Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »Diwali Special! ये हैं भारत के 7 प्रसिद्ध राम मंदिर, जानें क्या है इनकी कहानी

Diwali Special! ये हैं भारत के 7 प्रसिद्ध राम मंदिर, जानें क्या है इनकी कहानी

भगवान राम का मंदिर इन दिनों भारत के लिए खासा चर्चा का विषय बना हुआ है। राम जन्मभूमि अयोध्या नगरी में बन रहे भगवान राम का मंदिर दुनिया का सबसे भव्य मंदिर होने वाला है। इस मंदिर के केंद्र व राज्य सरकार हजारों करोड़ रुपये खर्च कर रही है। लेकिन बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि भगवान राम का भव्य मंदिर अयोध्या के अलावा भी कहीं और है।

देखा जाए तो राम मंदिर पूरे भारत के कई जगह है और मंदिरों में आपको भगवान राम का मंदिर भी देखने को मिल जाएगा, जहां शायद आप गए भी होंगे। लेकिन आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से उन राम मंदिरों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो भारत के सबसे प्रसिद्ध और ऐतिहासिक मंदिरों में से एक है। इनमें से एक मंदिर ऐसा भी है, जहां प्रभु श्रीराम राजा के रूप में पूजे जाते हैं।

राम राजा मंदिर, मध्य प्रदेश

राम राजा मंदिर, मध्य प्रदेश

राम राजा मंदिर भारत का एकमात्र ऐसा मंदिर है, जहां प्रभु श्रीराम राजा के रूप में पूजे जाते हैं। इस मंदिर का निर्माण भी एक किले के रूप में किया गया है। इस मंदिर राजा राम को हर दिन गार्ड ऑफ ऑनर (शस्त्र सलामी) दिया जाता है। इस मंदिर में पहरेदार के रूप में पुलिसकर्मी रहते हैं, जो मंदिर के बाहर तैनात रहते हैं। यह भारत के सबसे प्रसिद्ध राम मंदिरों में से एक है।

कलाराम मंदिर, नासिक

कलाराम मंदिर, नासिक

नासिक के पंचवटी में स्थित कलाराम मंदिर भारत के सबसे खूबसूरत मंदिरों में से एक है। इस मंदिर का नाम मंदिर में विराजित भगवान राम की मूर्ति के कारण पड़ा। दरअसल, मंदिर में भगवान राम की 2 फीट ऊंची प्रतिमा है, जो काली है। प्रभु राम के अलावा मंदिर में माता सीता और लक्ष्मण की मूर्तियां भी है। इस मंदिर का निर्माण सरदार रंगारू ओधेकर ने किया था, उन्हें एक स्वप्न आया था कि प्रभु राम की एक काली मूर्ति गोदावरी नदी में है, जिसे उन्होंने अगले दिन नदी से निकालकर मंदिर का निर्माण करवाया था।

रघुनाथ मंदिर, जम्मू

रघुनाथ मंदिर, जम्मू

जम्मू में स्थित रघुनाथ मंदिर उत्तर भारत के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। इस परिसर में सात अन्य मंदिर भी है, अन्य देवी-देवताओं के हैं। इस मंदिर में हर हिंदू पंथ के आकर्षक चित्रों को दर्शाया गया है, जिसे अन्य मंदिरों में नहीं देखा जा सकता है। इस मंदिर की बनावट कुछ-कुछ मुगल वास्तुकला से भी मिलती है

सीता रामचंद्रस्वामी मंदिर, तेलंगाना

सीता रामचंद्रस्वामी मंदिर, तेलंगाना

तेलंगाना के भद्राद्री कोठागुडेम जिले के भद्राचलम में स्थित सीता रामचंद्रस्वामी मंदिर भारत के सबसे प्रसिद्ध राम मंदिर में से एक है, जिसका इतिहास भी भगवान राम से संबंधित है। कहा जाता है कि जिस स्थान पर मंदिर है, वहां गोदावरी नदी बहती है। इसी पावन स्थान पर भगवान राम ने माता सीता की खोज में गोदावरी नदी पार की थी। मंदिर में स्थापित प्रभु श्रीराम की मूर्ति बेहद आकर्षक है, जिसमें भगवान राम के हाथों में धनुष-बाण लिए नजर आते हैं और साथ में माता सीता की भी मूर्ति है, जिनके हाथ कमल प्रदर्शित होता है।

रामास्वामी मंदिर, तमिलनाडु

रामास्वामी मंदिर, तमिलनाडु

दक्षिण के सबसे खूबसूरत मंदिरों में शामिल रामास्वामी मंदिर तमिलनाडु के कुंभकोणम में स्थित है। इस मंदिर में जबरदस्त नक्काशी की गई है, जो रामायण के कथाओं को दर्शाती है, आने वाले श्रद्धालुओं और पर्यटकों को काफी आकर्षित करती हैं। ये भारत का एकमात्र मंदिर है, जहां भगवान राम, माता सीता व लक्ष्मण के साथ भरत और शत्रुघ्न की भी मूर्ति है। मंदिर परिसर में तीन और भी मंदिर है- अलवर सन्नथी, श्रीनिवास सन्नथी और गोपालन सन्नथी हैं। जब भी आप इस मंदिर की ओर रूख करें, इन तीनों मंदिरों को देखना ना भूलें, ये तीनों मंदिर भी बेहद आकर्षक है।

त्रिप्रयार श्री राम मंदिर, केरल

त्रिप्रयार श्री राम मंदिर, केरल

त्रिशूर जिले में स्थित त्रिप्रयार श्री राम मंदिर केरल के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है, जिसकी बेहद ही आकर्षक और रोचक कहानी है। ऐसी मान्यता है कि त्रिप्रयार मंदिर में प्रभु श्रीराम की जो मूर्ति रखी गई है, उसे पूजा स्वयं भगवान श्रीकृष्ण किया करते थे। कहा जाता है कि इस मंदिर में दर्शन करने के लिए एक बार जो भी भक्त आ जाता है, वो बुरी आत्माओं से हमेशा के लिए मुक्त हो जाता है। इस मंदिर में एकादशी उत्सव काफी धूमधाम से मनाया जाता है।

अयोध्या राम मंदिर, उत्तर प्रदेश

अयोध्या राम मंदिर, उत्तर प्रदेश

अयोध्या का राम मंदिर हमेशा से ही सभी हिंदुओं के लिए भारत का सबसे प्रमुख मंदिर रहा है, क्योंकि ये भगवान श्रीराम की जन्मभूमि है। ऐसे में यहां का मंदिर विशेष न हो, ऐसा हो ही नहीं सकता। राम नगरी में फिलहाल देश का सबसे बड़ा मंदिर बन रहा है, जिसके मुख्य देवता प्रभु श्रीराम होंगे। कहा जा रहा है कि इस मंदिर अगले साल के अंत तक तैयार कर लिया जाएगा और मदिर का उद्घाटन साल 2024 जनवरी में मकर संक्रांति के दिन किया जाएगा और भक्त प्रभु के दर्शन कर सकेंगे।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X