्शिनी की गई है। एक टॉय ट्रेन द्वारा पर्यटकों को पूरे संग्रहालय की सैर कराई जाती है।

Image Courtesy:Sandeep Suresh

 देश का विचित्र संग्रहालय

देश का विचित्र संग्रहालय

दिल्ली का सुलभ शौचालय अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय, अपने तरह का एक विचित्र संग्रहालय है जहाँ आप यहाँ की प्रदर्शिनी देख ज़रूर आश्चर्य हो जायेंगे। यह दुनिया में अपनी तरह का एक विचित्र संग्रहालय है।

Image Courtesy:Ajay Tallam

 दिल्ली की लाइफ़ लाइन

दिल्ली की लाइफ़ लाइन

साल 2014 में दिल्ली मेट्रो को दुनिया के दूसरे सबसे प्रसिद्द सिस्टम का स्थान मिला था। यह यहाँ के निवासियों की जीवन रेखा और देश की सबसे बड़ी मेट्रो सुविधा है।

Image Courtesy:Yusuke Kawasaki

पक्षी प्रेमियों का स्वर्ग भी

पक्षी प्रेमियों का स्वर्ग भी

दिल्ली रिड्ज,जंगल क्षेत्र पक्षियों की कई विभिन्न जातियों का वास स्थल है। इसलिए केन्या के नैरोबी शहर के बाद, नई दिल्ली दुनिया की दूसरी पक्षी से सबसे समृद्ध राजधानी है।

Image Courtesy:Ronit Bhattacharjee

कई ईसा पूर्व पहले का अशोक स्तम्भ

कई ईसा पूर्व पहले का अशोक स्तम्भ

दिल्ली के फ़िरोज़ शाह कोटला में तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व का अशोक स्तम्भ खड़ा है। सम्राट फ़िरोज़ शाह तुग़लक़ इस 27 टन स्तम्भ को अंबाला के तोपर से दिल्ली लाये थे, जहाँ महान सम्राट अशोक ने इसे बनवाया था।

Image Courtesy:Samuel Bourne

किसी ज़माने में गाँव

किसी ज़माने में गाँव

दिल्ली के आज के रिहायशी इलाके विलिंग्डन क्रेसेंट(लुट्येन्स दिल्ली), कनॉट प्लेस और लोधी गार्डन पहले दिल्ली में नहीं गिने जाते थे, ये अन्य गाँवों के अन्तर्गत आते थे।

Image Courtesy:Ville Miettinen

Please Wait while comments are loading...